दिल्ली में एक और कोरोना योद्धा को दिए गए 1 करोड़ रुपये

कोरोना के कारण शहीद हुए रामनाथ के परिवार को यह आर्थिक सहायता दिल्ली सरकार (Delhi Government) की ओर से दी गई है।
 दिल्ली में एक और कोरोना योद्धा को दिए गए 1 करोड़ रुपये (Wikimedia Commons)

दिल्ली में एक और कोरोना योद्धा को दिए गए 1 करोड़ रुपये (Wikimedia Commons)

दिल्ली सरकार

 दिल्ली (Delhi) के कोरोना योद्धा (Corona Warrior) स्वर्गीय राम नाथ (Ramnath) के परिजनों को 1 करोड़ की आर्थिक सहायता राशि का चेक सौंपा गया है। कोरोना के कारण शहीद हुए रामनाथ के परिवार को यह आर्थिक सहायता दिल्ली सरकार (Delhi Government) की ओर से दी गई है।

राम नाथ दिल्ली परिवहन निगम (DTC) में बस ड्राइवर थे और खानपुर बस डिपो में तैनात थे। कोरोना काल में उन्होने ड्यूटी की जिसके बाद उनकी तबियत खराब होने लगी। बाद में उनका कोविड टेस्ट पॉजिटिव (Covid Test Positive) पाया गया जिसके बाद उन्हें मूलचंद अस्पताल में भर्ती किया गया। इलाज के दौरान 18 मई, 2022 को उनका देहांत हो गया था। राम नाथ के परिवार में पत्नी और तीन बेटे हैं।

<div class="paragraphs"><p> दिल्ली में एक और कोरोना योद्धा को दिए गए 1 करोड़ रुपये (Wikimedia Commons)</p></div>
हवा में फैले हमारी सांसो से निकलने वाले Corona के कण 200 फ़ीट की दुरी से भी कर सकते हैं लोगों को संक्रमित- स्टडी

दिल्ली के राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने सोमवार को राम नाथ के परिवार से मुलाकात की। परिवार को सहायता प्रदान करते हुए राजस्व मंत्री कैलाश गहलोत ने कहा, हम इस बात को भली-भांति समझते हैं कि प्रियजनों के नुकसान की भरपाई कोई भी राशि नहीं कर सकती, यह वित्तीय सहायता केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) की ओर से इन कोरोना योद्धाओं के बलिदान को श्रद्धांजलि देने का एक तरीका है। शहीद हुए कोरोना योद्धाओं के परिवारों को मैं आश्वस्त करता हूँ कि दिल्ली सरकार हर मुश्किल परिस्थिति में आपके साथ खड़ी है और आपको सभी प्रकार की सहायता प्रदान की जाएगी। हमें अपने सभी कोरोना योद्धाओं पर गर्व है, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बिना लोगों की सेवा की।

गौरतलब है कि दिल्ली सरकार अपने उन कर्मचारियों के आश्रितों को एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद दे रही है जोकि कोरोना काल में अपनी ड्यूटी करते बीमारी से मारे गए। दिल्ली सरकार की ओर से अभी तक ऐसे कई परिवारों को एक-एक करोड़ रुपए की आर्थिक मदद दी जा चुकी है।

आईएएनएस/PT

Related Stories

No stories found.
logo
hindi.newsgram.com