Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
खेल
होम

टी20 की कप्तानी छोड़ेंगे कोहली विश्व कप होने के बाद

विराट ने कप्तान के तौर पर अपने 45 टी20 में कोहली के नेतृत्व में टीम को 27 जीत और 14 मैचों में हार मिली जबकि दो मुकाबले टाई रहे और दो मैचों का कोई नतीजा नहीं निकला।

कोहली ने आज ट्विटर के जरिए एक बयान में इसकी घोषणा की। (IANS)

वर्तमान में भारतीय क्रिकेट टीम के सबसे बड़े खिलाड़ी और कप्तान विराट कोहली ने गुरूवार को घोषणा की कि वह इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद टी20 प्रारूप की कप्तानी छोड़ेंगे। उनका ये एलान करोड़ो दिलो को धक्का देने वाला था क्योंकि कोहली को हर कोई कप्तान के रूप में देखना चाहता है । कई दिनों से चल रहे संशय पर विराम लगाते हुए कोहली ने आज ट्विटर के जरिए एक बयान में इसकी घोषणा की। कोहली ने बताया कि वह इस साल अक्टूबर-नवंबर में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद टी20 के कप्तानी पद को छोड़ देंगे।

ट्वीट के जरिए उन्होंने इस यात्रा के दौरान उनका साथ देने के लिए सभी का धन्यवाद दिया। कोहली ने बताया कि उन्होंने यह फैसला अपने वर्कलोड को मैनेज करने के लिए लिया है। उनका वर्कलोड बढ़ गया था ।


विराट कोहली ने अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडल पर बयान जारी कर कहा, मैं खुद को भाग्यशाली समझता हूं कि मुझे सिर्फ भारत का प्रतिनिधित्व ही नहीं बल्कि भारतीय क्रिकेट टीम को लीड करने का मौका भी मिला। जिन्होंने कप्तान के रूप में मेरे सफर में मेरा साथ दिया, खिलाड़ी, सहायक स्टाफ, चयन समिति, मेरे कोच और हर भारतीय का मैं धन्यवाद करता हूं जो हमारी जीत के लिए प्रार्थना करते हैं।

आगे उन्होंने यह भी कहा की वो पिछले आठ नो साल से लगातार क्रिकेट खेल रहे है और लगभग पांच साल से कप्तानी भी संभाल रहे है । आगे विराट ने कहा कि टी20 के कप्तान के तौर पर मैंने टीम को सबकुछ दिया। मैं आगे भी एक बल्लेबाज के तौर पर ऐसा करता रहूंगा।
कोहली ने कहा, जाहिर है कि इस फैसले पर पहुंचने के लिए मुझे समय लगा। अपने करीबी लोगों रवि भाई और रोहित जो लीडरशीप ग्रुप का अहम हिस्सा हैं,

इनसे चर्चा करने के बाद मैंने दुबई में अक्टूबर में होने वाले टी20 विश्व कप के बाद टी20 प्रारूप की कप्तानी छोड़ने का फैसला किया है। मैंने इस बारे में बीसीसीआई के सचिव जय शाह और अध्यक्ष सौरभ गांगुली तथा सभी चयनकर्ताओं से भी बात की है। मैं आगे भी अपनी क्षमता के अनुरूप भारतीय क्रिकेट की सेवा करता रहूंगा।

आप को बता दे कि कोहली ने इंग्लैंड के खिलाफ 2017 में तीन मैचों की टी20 सीरीज से टी20 प्रारूप में कप्तानी संभाली थी।

विराट ने कप्तान के तौर पर अपने 45 टी20 में कोहली के नेतृत्व में टीम को 27 जीत और 14 मैचों में हार मिली जबकि दो मुकाबले टाई रहे और दो मैचों का कोई नतीजा नहीं निकला।

यह भी पढ़ें : टी20 वर्ल्ड कप में इन खिलाड़ियों पर रहेगी नज़र

वेसे तो विराट कोहली इस प्रारूप में महेंद्र सिंह धोनी के बाद भारत के दूसरे सबसे सफल कप्तान रहे। कोहली भारत के पहले कप्तान हैं जिनके नेतृत्व में टीम ने 2018 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ द्विपक्षीय सीरीज में टी20 में 2-1 और इंग्लैंड के खिलाफ 2-1 से जीत हासिल की। इसके अलावा कोहली की कप्तानी में भारत को 2020 में न्यूजीलैंड के खिलाफ 5-0 और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2-1 से जीत मिली ।

