Bharat Gaurav Paryatak Train जोड़ेगी भारत और नेपाल को

harat Gaurav Paryatak Train 18 दिनों के लिए अपनी पहली श्री रामायण यात्रा (Shri Ramayana Yatra) शुरू कर रही है, रामायण सर्किट (Ramayana Circuit) पर चलने वाली ट्रेन की पहली यात्रा अन्य लोकप्रिय स्थानों के अलावा पहली बार जनकपुर (नेपाल में) के धार्मिक स्थल को भी कवर करेगी।
Bharat Gaurav Paryatak Train जोड़ेगी भारत और नेपाल को
Bharat Gaurav Paryatak Train भारत और नेपाल कोKishan Reddy और Ashwini Vaishnaw (IANS)

दिल्ली (Delhi) सफदरजंग रेलवे स्टेशन से मंगलवार को भारत गौरव पर्यटक ट्रेन (Bharat Gaurav Paryatak Train) को शुरू किया गया। यह कदम पहली बार भारत (India) और नेपाल (Nepal) को एक पर्यटक ट्रेन से जोड़ेगा। यह भारत और नेपाल को जोड़ने वाली पहली पर्यटक ट्रेन है। Bharat Gaurav Paryatak Train मंगलवार से 18 दिनों के लिए अपनी पहली श्री रामायण यात्रा (Shri Ramayana Yatra) शुरू कर रही है, रामायण सर्किट (Ramayana Circuit) पर चलने वाली ट्रेन की पहली यात्रा अन्य लोकप्रिय स्थानों के अलावा पहली बार जनकपुर (नेपाल में) के धार्मिक स्थल को भी कवर करेगी। इसके अलावा यह अयोध्या, नंदीग्राम, सीतामढ़ी, वाराणसी, प्रयागराज, चित्रकूट, पंचवटी (नासिक), हम्पी, रामेश्वरम और भद्राचलम जैसे गंतव्य पर भी जाएगी। केंद्रीय पर्यटन मंत्री किशन रेड्डी (Kishan Reddy) ने रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव के साथ मंगलवार को इस ट्रेन को हरी झंडी दिखाई।

केंद्रीय मंत्री जी किशन रेड्डी ने कहा कि पर्यटन मंत्रालय ने आईआरसीटीसी (IRCTC) और रेल मंत्रालय (Ministry of Railway) के साथ मिलकर कृष्णा सर्किटट, बौद्ध सर्किट और कई अन्य सर्किटों के लिए भारत गौरव टूरिस्ट ट्रेनों का प्रस्ताव रखा है। भारत गौरव ट्रेनें (Bharat Gaurav Train) भारत के लोगों को देश की समृद्ध सांस्कृतिक, आध्यात्मिक और ऐतिहासिक विरासत दिखाने का एक प्रयास है।

उन्होंने कहा कि रेल मंत्रालय द्वारा परिकल्पित भारत गौरव ट्रेनों की अनूठी अवधारणा, देश भर में बड़े पैमाने पर पर्यटन को बढ़ावा देने में सहायक होगी और देश के सभी हिस्सों के लोगों को देश के स्थापत्य, सांस्कृतिक और ऐतिहासिक चमत्कारों का पता लगाने का अवसर प्रदान करेगी। रेड्डी ने यह भी बताया कि ट्रेनों के डिब्बों के बाहरी हिस्से को भारत गौरव या भारत के गौरव के बहुरूपदर्शक के रूप में डिजाइन किया गया है, जिसमें भारत के विभिन्न पहलुओं जैसे स्मारकों, नृत्यों, योग, लोक कला आदि पर प्रकाश डाला गया है।

Bharat Gaurav Paryatak Train भारत और नेपाल को
भगवान Hanuman के जन्मस्थली को विकसित करने के लिए खाका तैयार है: Karnataka BJP

केंद्रीय रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव (Ashwini Vaishnaw) ने कहा कि यह हम सभी के लिए एक ऐतिहासिक दिन है। यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की ओर से अपने नागरिकों के लिए एक तोहफा है, और प्रधानमंत्री का एक सपना अब साकार हो गया है। अश्विनी वैष्णव ने आगे कहा कि भारत गौरव ट्रेन का मुख्य उद्देश्य भारत की विविध संस्कृति और समृद्ध विरासत को प्रदर्शित करना है। भारत गौरव पर्यटक ट्रेनों के रूप में ब्रांडेड, आईआरसीटीसी थीम आधारित पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए इन विशेष आराम श्रेणी की पर्यटक ट्रेनों का संचालन कर रहा है। ट्रेन के डिब्बों का हाल ही में नवीनीकरण किया गया है और सुविधाओं और सेवाओं को उन्नत किया गया है।
(आईएएनएस/PS)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com