Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
खेल
होम

कड़े फैसला लेना बहुत मुश्किल नहीं होगा- विराट कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ शुक्रवार से यहां वानखेड़े स्टेडियम में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट के लिए टीम में बदलाव के बारे में कड़ा फैसला लेना बहुत मुश्किल नहीं होगा।

कड़ी मेहनत और द्राढ़ता से खिलाड़ियों को फॉर्म में वापस आने में मदद मिलती है- कोहली (file photo)


भारतीय कप्तान विराट कोहली(Virat Kohli) ने गुरुवार को वर्चुअल प्रेस कॉन्फ्रेंस(press conference) करी। इस प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कोहली ने कहा है कि न्यूजीलैंड के खिलाफ शुक्रवार से यहां वानखेड़े स्टेडियम(Wankhede Stadium) में शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट के लिए टीम में बदलाव के बारे में कड़ा फैसला लेना बहुत मुश्किल नहीं होगा। वह खिलाड़ी और टीम की आवश्यकताओं के बारे में अच्छे से जानते हैं, जो मैच में निर्णय लेने में एक बड़ी भूमिका निभाएंगे।

विराट कोहली(Virat Kohli) ने कहा, "आपको स्पष्ट रूप से उस स्थिति को समझना होगा जहां टीम को रखा गया है। आपको यह समझना होगा कि खिलाड़ी कहां खड़ा है, आपको परिस्थितियों को समझना होगा और आपको अच्छी तरह से संवाद करना होगा। टीम में विश्वास करना मुश्किल नहीं है। टीम के खिलाड़ियों को एक-दूसरे पर भरोसा है और वे समझते हैं कि टीम की स्थिति और जरूरत के हिसाब से फैसला लिया जाएगा।"


कोहली(Virat Kohli) ने कहा कि टीम प्रबंधन वानखेड़े टेस्ट के लिए बल्लेबाजी और गेंदबाजी पर अंतिम फैसला करने से पहले सभी विकल्पों पर चर्चा करेगा और मौसम की स्थिति को ध्यान में रखते हुए बदलाव पर काम करेगा। वैसे कैप्टन कोहली को एक छोटे ब्रेक के बाद टीम में वापसी के साथ टीम इंडिया(Team India) को अपने बल्लेबाजी क्रम को फिर से मजबूत करना होगा।

इसके अलावा कोहली(Virat Kohli) और मुख्य कोच राहुल द्रविड़(Rahul Dravid) को यह तय करना होगा कि कानपुर(Kanpur) टेस्ट खेलने वाली प्लेइंग इलेवन टीम में किसे बाहर किया जाए। कोहली की जगह प्लेइंग इलेवन में आए मुंबई के बल्लेबाज श्रेयस अय्यर(Shreyas Iyer) ने डेब्यू पर शतक और दूसरी पारी में अर्धशतक बनाकर टीम में शानदार प्रदर्शन किया जिसके बाद से उनकी दावेदारी बढ़ गई है तो वहीं दूसरी जगह खिलाड़ी चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे साथ ही सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल ने उतने रन नहीं बनाए, जितना उनसे उम्मीद की गई थी।

यह भी पढ़े - जाने सभी आईपीएल टीमों के रिटेन खिलाड़ियों के नाम

भारत के कप्तान कोहली(Virat Kohli) ने कहा कि वह वानखेड़े स्टेडियम(Wankhede Stadium) में बल्लेबाजी करने के लिए उत्सुक थे, जहां उन्होंने एक बड़ा दोहरा शतक बनाया था जब भारत ने आखिरी बार मुंबई में एक टेस्ट खेला था। यह कहते हुए कि उन्हें हमेशा वानखेड़े(Wankhede Stadium) में खेलने में मजा आता है, कोहली ने कहा कि उन्होंने हमेशा अपनी पारियों और उनके प्रभाव से आत्मविश्वास हासिल करने में विश्वास किया है।

Input : आईएएनएस ; Edited by Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Popular

