केंद्रीय मंत्री ने प्रकृति संरक्षण के लिए 'संकल्प' कार्यक्रम का किया उद्घाटन

प्रकृति संरक्षण और प्राकृतिक संसाधनों को बढ़ावा देने के लिए एम3एम फाउंडेशन ने 'संकल्प' कार्यक्रम शुरू किया।
केंद्रीय मंत्री ने प्रकृति संरक्षण के लिए 'संकल्प' कार्यक्रम का किया उद्घाटन
केंद्रीय मंत्री ने प्रकृति संरक्षण के लिए 'संकल्प' कार्यक्रम का किया उद्घाटनMP Inderjeet Singh (IANS)

प्रकृति संरक्षण और प्राकृतिक संसाधनों को बढ़ावा देने के लिए एक स्थायी पारिस्थितिकी तंत्र प्राप्त करने और जागरूकता फैलाने के लिए एम3एम फाउंडेशन ने 'संकल्प' कार्यक्रम शुरू किया। इस कार्यक्रम का उद्घाटन गुरुग्राम के सांसद राव इंद्रजीत सिंह ने गुरुवार को विश्व प्रकृति संरक्षण दिवस के अवसर पर किया।

एम3एम फाउंडेशन अपने 'संकल्प' कार्यक्रम के साथ गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (GMDA) और नगर निगम गुरुग्राम (MCG) के साथ टौरू (नूह) के कई गांवों में जल स्रोतों, भूमि समतलीकरण, वर्षा जल संचयन और वृक्षारोपण के माध्यम से प्रकृति संरक्षण की दिशा में काम करेगा। सोहना और गुरुग्राम (ब्लॉक) और अगले पांच वर्षों के भीतर इन कार्यों को तीन चरणों में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

इस कार्यक्रम के तहत 100 तालाबों का कायाकल्प, 150 विद्यालयों में वर्षा जल संचयन संरचनाओं का निर्माण, 500 विभिन्न जल संरक्षण संरचनाओं के निर्माण से लगभग 15,000 मिलियन लीटर जल भंडारण क्षमता का निर्माण होगा।

पहल के तहत टौरू (नूह), सोहना और गुरुग्राम (ब्लॉक) के चिन्हित गांवों में दो लाख से अधिक पेड़ लगाए जाएंगे।

केंद्रीय मंत्री ने पर्यावरण संरक्षण पर जोर देते हुए कहा, अगर हमें अपनी आने वाली पीढ़ियों को एक सुरक्षित और स्वस्थ भविष्य देना है, तो हमें पर्यावरण के प्रति अपनी नैतिक जिम्मेदारी को समझना होगा और इसके संरक्षण में अपना योगदान देना होगा।

जीएमडीए के अतिरिक्त सीईओ सुभाष यादव ने बताया कि जीएमडीए और एम3एम फाउंडेशन के साथ हुए एमओयू के तहत फाउंडेशन पूरे शहर में पौधरोपण के लिए करीब 2.25 लाख पौधे उपलब्ध कराएगा।

यादव ने कहा कि एमसीजी के साथ हस्ताक्षरित एमओयू के तहत, कंपनी दरबारीपुर गांव में लगभग 15 एकड़ क्षेत्र में जैव विविधता पार्क स्थापित करने में भी योगदान देगी।

एम3एम फाउंडेशन की ट्रस्टी पायल कनोदिया ने कहा, ''संकल्प' कार्यक्रम का उद्देश्य प्राकृतिक संसाधनों के संरक्षण के साथ-साथ आने वाली पीढ़ी को बेहतर भविष्य देना है। हम हरियाणा सरकार और इस क्षेत्र में विशेषज्ञता रखने वाले संगठन सर सैयद ट्रस्ट के उनके बहुमूल्य समर्थन के लिए उनके आभारी हैं।

(आईएएनएस/AV)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com