बायो बबल में खेलना काफी कठिन : कोहली

भारतीय कप्तान विराट कोहली ने मैचों के कार्यक्रमों पर सवाल उठाते हुए कहा है कि अधिकारियों को इस पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि बायो बबल में खेलना कठिन होता है।
 | 
भारतीय कप्तान विराट कोहली।(सोशल मीडिया )
भारतीय कप्तान विराट कोहली ( Virat Kohli ) ने मैचों के कार्यक्रमों पर सवाल उठाते हुए कहा है कि अधिकारियों को इस पर ध्यान देना चाहिए क्योंकि बायो बबल में खेलना कठिन होता है। कोहली ने इंग्लैंड  ( England )के खिलाफ रविवार को तीसरे वनडे मुकाबले में मिली जीत के बाद कहा कि भविष्य में कार्यक्रमों के ऊपर ध्यान देना चाहिए।

कोहली ने कहा, "भविष्य में कार्यक्रमों के ऊपर ध्यान देना चाहिए, विशेषकर ऐसे समय में क्योंकि बायो बबल में खेलना कठिन होता है और सभी लोगों की हर वक्त एक समान मानसिक क्षमता नहीं होती है। मुझे यकीन है कि भविष्य में इन चीजों पर चर्चा की जाएगी।"

भारतीय टीम का हाल ही में कार्यक्रम काफी व्यस्त रहा है। पिछले साल नवंबर में हुए आईपीएल ( IPL )  2020 के बाद टीम इंडिया ने ऑस्ट्रेलिया ( Australia )  जाकर सभी पारूपों की सीरीज खेली थी और इसके बाद देश में इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट, टी20 और वनडे मैचों की सीरीज खेली।

उन्होंने इस दौरान आठ टेस्ट, छह वनडे और छह टी20 मैच खेले।  यह भी पढ़ें :- सचिन ने, आज ही के दिन अपने करियर का 100वां शतक जड़ा था!

इस साल विश्व टेस्ट चैंपियनशिप ( WTC )  के फाइनल और टी20 विश्व कप को देखते हुए टेस्ट और टी20 मैचों की सीरीज काफी अहम है।

कोहली मैन ऑफ द मैच और मैन ऑफ द सीरीज अवॉर्ड से भी नाखुश नजर आए। उन्होंने कहा कि शार्दुल ठाकुर और भुवनेश्वर कुमार को इन पुरस्कारों से नवाजा जाना चाहिए था। इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टो मैन ऑफ द सीरीज और सैम करेन ( Sam Curran ) को मैन ऑफ द मैच चुना गया था। ( AK  आईएएनएस )