डायरेक्ट मैसेजेस में अभद्र भाषा पर नकेल कसने में जुटी “इंस्टाग्राम”

 निजी डायरेक्ट मैसेजेस में अभद्र भाषा पर नकेल कसने के अपने प्रयास में इंस्टाग्राम ने ऐलान किया है कि कंपनी ऐसे अकाउंट्स को रद्द कर देगी, जिनके माध्यम से उनके प्लेटफॉर्म पर दूसरों को घृणित संदेश भेजा जाएगा। वर्तमान में जब कोई डायरेक्ट मैसेज भेजता है, तो इसे नियमों के उल्लंघन के तहत लाया जाता है। कंपनी द्वारा उस व्यक्ति को एक निर्धारित समयावधि तक कोई और संदेश भेजने से रोका जाएगा।

इंस्टाग्राम ने बुधवार देर रात जारी अपने एक बयान में कहा, “अब अगर किसी ने नियमों का उल्लंघन करना जारी रखा, तो उसके अकाउंट को हम डिसेबल कर देंगे। मैसेजिंग को लेकर हमारे बनाए गए प्रतिबंधों से छुटकारा पाने के लिए बनाए गए नए अकाउंट्स को भी हम डिसेबल कर देंगे और हम उन अकाउंट्स को डिसेबल करना जारी रखेंगे, जिसके बारे में अगर हमने पाया कि उनका निर्माण गंदे शब्दों के आदान-प्रदान के लिए बनाया गया है।”

नियमों का उल्लंघन जारी रहा तो अकाउंट होंगे डिसएबल | (Unsplash)

इंस्टाग्राम ने कहा कि कई देशों में पर्सनल अकाउंट्स पर अधिक नियंत्रण की उन्होंने शुरुआत कर दी है और इसे जल्द से जल्द सभी के लिए उपलब्ध कराए जाने की उम्मीद जताई जा रही है।

यह भी पढ़े :- मुझे कोई आइडिया नहीं है कि मैं स्टार हूं भी या नहीं : पंकज त्रिपाठी

इंस्टाग्राम ने सूचित किया, “लोग अब किसी अंजान व्यक्ति से मेंशन या टैग किए जाने से बचने के लिए टर्न ऑफ के ऑप्शन का चुनाव कर सकते हैं और अनचाहे मैसेजेस से छुटकारा पाने के लिए किसी को ब्लॉक भी कर सकते हैं।” (आईएएनएस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here