ब्रेन डेड किशोरी का लीवर ट्रांसप्लांट कर मरीज को दी नई जिंदगी

डॉक्टरों के समझाने पर एकता के माता-पिता ने एकता के अंगों को दान करने पर अपनी सहमति दी।
ब्रेन डेड किशोरी का लीवर ट्रांसप्लांट
ब्रेन डेड किशोरी का लीवर ट्रांसप्लांट Wikimedia

ब्रेन डेड (Brain dead) घोषित किशोरी के लीवर को प्रत्यारोपित (Liver Transplant) कर डॉक्टरों ने 58 वर्षीय मरीज को नई जिंदगी दी। सांस लेने में तकलीफ होने पर किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी (KGMU) में भर्ती 18 वर्षीय एकता पांडे (Ekta Panday) को दिवाली पर ब्रेन-डेड घोषित कर दिया गया था।

डॉक्टरों के समझाने पर एकता के माता-पिता ने एकता के अंगों को दान करने पर अपनी सहमति दी।

केजीएमयू के डॉक्टरों ने अथक परिश्रम कर एकता के लीवर को मरीज अशोक गोयल को प्रत्यारोपित कर दिया।

ब्रेन डेड किशोरी का लीवर ट्रांसप्लांट
जम्मू-कश्मीर(J&K) के पुलवामा में नदी से 9वीं सदी की प्राचीन दुर्लभ मूर्ति बरामद

इस कठिन प्रक्रिया को पूरा करने के लिए केजीएमयू के 40 से अधिक स्टाफ सदस्यों ने दिवाली की छुट्टी भी नहीं ली।

प्रक्रिया संपन्न होने के बाद डॉक्टरों ने जश्न मनाया।

अंबेडकर नगर की रहने वाली एकता कुछ दिनों से सीने में तेज दर्द से पीड़ित थीं। उन्हें पहले जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था, जहां से राम मनोहर लोहिया आयुर्विज्ञान संस्थान (RMLIMS) रेफर कर दिया गया। लेकिन वहां वेंटिलेटर न होने के कारण परिजनों ने एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। आर्थिक कठिनाई होने पर परिजनों ने 22 अक्टूबर को वहां से केजीएमयू में स्थानांतरित करा लिया।

लीवर
लीवरWikimedia

केजीएमयू के डॉक्टरों की तमाम कोशिशों के बावजूद एकता को बचाया नहीं जा सका और ब्रेन डेड घोषित कर दिया गया।

इसके बाद एकता के परिजनों ने एकता के अंगों को दान करने का फैसला किया।

केजीएमयू में यह 18वां और एक हफ्ते में दूसरा लीवर ट्रांसप्लांट था।

एकता के परिजनों ने कहा कि वह जीना चाहती थी, लेकिन भगवान को कुछ और ही मंजूर था।

आईएएनएस/PT

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com