Monday, May 10, 2021
Home दुनिया इस्लाम के जन्मस्थान से गूंजेगी राम नाम के सुर

इस्लाम के जन्मस्थान से गूंजेगी राम नाम के सुर

इस्लामिक देश सऊदी अरब में अब बच्चों को इतिहास के पाठ्यक्रम में रामायण, महाभारत और गौतम बुद्ध के विषय में पढ़ाया जाएगा साथ ही योग एवं आयुर्वेद भी।

इस्लामिक देश सऊदी अरब में अब बच्चों को इतिहास के पाठ्यक्रम में रामायण, महाभारत और गौतम बुद्ध के विषय में पढ़ाया जाएगा। यह निर्णय को ‘सऊदी विजन 2030’ को ध्यान में रख कर लिया गया है। सऊदी अरब में इस पाठ्यक्रम के साथ-साथ भारतीय संस्कृति और योग के विषय में भी पढ़ाया जाएगा। साथ ही ‘विजन 2030’ में अंग्रेजी भाषा को अनिवार्य किया गया है।

सऊदी के विजन को नऊफ-अल-मारवई ने जो की सऊदी में योगाचार्य हैं, उन्होंने एक ट्वीट को साझा करते हुए इसकी पुष्टि की है। उन्होंने लिखा, “सऊदी अरब का नया विजन-2030 और पाठ्यक्रम सबको साथ लेकर चलने वाला, उदारवादी और सहिष्णु भविष्य बनाने में मदद करेगा। सामाजिक अध्ययन की पुस्तक में आज मेरे बेटे की स्कूल परीक्षा के स्क्रीनशॉट में हिंदू धर्म, बौद्ध धर्म, रामायण, कर्म, महाभारत और धर्म की अवधारणाएँ और इतिहास शामिल हैं। मुझे उसकी पढ़ाई में मदद करने में मजा आया।

सऊदी अरब के इस फैसले से देश के लिबराधारियों को अपना अस्तित्व खतरे में नजर आ रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि जब इस्लामिक देश में ही राम नाम गूंजेगा, तो भारत में कौन उनपर प्रश्नचिन्ह खड़ा कर पाएगा। अभी तक किसी लिब्रलधारी मीडिया ने इस खबर को नहीं छापा है, और इस पर किसी प्रकार की टिप्पणी को भी जाहिर नहीं किया है।

बहरहाल सऊदी का यह फैसला ऐसे समय पर आया है, जब राम मंदिर निर्माण का कार्य जोरों पर है और पश्चिम बंगाल में जय श्री राम का नारा हर तरफ गूंज रहा है।

यह भी पढ़ें: क्या भगवान हनुमान जी का जन्म तिरूमला के पर्वतों में हुआ था?

रामायण एवं महाभारत को भारत में और खासकर हिन्दू धर्म में पवित्र ग्रंथ माना गया है। रामायण एवं महाभारत जीवन के आने वाली कठिनाइयों और कई अनसुलझे सवालों के जवाब हैं, जिनका अध्ययन कर मनुष्य कई बाधाओं से मुक्त हो जाता है। तीन साल के गहन शोध के पश्चात यह ज्ञात हुआ था कि रामायण एवं महाभारत मिथ्या नहीं एक अटल सत्य है। इनमें घटी घटनाएं अधिकांश लोगों के साथ घटित होती हैं, जिनका सामना कैसे करें यह भी बताया गया है।

सऊदी अरब द्वारा लिए गए इस फैसले की सराहना कई रामभक्त एवं विद्वान कर रहे हैं। इसी कड़ी में रामानंद सागर द्वारा निर्मित रामायण में लक्ष्मण का किरदार निभाने वाले अभिनेता सुनील लहरी ने भी अपने इंस्टाग्राम पोस्ट में इस फैसले पर खुशी जताते हुए लिखा कि ” हम सभी हिन्दुस्तानियों के लिए यह गर्व की बात है कि, सऊदी अरब ने रामायण को अपने पाठ्यक्रम का हिस्सा बनाया…”

POST AUTHOR

Shantanoo Mishra
Poet, Writer, Hindi Sahitya Lover, Story Teller

जुड़े रहें

7,640FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी