छत्तीसगढ़ को मध्यप्रदेश से पृथक हुए 22 वर्ष पूरे: जानिए इस बार राज्योत्सव का आकर्षण

राजधानी के साइंस कॉलेज (Science College) मैदान में एक से तीन नवंबर तक राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव और राज्योत्सव होने वाला है।
छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस
छत्तीसगढ़ स्थापना दिवसIANS

छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस (Chhattisgarh Foundation Day) के मौके पर राजधानी रायपुर (Raipur) में होने वाले राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव और राज्योत्सव मंगलवार से शुरू हो रहा है, इस आयोजन में देश ही नहीं दुनिया के कई देशों की कला और संस्कृति के रंग नजर आएंगे।

राजधानी के साइंस कॉलेज (Science College) मैदान में एक से तीन नवंबर तक राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव और राज्योत्सव होने वाला है। यहां मुख्य मंच पर राज्योत्सव और राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव के कार्यक्रम होंगे। वहीं साइंस कॉलेज मैदान में विभिन्न शासकीय विभागों के स्टॉल और व्यावसायिक स्टॉल लगेंगे तो दूसरी ओर फूड जोन भी बनाया जा रहा है। स्टॉल निर्माण की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। इसके साथ ही छत्तीसगढ़ में आयोजित राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में हिस्सा लेने के लिए देश-विदेश से कलाकारों के पहुंचने का सिलसिला जारी है।

छत्तीसगढ़ स्थापना दिवस
UP में 'ग्रामीण पर्यटन' के मिशन पर योगी सरकार

इस बार राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव में भारत के सभी राज्यों व केंद्र शासित प्रदेशों समेत नौ देशों मोजांबिक, मंगोलिया, टोंगो, रूस, इंडोनेशिया, मालदीव, सर्बिया, न्यूजीलैंड और इजिप्ट के 1500 जनजातीय कलाकार शामिल होंगे, जहां छत्तीसगढ़ सहित देश-विदेश की विभिन्न जनजातियों की विविधतापूर्ण संस्कृति, परंपरा और लोककला देखने को मिलेगी।

गौरतलब है कि एक नवम्बर 2000 को मध्यप्रदेश (Madhya Pradesh) से पृथक कर छत्तीसगढ़ राज्य का गठन किया गया है। राज्य गठन को 22 वर्ष पूर्ण होने को है। प्रति वर्ष की तरह इस बार भी भव्य स्तर पर राज्योत्सव का आयोजन किया जा रहा है। इसके अलावा मुख्यमंत्री भूपेश बघेल (Bhupesh Baghel) के नेतृत्व में छत्तीसगढ़ में तीसरी बार राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन हो रहा है।

राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजन
राष्ट्रीय आदिवासी नृत्य महोत्सव का आयोजनIANS

राज्योत्सव के मौके पर साइंस कॉलेज मैदान में लगाई गई विकास प्रदर्शनी में छत्तीसगढ़ की विकास गाथा की झांकी के साथ ही पिछले पौने चार वर्षों में छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा जनकल्याण के लिए लागू योजनाओं और किए गए कार्यों की झलक देखने को मिलेगी। इस दौरान राज्य शासन के 21 विभागों के स्टॉल, शिल्पग्राम में 40 स्टॉल, फूड जोन में 24 स्टॉल, थीम हैंगर में विभिन्न उद्योगों और सार्वजनिक उपक्रमों के स्टॉल, 40 व्यावसायिक स्टॉल बनाए जा रहे हैं। शिल्पग्राम और फूड जोन भी उनके आकर्षण का केंद्र होंगे।

आईएएनएस/PT

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com