पीटीआई का दावा, इमरान खान पर हुए हमले के पीछे सरकार और सेना की साजिश

पीटीआई के महासचिव असद उमर ने कहा कि पार्टी अध्यक्ष इमरान खान को उनकी हत्या की कोशिश में तीन लोगों पर शक है - प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, गृहमंत्री राणा सनाउल्लाह और एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी
इमरान खान
इमरान खानWikimedia

पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) के महासचिव असद उमर ने गुरुवार को कहा कि पार्टी अध्यक्ष इमरान खान (Imran Khan) को उनकी हत्या की गई कोशिश में उन्हें तीन लोगों पर शक है - प्रधानमंत्री शहबाज शरीफ, गृहमंत्री राणा सनाउल्लाह और एक वरिष्ठ सैन्य अधिकारी। मीडिया की एक खबर में यह बात कही गई। जियो न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, उमर ने पार्टी नेता मियां असलम इकबाल के साथ एक वीडियो बयान में कहा, "इमरान खान ने कहा है कि उन्हें पहले से ही जानकारी थी कि ये लोग उन पर हत्या के प्रयास में शामिल हो सकते हैं।"

रिपोर्ट में कहा गया है कि उमर ने पीटीआई अध्यक्ष के हवाले से मांग की कि तीन लोगों - प्रधानमंत्री, गृहमंत्री और वरिष्ठ सैन्य अधिकारी को उनके पद से हटा दिया जाना चाहिए।

इमरान खान
इमरान खानIANS

पीटीआई नेता ने कहा कि खान ने चेतावनी दी है कि अगर इन अधिकारियों को उनके पद से नहीं हटाया गया तो पार्टी देशव्यापी विरोध प्रदर्शन करेगी, क्योंकि पाकिस्तान (Pakistan) अब इस तरह नहीं चल सकता।

उमर ने कहा, "अगर मांगें नहीं मानी जाती हैं, तो पार्टी के सभी कार्यकर्ता खान के आह्वान का इंतजार कर रहे हैं, और जब वह यह आह्वान करेंगे, तो देशभर में विरोध प्रदर्शन होंगे।"

इस बीच, शरीफ ने गुजरांवाला में गोलीबारी की घटना की निंदा की और गृहमंत्री राणा सनाउल्लाह को पुलिस महानिरीक्षक और पंजाब के मुख्य सचिव से तत्काल रिपोर्ट मांगने का निर्देश दिया।

गुजरांवाला में पीटीआई (PTI) के लंबे मार्च के दौरान एक बंदूक हमले में खान और पीटीआई के अन्य नेताओं के घायल होने के बाद देशभर के कई शहरों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए।

एआरवाई न्यूज की रिपोर्ट के अनुसार, पार्टी के लंबे मार्च के दौरान गुजरांवाला के अल्लाहवाला चौक पर पीटीआई के स्वागत शिविर के पास एक व्यक्ति द्वारा की गई गोलीबारी में खान और अन्य पीटीआई नेता घायल हो गए।

इमरान खान
यूएनएससी में रूस के एक प्रस्ताव पर वोटिंग करने से भारत ने परहेज किया

रिपोर्ट में कहा गया है कि बंदूक के हमले के बाद, खान पर हत्या के प्रयास के खिलाफ देश भर के विभिन्न शहरों में विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए।

पीटीआई कार्यकर्ताओं ने कराची में 17 इलाकों में बंदूक हमले के खिलाफ प्रदर्शन शुरू कर दिया। उग्र पार्टी कार्यकर्ताओं ने उत्तरी कराची के पावर हाउस चौरांगी में सड़क जाम कर दिया, जबकि बड़ी संख्या में पीटीआई समर्थकों ने कोरंगी रोड पर विरोध दर्ज कराया।

आईएएनएस/RS

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com