टी 20 विश्वकप के बाद विराट कोहली कप्तानी को छोड़ के अपनी बल्लेबाजी पर ध्यान देंगे । अब तक कोहली के 70 शतक है ।(आईएएनएस-PS)

Popular

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली (instagram , virat kohali)

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री का लोहा इन दिनों हर जगह माना जा रहा है । इसी क्रम में ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने कहा है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री हाल के दिनों में टेस्ट क्रिकेट के महान समर्थक और प्रमोटर हैं। साथ ही उन्होंने कोहली की तारीफ भी की खेल को प्राथमिकता देते हुए वो वास्तव में टेस्ट क्रिकेट खेलना चाहते हैं।"
ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान मार्क टेलर ने इस बात पर अपनी चिंता व्यक्त की ,कि भविष्य में टेस्ट क्रिकेट कब तक प्राथमिकता में रहेगा। उन्होंने कहा, "चिंता यह है कि यह कब तक जारी रहेगा। उनका यह भी कहना है किइसमें कोई संदेह नहीं है कि जैसे-जैसे हम बड़े होते जाते हैं और नई पीढ़ी आती है, मेरे जैसे लोगों को जिस तरह टेस्ट क्रिकेट से प्यार है यह कम हो सकता है और यह हमारी पुरानी पीढ़ी के लिए चिंता का विषय है।"

\u0930\u0935\u093f \u0936\u093e\u0938\u094d\u0924\u094d\u0930\u0940 भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी और वर्तमान कोच रवि शास्त्री (wikimedia commons)

Keep Reading Show less
Unsplash

क्रिकेट का स्टेडियम

By- Tushar sethi

अक्टूबर में शुरू होने जा रहा टी20 वर्ल्ड कप पर सभी ने अपनी नज़रे गड़ा ली है। हर किसी को इस वर्ल्ड कप का बेसब्री से इंतज़ार है क्योंकि पिछ्ला टी20 वर्ल्ड कप 2016 में हुआ था। इतने लंबे समय के अंतराल के बाद सभी क्रिकेट प्रेमीयों में इस टूर्नामेंट के लिए उत्सुकता है। आईसीसी द्वारा टूर्नामेंट का शिड्यूल जारी कर दिया गया है। इस साल टी20 वर्ल्ड कप संयुक्त अरब अमीरात में होने वाला है इससे पहले यह भारत में आयोजित होने वाला था लेकिन बढ़ते कोरोना मामलों की वजह से यह निर्णय लिया गया था कि टी20 वर्ल्ड कप संयुक्त अरब अमीरात में आयोजित होगा। इस साल कई बड़े खिलाड़ियों पर लोगों की नज़रे रहने वाली है। ऐसे ही कुछ खिलाड़ियों पर इस आर्टिकल में प्रकाश डाला गया है।

Keep Reading Show less
प्रो-कबड्डी लीग में अजय ठाकुर (Instagram Ajay Thakur)

 पद्मश्री और अर्जुन पुरस्कार विजेता 35 वर्षीय अजय ठाकुर ने स्पोर्ट्सटाइगर की विशेष इंटरव्यू सीरीज मिशन गोल्ड पर अपनी खेल यात्रा के बारे में बात करते हुए बताया कि वह अभी भी ओलंपिक में अपने देश का प्रतिनिधित्व करने के लिए आशान्वित हैं। भारतीय कबड्डी कप्तान खेल के माहौल में ही बड़े हुए और वह जानते थे कि उन्हें अंतरराष्ट्रीय स्तर पर देश का प्रतिनिधित्व करने का अपने पिता के सपने को पूरा करना है।

अजय ने कहा, “कबड्डी को मेरे जन्म से पहले ही अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पहचान मिल चुकी थी और मेरे पिताजी स्पोर्ट्स कल्चर के बारे में जानते थे। जैसा कि आप जिस स्तर पर खेलते हैं, उसके अनुसार नौकरी का कोटा तय किया गया था। हम एक मध्यम वर्गीय परिवार से ताल्लुक रखते थे और अच्छी और सुरक्षित नौकरी पाना हमारे लिए सपना था। अत: मैंने खेल कोटे से नौकरी पाने के लिए खेलना शुरू किया।”

Keep reading... Show less