Afghanistan: पत्रकारों पर लगा प्रतिबंध

Afghanistan: पत्रकारों पर लगा प्रतिबंध [IANS]
Afghanistan: पत्रकारों पर लगा प्रतिबंध [IANS]

न्यूज़ग्राम हिन्दी: Afghanistan के पत्रकारों ने दावा किया है कि तालिबान (Taliban) के नेतृत्व वाली सरकार ने देश में सुरक्षा घटनाओं को कवर करने से उन पर प्रतिबंध लगा दिया है।

एक ऑनलाइन मीडिया आउटलेट (Online Media Outlet) के लिए काम करने वाले पत्रकार जवाद एतिमाद ने कहा कि उन्हें काबुल शहर में एक विस्फोट को कवर करते हुए गिरफ्तार किया गया था और उन्होंने दो दिन हिरासत में बिताए। इसी क्रम में टोलो न्यूज ने एतिमाद के हवाले से कहा कि उन्होंने (तालिबान) मुझे फुटेज बनाने से रोका। उन्होंने मुझे लात मारी और मुक्का मारा और फिर उन्होंने मुझे गिरफ्तार कर लिया।

एक अन्य पत्रकार फरोघ फैज ने कहा कि जब भी किसी क्षेत्र में सुरक्षा की कोई घटना होती है तो वे उसे कवर करने जाते हैं। "लेकिन, दुर्भाग्य से हमें घटनाओं को कवर करने की अनुमति नहीं दी जा रही है।"

इस बीच, अफगानिस्तान नेशनल जर्नलिस्ट्स यूनियन ने कहा कि सूचना तक पहुंच पर प्रतिबंध स्वीकार्य नहीं है।

मीडिया वॉचडॉग के प्रमुख मसरूर लुत्फी ने टोलो न्यूज के हवाले से कहा, "मीडिया को फुटेज बनाने का अधिकार है। जब भी सूचना तक पहुंच पर प्रतिबंध होता है, तो यह सूचना तक पहुंच के कानून का उल्लंघन है।"

रिपोर्टर्स विदाउट बॉर्डर्स के अनुसार, तालिबान के पिछले साल अगस्त में फरवरी 2022 तक देश पर कब्जा करने के बाद से कम से कम 50 मीडियाकर्मियों को गिरफ्तार किया गया था।

इस साल की शुरूआत में, ह्यूमन राइट्स वॉच (Human Rights Watch) ने एक रिपोर्ट में कहा था कि अगस्त 2021 से अफगानिस्तान में अनुमानित 80 प्रतिशत महिला पत्रकारों ने अपनी नौकरी खो दी है या पेशा छोड़ दिया है, और सैकड़ों मीडिया आउटलेट बंद हो गए हैं।

आईएएनएस (PS)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com