सुएला ब्रेवरमैन ने दिया ब्रिटेन के गृह सचिव पद से इस्तीफ़ा, कहा सरकार के निर्देश से चिंतित

ब्रिटेन की गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैन ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया
ब्रिटेन की गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैन
ब्रिटेन की गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैनIANS

ब्रिटेन की गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैन (Suella Braverman) ने बुधवार को अपने पद से इस्तीफा दे दिया, उन्होंने अपने इस्तीफे की वजह  एक तकनीकी नियम में की गई गलती को बताया है जिसमें उन्होंने अपने एक संसदीय सहयोगी को कुछ आधिकारिक दस्तावेज भेजे थे। भारतीय मूल के ब्रेवरमैन हाल ही में इस बात को लेकर सुर्खियों में आई थी कि यूके-इंडिया एफटीए (UK-India FTA) से भारत से प्रवासियों की संख्या बढ़ेगी। उन्होंने कहा था- कई भारतीय वीजा अवधि खत्म होने के बाद भी ब्रिटेन नहीं छोड़ते जिससे दबाव बढ़ रहा है।

ब्रिटेन की गृह सचिव सुएला ब्रेवरमैन
प्रयोगशाला में उत्पन्न हुए Covid वायरस की 'आगे की जांच' जरूरी : WHO

प्रधानमंत्री लिज़ ट्रस (Liz Truss) को लिखे एक पत्र में, ब्रेवरमैन ने कहा कि मैंने अपने पर्सनल ईमेल से एक विश्वसनीय संसदीय सहयोगी को सरकारी नीति से जुड़े हिस्से के रूप में और प्रवासन पर सरकारी नीति के लिए समर्थन हासिल करने के उद्देश्य से एक आधिकारिक दस्तावेज भेजा था। उन्होंने आगे लिखा कि यह नियमों का तकनीकी रूप से उल्लंघन है। जैसा कि आप जानते हैं, दस्तावेज प्रवासियों के बारे में लिखित मंत्रिस्तरीय वक्तव्य का मसौदा था, जिसका प्रकाशन जल्द ही होने वाला था। इसमें से अधिकांश के बारे में सांसदों को पहले ही बता दिया गया था। फिर भी मेरे लिए इस्तीफा देना सही है।

सुएला ब्रेवरमैन
सुएला ब्रेवरमैनwikimedia

ब्रेवरमैन ने कहा कि जैसे ही मुझे अपनी गलती का एहसास हुआ, मैंने तुरंत आधिकारिक चैनलों पर इसकी सूचना दी और कैबिनेट सचिव को सूचित किया। गृह सचिव के रूप में मैं खुद को उच्चतम मानकों पर रखती हूं और मेरा इस्तीफा सही काम है। सरकार का बिजनेस अपनी गलतियों के लिए जिम्मेदारी स्वीकार करने वाले लोगों पर निर्भर करता है। मैंने गलती की है; मैं जिम्मेदारी स्वीकार करती हूं। मैं इस्तीफा दे रही हूं।

उन्होंने आगे कहा- न केवल हमने अपने मतदाताओं से किए गए प्रमुख वादों को तोड़ा है, बल्कि मुझे इस सरकार की घोषणापत्र प्रतिबद्धताओं को पूरा करने की प्रतिबद्धता के बारे में गंभीर चिंता है, जैसे कि समग्र प्रवासन संख्या को कम करना और अवैध प्रवास को रोकना।

आईएएनएस/RS

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com