Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
देश

चक्रवाती तूफान का सामना करने के लिए तैयार है एनडीआरएफ

चक्रवाती तूफान का सामना करने के लिए अंडमान निकोबार की 2 टीमों को मिलाकर एनडीआरएफ ने कुल 62 टीमों को तैनात करा है।

चक्रवाती तूफान का सामना करने के लिए तैयार है एनडीआरफ (File Photo)

चक्रवाती तूफान के खतरे के मद्देनजर तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी(Narendra Modi) द्वारा बुलाई गई बैठक में शामिल होने के बाद आईएएनएस से बात करते हुए एनडीआरएफ(NDRF) डीजी अतुल करवाल(Atul Karwal) ने कहा कि अंडमान निकोबार(Andaman and Nicobar) की 2 टीमों को मिलाकर एनडीआरएफ ने कुल 62 टीमों को तैनात है।

NDRF, Atul Karwal राज्यों ने जितनी टीम की मांग की थी एनडीआरएफ ने उतनी टीमों की तैनाती कर दी है- एनडीआरएफ डीजी अतुल करवाल(Twitter)


प्रधानमंत्री(Narendra Modi) के साथ बैठक के बारे में आईएएनएस से बात करते हुए एनडीआरएफ(NDRF) डीजी अतुल करवाल(Atul Karwal) ने कहा कि आईएमडी(IMD)की तरफ से चक्रवाती तूफान को लेकर मिली चेतावनी के मद्देनजर सभी विभागों की तैयारियों को लेकर प्रधानमंत्री ने यह रिव्यु मीटिंग बुलाई थी, ताकि सभी विभाग सही तरीके से समन्वय के साथ काम करें।

साथ ही साथ एनडीआरएफ डीजी(Atul Karwal) ने कहा कि राज्यों ने जितनी टीम की मांग की थी एनडीआरएफ ने उतनी टीमों की तैनाती कर दी है और इसके साथ ही 3-4 जगहों पर रिजर्व टीमों को भी रखा गया है, जिसे जरूरत पड़ने पर राज्य सरकारों की मांग के अनुसार सड़क द्वारा या एयर लिफ्ट करके भी तैनात किया जा सकता है।

यह भी पढ़े - यूपीटीईटी पेपर लीक मामले में सचिव संजय कुमार पर गिरी गाज

अपको बता दें, भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) ने मंगलवार को कहा था। दक्षिण थाईलैंड पर कम दबाव कारण 4 दिसंबर को पूर्वी तट पर एक चक्रवाती तूफान के रूप में उभरने की संभावना है। पहले से ही बारिश और बाढ़ से प्रभावित पूर्वी तट पर और अधिक बारिश होने की संभावना है, क्योंकि मंगलवार को दक्षिण थाईलैंड और पड़ोस में कम दबाव बना हुआ है और बुधवार तड़के तक अंडमान(Andaman)सागर में उभरने की संभावना है।

Input : आईएएनएस ; Edited by Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Popular

गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर निकलने वाली झांकी में देवभूमि की झांकी का चयन हुआ है।(IANS)

गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर निकलने वाली झांकी में देवभूमि की झांकी का चयन हुआ है। इस बार गणतंत्र दिवस के मौके पर राजपथ पर होने वाली परेड में मोक्षधाम भगवान बदरीविशाल, विश्वप्रसिद्ध टिहरी डैम, हेमकुंड साहिब, ऐतिहासिक डोबरा चांठी पुल से सजी देवभूमि उत्तराखंड की झांकी गणतंत्र दिवस राजपथ पर नजर आएगी। 73वें गणतंत्र दिवस में शामिल की गई इस झांकी में बदरीनाथ मंदिर, विश्वप्रसिद्ध टिहरी डैम, हेमकुंड साहिब,ऐतिहासिक डोबरा चांठी पुल की भव्यता एवं दिव्यता को दशार्या जाएगा।

बीते साल 2021 में उत्तराखंड की झांकी केदारखंड के मॉडल को स्वीकृति मिली थी। राजपथ पर निकली 'केदारखण्ड की झांकी,' देश में तीसरे स्थान पर रही थी। उत्तराखंड को पहली बार झांकी को लेकर पुरस्कार मिला था। राजपथ में केदारखंड की थीम पर निकली उत्तराखंड राज्य की झांकी को काफी सराहा गया था।

Keep Reading Show less

महामारी के बीच डोलो 650 ब्रांड बुखार की सर्वोत्तम दवा का पर्याय बन गया है। (Pixabay)

yuकोविड-19 महामारी ने कई स्वास्थ्य सेवाओं और फार्मा कंपनियों को अरबपति बना दिया है। इसी कड़ी में डोलो 650 गोली के निर्माता का भी भाग्य संवर गया है, क्योंकि महामारी के दौरान चिकित्सक सबसे अधिक यही दवा लेने की सलाह देते रहे हैं। मार्च 2020 में कोविड के प्रकोप के बाद से 350 करोड़ से अधिक डोलो गोलियां बेची गई हैं। हेल्थकेयर रिसर्च फर्म आईक्यूवीआईए के आंकड़ों के अनुसार, भारत ने 2019 में कोविड के प्रकोप से पहले बेंगलुरु स्थित माइक्रो लैब्स लिमिटेड द्वारा निर्मित पैरासिटामोल टैबलेट - डोलो के लगभग 7.5 करोड़ स्ट्रिप्स बेचे। डोलो, जो इस समय कोविड-19 से संक्रमित रोगियों के लिए सबसे अधिक लिखी जाने वाली बुखार की दवा है। आंकड़ों के अनुसार, इस दवा कंपनी ने 2021 में 307 करोड़ रुपये का कारोबार किया।इसकी तुलना में, जीएसके फार्मास्युटिकल्स कैलपोल का कारोबार 310 करोड़ रुपये रहा, जबकि क्रोसिन ने पिछले साल 23.6 करोड़ रुपये की बिक्री दर्ज की थी। इस तरह, महामारी के बीच डोलो 650 ब्रांड बुखार की सर्वोत्तम दवा का पर्याय बन गया है।

नई दिल्ली के द्वारका स्थित मणिपाल अस्पताल के एचओडी और सलाहकार (आंतरिक चिकित्सा) चारु गोयल सचदेवा के अनुसार, डोलो 650 मूल रूप से एक पैरासिटामोल दवा है। चारु गोयल ने आईएएनएस को बताया, "अपनी सुरक्षा प्रोफाइल और इसकी प्रभावकारिता के कारण डोलो 650 बेहतर है। हमने अनुभव किया है कि लोग इस पर अच्छी प्रतिक्रिया देते हैं, कहते हैं कि इस दवा से बुखार तेजी से कम होने लगता है। यह न केवल ज्वरनाशक दवा है, बल्कि इसका शरीर पर कोई दुष्प्रभाव भी नहीं पड़ता। आपको नेफ्रोटॉक्सिसिटी या कई अन्य दवाओं की तरह साइडइफेक्ट की चिंता करने की जरूरत नहीं है।"

Covid, medicine, Dolo 65, helth, \u0915\u094b\u0930\u094b\u0928\u093e \u092e\u0939\u093e\u092e\u093e\u0930\u0940, \u0938\u094d\u0935\u093e\u0938\u094d\u0925\u094d\u092f, \u0921\u094b\u0932\u094b 650 महामारी के बीच डोलो 650 ब्रांड बुखार की सर्वोत्तम दवा का पर्याय (Pixabay)

Keep Reading Show less

माइक्रोसॉफ्ट गेमिंग के सीईओ फिल स्पेंसर ने एक ट्वीट में कहा कि सोनी प्लेटफॉर्म पर सीओडी का भविष्य है। ( Pixabay )

माइक्रोसॉफ्ट ने आखिरकार शुक्रवार को पुष्टि की कि वह लोकप्रिय गेम कॉल ऑफ ड्यूटी (सीओडी) को सोनी प्लेस्टेशन पर बने रहने की अनुमति देगा, क्योंकि अमेरिकी टेक दिग्गज ने सीओडी निर्माता एक्टिविजन ब्लिजार्ड को 69 बिलियन डॉलर में खरीद लिया था। माइक्रोसॉफ्ट गेमिंग के सीईओ फिल स्पेंसर ने एक ट्वीट में कहा कि सोनी प्लेटफॉर्म पर सीओडी का भविष्य है।

स्पेंसर ने कहा, "सोनी में नेताओं के साथ इस सप्ताह अच्छी बातचीत हुई। मैंने एक्टिविजन ब्लिजार्ड के अधिग्रहण पर सभी मौजूदा समझौतों का सम्मान करने और सोनी प्लेस्टेशन पर कॉल ऑफ ड्यूटी रखने की हमारी इच्छा की पुष्टि की।" उन्होंने कहा, "सोनी हमारे उद्योग का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और हम अपने रिश्ते को महत्व देते हैं।"
ऐसी चिंताएं थीं कि सीओडी माइक्रोसॉफ्ट एक्सबॉक्स एक्सक्लूसिव फ्रैंचाइजी बन सकता है।

Microsoft, game, technology, soni PlayStation, \u092e\u093e\u0907\u0915\u094d\u0930\u094b\u0938\u0949\u092b\u094d\u091f, \u0938\u094b\u0928\u0940, माइक्रोसॉफ्ट एक्सबॉक्स और सोनी प्लेस्टेशन गेमिंग कंसोल में बेहद लोकप्रिय है। ( Wikimedia Commons )

Keep reading... Show less