पर्थ स्थित ऑप्टस स्टेडियम (Wikimedia Commons)

पर्थ में पांचवें एशेज(Ashes) टेस्ट के आयोजन की क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया(Cricket Australia) की उम्मीदें खतरे में हैं, पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया (Western Australia) राज्य सरकार ने संगरोध और खिलाड़ियों के परिवार के सदस्यों पर प्रतिबंध पर अपने “बहुत सख्त नियम” दोहराए हैं।

पर्थ स्टेडियम में 14 जनवरी से ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड श्रृंखला के अंतिम मैच की मेजबानी करने के लिए निर्धारित है, लेकिन WA अधिकारियों ने न्यू साउथ वेल्स (New South Wales) से राज्य में प्रवेश करने के बाद खिलाड़ियों और कर्मचारियों को संगरोध करने पर जोर दिया है, जो सिडनी में चौथा टेस्ट आयोजित करता है।

Keep Reading Show less

भारत और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया कानपुर टेस्ट मैच ड्रा हो गया।(Twitter)

भारत और न्यूजीलैंड(india vs newzealand) के बीच खेला गया कानपुर(kanpur) टेस्ट मैच(Test match) बेनतीजा रहा। भारत ने दूसरी पारी में कीवियों को 284 रनों का लक्ष्य दिया था। जवाब में कीवी टीम पांचवें दिन के खत्म होने तक मैच को ड्रा(draw) कराने में सफल रही। भारत की ओर से दूसरी पारी में रवींद्र जडेजा ने चार सफलताएं अपने नाम कीं। वहीं, आर अश्विन ने तीन विकेट लिए, जबकि अक्षर पटेल और उमेश यादव को एक-एक विकेट मिला।

इससे पहले, पांचवें दिन न्यूजीलैंड(Newzealand) की टीम 4/1 से आगे खेलने उतरी और पहले सत्र में जबरदस्त प्रदर्शन किया। टॉम लैथम और विलियम सोमरविल ने मिलकर 76 रनों की शानदार साझेदारी की, लेकिन मजबूत होती इस जोड़ी को भारतीय तेज गेंदबाज उमेश यादव ने तोड़ते हुए सोमरविल को पवेलियन भेज दिया।

Keep Reading Show less

परमजीत ने 158 किग्रा भार उठाकर कांस्य पदक जीत कर इतिहास रच दिया है।(Twitter)

जॉर्जिया(Georgia) के तिब्लिसी में विश्व पैरा पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप(World Para Powerlifting Championships) चल रही है। जिसमे कल यानी रविवार को 49 किग्रा वर्ग में प्रतिस्पर्धा कर रहे परमजीत(Paramjit) ने 158 किग्रा भार उठाकर कांस्य पदक जीत कर इतिहास रच दिया है। परमजीत कुमार पदक जीतने वाले पहले भारतीय पैरा-पावरलिफ्टर बन गए। वहीं, मिस्र के उमर शमी करादा ने 174 किग्रा भार उठाकर स्वर्ण पदक हासिल किया, जबकि वियतनाम के वैन कांग ले ने कुल 170 किग्रा के साथ रजत पदक अपने नाम किया।

भारत की पैरालंपिक समिति(Paralympic Committee) की अध्यक्ष दीपा मलिक(Deepa Malik) ने ट्वीट किया, "पंजाब के परमजीत कुमार ने पैरा पॉवरलिफ्टिंग में भारत के लिए इतिहास बनाया है, क्योंकि उन्होंने जॉर्जिया के तिब्लिसी में चल रही विश्व पैरा पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीता। परमजीत ने 158 किग्रा भार उठाकर इतिहास रच दिया है। यह हमारे लिए खुशी की बात है।" उन्होंने लिखा, "परमजीत कुमार ने चल रहे विश्व पैरा-पावरलिफ्टिंग चैंपियनशिप 2021 में पुरुषों के 49 किग्रा वर्ग में पहला पदक (कांस्य) जीता।"

Keep reading... Show less