श्रीनगर में हुआ 'जश्न-ए-कश्मीर' उत्सव का समापन

25 अक्टूबर से शुरू हुए इस सांस्कृतिक उत्सव में 2,000 कलाकारों और 300 से अधिक स्कूली बच्चों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया।
'जश्न-ए-कश्मीर' उत्सव
'जश्न-ए-कश्मीर' उत्सवIANS

श्रीनगर (Srinagar) के टैगोर हॉल में बुधवार को 'जश्न-ए-कश्मीर' उत्सव का समापन हुआ। महोत्सव का आयोजन शाह कलंदर लोक रंगमंच और कला (art), संस्कृति एवं भाषा अकादमी के सहयोग से किया गया। समापन समारोह के दौरान, जम्मू-कश्मीर (Jammu & Kashmir) वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष डेराखशन अंद्राबी ने विशेष अतिथि के रूप में भाग लिया, जबकि कला और साहित्य (literature) से जुड़े व्यक्तित्व बड़ी संख्या में जुटे। इस उत्सव में कई स्कूली बच्चों ने भी भाग लिया।

25 अक्टूबर से शुरू हुए इस सांस्कृतिक उत्सव में 2,000 कलाकारों और 300 से अधिक स्कूली बच्चों ने अपनी प्रतिभा का प्रदर्शन किया। कश्मीर (Kasmir) के विभिन्न जिलों में कार्यक्रम आयोजित किए गए।

इस अवसर पर अंद्राबी ने कहा कि इस तरह के सांस्कृतिक उत्सव बहुत महत्वपूर्ण हैं, क्योंकि वे न केवल कश्मीर की संस्कृति और सभ्यता को विकसित करते हैं, बल्कि उभरते कलाकारों को अपनी कला दिखाने का मौका भी देते हैं।

उन्होंने महोत्सव के आयोजन के लिए आयोजकों को बधाई दी और कहा कि वे ऐसे आयोजनों को हमेशा पूरा सहयोग देंगे।

'जश्न-ए-कश्मीर' उत्सव
मत्स्य विभाग मध्य प्रदेश को राष्ट्रीय पुरस्कार

समारोह के दौरान सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वाले सांस्कृतिक समूहों को इस अवसर पर प्रोत्साहित किया गया।

महोत्सव के निदेशक गुलजार अहमद बट ने कहा कि 'जश्न-ए-कश्मीर' का दूसरा चरण जम्मू में आयोजित किया जाएगा, जबकि इसका भव्य समापन 23 जनवरी को नई दिल्ली (New Delhi) में होगा।

महोत्सव का उद्घाटन 25 अक्टूबर को उपराज्यपाल मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) ने किया था।

आईएएनएस/RS

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com