Monday, May 10, 2021
Home व्यवसाय भारत के स्मार्टफोन बाजार में एलजी नहीं बना पाया जगह, जानें वजह!

भारत के स्मार्टफोन बाजार में एलजी नहीं बना पाया जगह, जानें वजह!

 एलजी इलेक्ट्रॉनिक्स जो कभी दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी हैंडसेट निर्माता कंपनी थी और 10 साल पहले उसका फीचर फोन कारोबार बुलंदियां छू रहा था, उसके बारे में सोमवार को एक इंडस्ट्री वॉचर ने दोहराया कि वह भारत के बाजार में कभी भी गंभीर दावेदार नहीं थी। एलजी ने अपने मोबाइल व्यवसाय को बंद कर दिया है और हाल के वर्षों में उसने अपने मोबाइल व्यवसाय में बदलाव लाने की कोशिशें की हैं। इसमें फोल्ड होने वाला फोन ‘विंग’ लॉन्च करना भी शामिल है। हालांकि इसकी बिक्री को लेकर स्थिति बहुत ही निराशाजनक रही।

काउंटरपॉइंट रिसर्च के एसोसिएट डायरेक्टर तरुण पाठक के मुताबिक एलजी का 2019 में मार्केट शेयर 0.15 फीसदी और 2020 में 0.30 फीसदी रहा।

पाठक ने आईएएनएस को बताया, “2020 में सामने आई यह बढ़ी हुई सेल भी त्योहारी सीजन में हुई बिक्री के कारण थी, वरना कंपनी का मार्केट शेयर 0.15 प्रतिशत पर स्थिर रहता।”

एलजी मध्यम स्तरीय चीनी ब्रांड के फोन और प्रीमियम सेगमेंट के एप्पल, सैमसंग, वनप्लस के बीच सैंडविच की तरह है।

LG smartphones
बीते सालों में एलजी के हैंडसेट की बिक्री में आई थी गिरावट।(Pixabay)

इस साल एलजी उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक्स शो (सीईएस) 2021 में रोलेबल डिस्प्ले वाला एक स्मार्टफोन लॉन्च करने वाली थी, लेकिन फिर कंपनी ने इस योजना को रद्द कर दिया।

यह भी पढ़ें: RBI ने क्रिप्टोकरेंसी को लेकर चिंता जताई : Shaktikanta Das

इंडस्ट्री इंटेलीजेंस ग्रुप (आईआईजी) सीएमआर के प्रमुख प्रभु राम ने कहा, “एलजी समय के साथ प्रतिस्पर्धा को मापने में असमर्थ रहा। खासकरके वैल्यू मूल्य के अनुपात में उत्पाद नहीं दे पाया और उत्पाद को लेकर मजबूत संदेश नहीं दे पाया। साथ ही मार्केटिंग कौशल का भी अच्छे से उपयोग नहीं कर पाए।”

मार्केट रिसर्चर काउंटरपॉइंट रिसर्च के मुताबिक, पिछले साल 2.47 करोड़ स्मार्टफोन्स की शिपिंग के साथ ही एलजी दुनिया का नौवां सबसे बड़ा स्मार्टफोन विक्रेता था। हालांकि यह साल इसके एक साल पहले से 13 फीसदी कम थी।(आईएएनएस-SHM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,639FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी