Thursday, May 13, 2021
Home मनोरंजन कभी कॉलेज नहीं गया इसलिए कॉलेज की कहानियों से जुड़ नहीं पाया...

कभी कॉलेज नहीं गया इसलिए कॉलेज की कहानियों से जुड़ नहीं पाया : राणा दग्गुबाती

'बाहुबली' फेम राणा दग्गुबाती को इस साल अभिनय के पेशे में 11 साल पूरे हो जाएंगे। बीते शुक्रवार को उनकी नई तेलुगु फिल्म 'अरन्या' रिलीज हुई है।


‘बाहुबली’ ( Bahubali ) फेम राणा दग्गुबाती को इस साल अभिनय के पेशे में 11 साल पूरे हो जाएंगे। बीते शुक्रवार को उनकी नई तेलुगु फिल्म ‘अरन्या’ रिलीज हुई है। कई भाषाओं में रिलीज हुई इस फिल्म का तमिल वर्जन में शीर्षक ‘कादन’ और हिंदी में ‘हाथी मेरे साथी’ है। हालांकि मुंबई में कोविड मामलों की बढ़ती संख्या के कारण फिल्म की रिलीज को स्थगित कर दिया गया है। दादासाहेब फाल्के विजेता निर्माता डी.राम नायडू के पोते और तेलुगु सुपरस्टार वेंकटेश के भतीजे राणा ने 2010 में तेलुगु फिल्म ‘लीडर’ से करियर शुरू किया था। इसके एक साल बाद उन्होंने रोहन हिप्पी की मल्टीस्टारर फिल्म ‘दम मारो दम’ से बॉलीवुड में डेब्यू किया।

राणा ने आईएएनएस से कहा, “जब मैं इंडस्ट्री में आया था, तब बहुत कम विकल्प थे। मैं कोई ऐसा कलाकार नहीं हूं जो रोमांटिक फिल्में करता हो। मैं कॉलेज नहीं गया हूं इसलिए मैं ऐसी कहानियों से कभी जुड़ा ही नहीं। मैं ऐसा भी नहीं था जो बदला, एक्शन जैसी फिल्मों को बहुत पसंद करता हो, लिहाजा मेरे पास तो विकल्प और भी कम थे।”

यह भी पढ़ें :  पक्षपात सभी उद्योग में मौजूद है!
 

ब्लॉकबस्टर ‘बाहुबली’ ( Bahubali ) में भल्लालदेव के किरदार से पूरे देश में मशहूर हुए राणा कहते हैं, “मैंने कभी भी भाषा को एक बाधा के रूप में नहीं रखा। जो मेरे सामने आया, वो काम मैंने किया।” राणा ने पिछले एक दशक में बॉलीवुड ( Bolloywood ) में ‘दम मारो दम’ के अलावा ‘बेबी’, ‘डिपार्टमेंट’ ‘ये जवानी है दीवानी’, ‘हाउसफुल 4’, और वेलकम टू न्यूयॉर्क में काम किया है।

वह कहते हैं, “अब मुझे तमिल, तेलुगु, मलयालम, हिंदी आदि में कई कहानियां मिलती हैं। इसलिए, मुझे लगता है कि यह एक कलाकार या निर्माता के लिए अच्छा है। वैसे भी कहानियां कहने के लिए आज से बेहतर समय नहीं है।” (AK आईएएनएस )
 

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,638FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी