Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
मनोरंजन

मेलबर्न के भारतीय फिल्म समारोह में ‘लूडो’, ‘शेरनी’, ‘सूररई पोट्रु’ ने शीर्ष नामांकन हासिल किया

विद्या बालन-स्टारर 'शेरनी', एंथोलॉजी 'लूडो', 'सूरराई पोटरू' में सूर्या और बिस्वजीत बोरा के निर्देशन में बनी 'गॉड ऑन द बालकनी' को इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न (आईएफएफएम) 2021 में शीर्ष सम्मान के लिए नामांकित किया गया है।

अनुराग बसु द्वारा निर्देशित लूडो(instagram , Anurag Basu)

विद्या बालन-स्टारर ‘शेरनी’, एंथोलॉजी ‘लूडो’, ‘सूरराई पोटरू’ में सूर्या और बिस्वजीत बोरा के निर्देशन में बनी ‘गॉड ऑन द बालकनी’ को इंडियन फिल्म फेस्टिवल ऑफ मेलबर्न (आईएफएफएम) 2021 में शीर्ष सम्मान के लिए नामांकित किया गया है। पुरस्कार समारोह 20 अगस्त को होगा। यह उत्सव ऑस्ट्रेलिया में विक्टोरियन सरकार द्वारा प्रस्तुत किया जाता है। यह एक वार्षिक उत्सव है जो ऑस्ट्रेलिया के मेलबर्न में होता है।

इस साल फेस्टिवल वेब शोज के तहत तीन कैटेगरी लॉन्च कर रहा है। यह महोत्सव अभिनेता और अभिनेत्री श्रेणी के तहत प्रत्येक श्रृंखला में सर्वश्रेष्ठ श्रृंखला, सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन को मान्यता देगा।


नामों की इस सूची में 2021 की असाधारण फिल्में शामिल हैं जैसे अनुराग बसु द्वारा निर्देशित ‘लूडो’, अमित मसुकर द्वारा निर्देशित विद्या बालन-स्टारर ‘शेरनी’, ‘सूरराई पोट्रु’ (तमिल) जो सितारों और सूर्या द्वारा निर्मित और सुधा कोंगारा द्वारा निर्देशित हैं, और ‘गॉड ऑन द बालकनी’, हरीश खन्ना अभिनीत और बिस्वजीत बोरा द्वारा निर्देशित एक असमिया फिल्म है।

इस साल की सर्वश्रेष्ठ डॉक्यूमेंट्री में ‘शट अप सोना’, ‘डब्ल्यू.ओ.एम.बी’, ‘अबाउट मम्मा’ सहित कुछ सबसे सम्मोहक कहानियां हैं।

सर्वश्रेष्ठ फिल्म, सर्वश्रेष्ठ इंडी फिल्म और सर्वश्रेष्ठ वृत्तचित्र के विजेता प्रत्येक पुरस्कार के अलावा ब्लैक मैजिक डिजाइन से अत्याधुनिक कैमरा जीतते हैं। एक और मुख्य आकर्षण यह है कि सर्वश्रेष्ठ फिल्म विजेता को वार्षिक प्रतिष्ठित एएसीटीए (ऑस्ट्रेलियन एकेडमी ऑफ सिनेमा एंड टेलीविजन आर्ट्स अवार्डस) में सर्वश्रेष्ठ एशियाई फिल्म श्रेणी के तहत नामांकन की मंजूरी मिल जाती है।

मलयालम फिल्म ‘कायट्टम’, ‘लूटकेस’, ‘लूडो’, ‘शेरनी’, ‘सूररई पोटरु’ और ‘ताशेर घवर’ सर्वश्रेष्ठ फिल्म की श्रेणी में प्रतिस्पर्धा करेंगी।

सर्वश्रेष्ठ इंडी फिल्म के लिए, ‘फायर इन द माउंटेंस’, ‘गॉड ऑन द बालकनी’, ‘लैला और सत्त गीत – गोजरी’, ‘नासिर’, ‘पिंकी एली?’, ‘सेठथुमन’, ‘स्थलपुराण’, ‘द ग्रेट इंडियन किचन’ को नॉमिनेट किया गया है।

राजकुमार राव, सूर्या, पंकज त्रिपाठी, नील देशमुख, कौमाराने वलावने, जितिन पुथनचेरी, हरीश खन्ना और बेंजामिन दैमारी जैसे नाम सर्वश्रेष्ठ अभिनेता की श्रेणी में हैं।

सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए विद्या बालन, रसिका दुग्गल, स्वास्तिका मुखर्जी, कनी कुसरुति और रीमा कलिंगल नामांकित हैं।

अली फजल, दिव्येंदु, मनोज बाजपेयी, मोहम्मद जीशान अय्यूब, पंकज त्रिपाठी और सैफ अली खान को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन (पुरुष)-श्रृंखला के लिए नामित किया गया है।

यह भी पढ़े : ‘द लीजेंड ऑफ हनुमान’ सीजन 2 महत्वपूर्ण सबक प्रदान करता है: शरद केलकर .

बेस्ट परफॉर्मेंस (फीमेल) सीरीज के लिए नीना गुप्ता, प्राजक्ता कोली, रसिका दुग्गल, सामंथा अक्किनेनी, शाहाना गोस्वामी और श्वेता त्रिपाठी शर्मा जैसे नामों को नॉमिनेट किया गया है।(आईएएनएस-PS)

Popular

अल फैज़ान मुस्लिम फंड के मालिक मोहम्मद फैज़ी ने की खाताधारकों के साथ धोखाधड़ी (wikimedia commons)

बिजनौर के नगीना शहर में मोहल्ला लुहारी सराय में स्थित 'अल फैजान मुस्लिम फंड लिमिटेड' का मालिक मोहम्मद फैज़ी खाताधारकों के साथ ठगी(Fraud) कर करोड़ो रुपए की नगदी के साथ सोने-चांदी जेवरात लेकर फरार हो गया है। पुलिस ने कई लोगों के शिकायत के बाद प्रबंधक मोहम्मद फ़ैज़ी और एक अन्य के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। तमाम लोगों के शिकायत के आधार पर पुलिस ने 'अल फैजान म्युचुअल बेनिफिट निधि लिमिटेड' मोहल्ला लाल सराय नगीना के का संचालन के रहे मोहम्मद फैजी पुत्र अहमदुल्ला निवासी शाहजीर नगीना 420 के तहत मुकदमा पंजीकृत कर जाँच शुरू कर दी है। नगीना के मोहल्ला लाल सराय में स्थित 'अल फैज़ान मुस्लिम फंड लिमिटेड' का संचालन मोहम्मद फैज़ी बीते पांच साल से कर रहा था। खाताधारकों को बिना कोई सूचना दिए आरोपी मोहम्मद फैज़ी शाखा बन्द कर फरार हो गया।

Bijnor, bijnor police, Bank fraud अल फैज़ान मुस्लिम फंड लिमिटेड तले मोहम्मद फैज़ी ने खाताधारकों को लगाया चूना। करोड़ो ले कर फरार। ( Pixabay )

बता दें कि 'अल फैज़ान मुस्लिम फंड' की शाखा में लोग प्रतिदिन लाखों रुपये का लेनदेन करते थे। ख़बर है की अल फैजान की शाखा में नगीना व आसपास के लोग के करोड़ों रुपए की नकदी के साथ साथ सोने चांदी के जेवरात भी जमा करते थे। रोज की तरह जब लोग अल फैज़ान फंड लिमिटेड की शाखा में लेन देन के लिए पहुंचे तो उन्हें निर्धारित समय सीमा के बाद भी शाखा बंद मिली। इसके बाद खाताधारकों को शक हुआ तो पता चला कि अल फैजान मुस्लिम फंड शाखा का संचालक मोहम्मद फैज़ी करोड़ों रुपए की नकदी के साथ साथ खाताधारकों के शाखा में जमा सोने-चांदी के जेवरात भी लेकर फरार हो गया। पुलिस की माने तो अब तक 170 से भी अधिक तहरीर दर्ज की जा चुकी हैं और पुलिस खाताधारकों के हुए नुकसान की खोज बीन में जुट गई है ।

Keep Reading Show less

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Wikimedia Commons)

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Narendra Modi) के राष्ट्रीय स्टार्टअप दिवस(National Startup Day) की पहल की सराहना करते हुए कई भारतीय स्टार्टअप(Indian Startup) ने रविवार को कहा कि यह न केवल देश के नवाचारकर्ताओं और युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करेगा, बल्कि आर्थिक क्षेत्र में वैश्विक निवेशकों के विश्वास को भी बढ़ावा देगा।

मोदी ने शनिवार को 160 से अधिक प्रमुख स्टार्टअप्स के साथ वर्चुअल बैठक में कहा था कि भारत की अर्थव्यवस्था की रीढ़ माने छोटे व्यवसायों की तरह, स्टार्टअप्स भी एक अहम भूमिका अदा करने जा रहे हैं।

फिनटेक प्लेटफॉर्म रिफाइन के सीईओ और सह-संस्थापक चित्रेश शर्मा ने एक मीडिया एजेंसी को बताया हमने नए जमाने के संस्थापकों को मौजूदा श्रेणियों से परे सोचने और वास्तविक सामाजिक समस्याओं को हल करने वाली चुनौतियों का सामना करने के लिए प्रेरित करने में एक छोटी भूमिका निभाई है। जरूरत पड़ने पर इसके लिए पूरी तरह से एक नई श्रेणी बनाने की आवश्यकता हो सकती है। 'किसी खास कारण के लिए व्यापार भारतीय भारतीय स्टार्टअप की बेहतरीन कहानी लिखने के लिए बहुत ही अहम है।

उन्होंने कहा कि भारतीय स्टार्टअप विकास की राह पर हैं और हम दुनिया भर में निवेशकों का विश्वास हासिल करना जारी रखेंगे। यह बात हाल ही निवेश की संख्या में बढ़ोत्तरी होने से साबित होती है। भारत में 2021 में 1 अरब डॉलर से अधिक कीमत वाली 46 कंपनियां अस्तित्व में आई हैं

Keep Reading Show less

पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी SI ने चुनावों में गड़बड़ी के लिए अपनी आतंकी शाखाएं सक्रिय कर दी हैं।

पंजाब(Punjab) में चुनावी प्रक्रिया को पटरी से उतारने और पंजाब में खालिस्तानी पदचिन्हों को बढ़ाने के उद्देश्य से, पाकिस्तान की इंटर-सर्विसेज इंटेलिजेंस (ISI) ने राज्य में और उत्तर के कुछ हिस्सों में और अधिक आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए अपने आतंकी संगठनों को सक्रिय कर दिया है। प्रदेश, खुफिया एजेंसियों ने चेतावनी दी है।

खुफिया जानकारी के हवाले से सुरक्षा व्यवस्था के सूत्रों ने कहा कि आईएसआई प्रायोजित सिख आतंकी संगठन चुनावी रैलियों(Election Rallies) को निशाना बना सकते हैं और पंजाब, यूपी(Uttar Pradesh) और उत्तराखंड(Uttarakhand) के कुछ हिस्सों में चुनावी प्रक्रिया के दौरान कुछ महत्वपूर्ण नेताओं या वीवीआईपी को मारने का प्रयास कर सकते हैं।

Keep reading... Show less