राहुल और कार्तिका का सराहनीय शादी का निमंत्रण

हमें अपने खास दिन पर आपको आमंत्रित करते हुए बेहद खुशी हो रही है। हम आपकी उपस्थिति और आशीर्वाद की कामना करते हैं। हमारी रक्षा करने के लिए धन्यवाद।"
सराहनीय शादी का निमंत्रण
सराहनीय शादी का निमंत्रणWikimedia

केरल (Kerala) के एक जोड़े के शादी के निमंत्रण को भारतीय सेना (Indian Army) की प्रशंसा मिलने के बाद जैसे ही सोशल मीडिया (Social Media) पर साझा किया गया, इसे खूब सराहना मिली और यह वायरल हो गया।

कोयम्बटूर (Coimbatore) में एक सहायक बैंक प्रबंधक राहुल और टेक्नोपार्क में एक आईटी पेशेवर कार्तिका ने अपने निमंत्रण कार्ड में एक हस्तलिखित नोट लिखा, सेना को उनकी अथक सेवा के लिए धन्यवाद दिया और 10 नवंबर को पैंगोडे सैन्य स्टेशन में आयोजित विवाह समारोह में आमंत्रित किया।

पत्र की शुरुआत 'डियर हीरोज' के अभिवादन से हुई।

पत्र में कहा गया है : "हम (राहुल और कार्तिका) 10 नवंबर को शादी कर रहे हैं। हम अपने देश के प्रति प्यार, दृढ़ संकल्प और देशभक्ति के लिए वास्तव में आभारी हैं। हमें सुरक्षित रखने के लिए हम आपके आभारी हैं। आपके कारण हम चैन की नींद सोते हैं। हमें अपने प्रियजनों के साथ खुशहाल दिन देने के लिए धन्यवाद। आपकी वजह से हम खुशी-खुशी शादी कर रहे हैं। हमें अपने खास दिन पर आपको आमंत्रित करते हुए बेहद खुशी हो रही है। हम आपकी उपस्थिति और आशीर्वाद की कामना करते हैं। हमारी रक्षा करने के लिए धन्यवाद।"

सराहनीय शादी का निमंत्रण
Indian Army को मजबूत करेगा आकाश प्राइम मिसाइल एयर डिफेंस सिस्टम

सेना ने अपने आधिकारिक इंस्टाग्राम हैंडल से इस जोड़े को शुभकामनाएं दीं।

सेना ने अपने पोस्ट में दूल्हे को टैग किया और कैप्शन के साथ निमंत्रण की एक तस्वीर भी जोड़ दी और लिखा : "शुभकामनाएं। भारतीय सेना शादी के निमंत्रण के लिए राहुल और कार्तिका को ईमानदारी से धन्यवाद देती है और युगल को एक खुशहाल और आनंदमय वैवाहिक जीवन की शुभकामनाएं देती है। आप हमेशा के लिए साथ रहें।"

सेना की प्रतिक्रिया के प्रतीक के रूप में पैंगोडे मिलिट्री स्टेशन के कमांडर ब्रिगेडियर ललित शर्मा ने सोमवार को स्टेशन पर युगल का स्वागत किया, जहां उनका गुलदस्ता देकर स्वागत किया गया।

भारतीय सेना
भारतीय सेनाWikimedia

स्टेशन कमांडर ने उनके आकर्षक शादी के निमंत्रण के लिए सेना की ओर से सराहना की और जोड़े के साथ बातचीत की। उन्होंने उन्हें स्मृति चिन्ह भी भेंट किया।

उन्होंने जोड़े को राष्ट्र निर्माण में योगदान देने के लिए प्रयास करने की सलाह दी।

उन्होंने कहा : "वर्दी में होना या नहीं, प्रत्येक नागरिक का योगदान मूल्यवान है और सेना का अस्तित्व नागरिकों पर निर्भर करता है।"

आईएएनएस/PT

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com