Sunday, May 16, 2021
Home दुनिया भारतीय मूल के अमेरिकी रिपब्लिकन राजमार्ग आयुक्त पद के लिए चुनाव लड़ेंगे

भारतीय मूल के अमेरिकी रिपब्लिकन राजमार्ग आयुक्त पद के लिए चुनाव लड़ेंगे

जितेंद्र ने कहा कि उनकी उम्मीदवारी महत्वपूर्ण है, क्योंकि मेन टाउनशिप कई अल्पसंख्यक समुदायों का घर है और उन्हें पूर्ण सुविधाएं प्राप्त नहीं हैं।

भारतीय मूल के अमेरिकी रिपब्लिकन जितेंद्र डिगेंवकर(Jitendra Digenvker), जिन्होंने 2016 में कांग्रेस के लिए चुनाव में भाग लिया था, उन्होंने अब घोषणा की कि वह शिकागो के एक उपनगर में राजमार्ग आयुक्त(Highway Commissioner) के पद के लिए चुनाव लड़ रहे हैं। एक मीडिया रिपोर्ट में यह जानकारी दी गई। अमेरिकन बाजार से बात करते हुए, 1999 में अमेरिका में आकर बसने वाले जितेंद्र ने कहा कि आयुक्त (कमिश्नर) की जिम्मेदारी उन्हें स्थानीय मुद्दों के समाधान के लिए सही मंच प्रदान करेगी।

जितेंद्र ने कहा कि उनकी उम्मीदवारी महत्वपूर्ण है, क्योंकि मेन टाउनशिप कई अल्पसंख्यक समुदायों(minorities) का घर है और उन्हें पूर्ण सुविधाएं प्राप्त नहीं हैं। स्थानीय चुनावों के लिए शुरुआती मतदान 22 मार्च से शुरू होगा। जितेंद्र के अलावा, अन्य भारतीय मूल के अमेरिकी स्मितेश शाह(Smitesh Shah) भी मैदान में हैं और वह भी एक रिपब्लिकन हैं, जो मेन टाउनशिप क्लर्क(Township Clerk) से चुनावी मैदान में हैं।

अमेरिकी राजनीति में भारतीय-अमेरिकियों(Indian-Americans) की बढ़ती उपस्थिति के बारे में, जितेंद्र ने अमेरिकन बाजार से कहा, “अमेरिकी उन सभी उम्मीदवारों का अधिक स्वागत कर रहे हैं, जो स्थानीय स्तर पर उनका प्रतिनिधित्व करने के लिए आगे आते हैं और वे भारतीय अमेरिकियों के लिए उच्च सम्मान रखते हैं।” जितेंद्र((Jitendra Digenvker)) ने कहा कि अगर वह जीत जाते हैं तो इससे समुदाय के लिए प्रतिनिधित्व बढ़ेगा। उन्होंने कहा, “यह स्थानीय सरकार में हमारे समुदाय का प्रतिनिधित्व करने का हमारा मौका भी होगा।”

यह भी पढ़ें: भारतीय-अमेरिकी समुदाय ने टेक्सस में ‘हंगर मिटाओ’ आंदोलन चलाया!

जितेंद्र(Jitendra Digenvker) से सवाल पूछा गया कि अगर वह निर्वाचित हो जाते हैं, तो उनकी प्राथमिकता क्या होगी, इस पर उन्होंने कहा, “मेरा पहला मुद्दा यह सुनिश्चित करना होगा कि हमारे सभी नागरिक अपनी कोविड-19 वैक्सीन जल्द से जल्द प्राप्त करें।”

इसके अलावा, उन्होंने कहा कि उनकी दूसरी प्राथमिकता यह है कि वह क्षेत्र की सड़कों और पुलों की समीक्षा करने और जरूरतमंदों के लिए सड़क पर उतरेंगे। उन्होंने यह बात इस संदर्भ में कही कि चूंकि इस साल अमेरिका में विशेष रूप से सर्दी का मौसम काफी खराब रहा है, जिससे लोगों को काफी असुविधा हुई है। वह इसके लिए जमीनी स्तर पर काम करना चाहते हैं।

उन्होंने कोविड-19(COVID-19) से लोगों को निजात दिलाने के लिए चिकित्सा और सुरक्षा को भी सबसे महत्वपूर्ण मुद्दों में से एक बताया, जिस पर वह काम करेंगे।(आईएएनएस-SHM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,635FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी