Sunday, May 16, 2021
Home देश केंद्र सरकार ने किसानों को कानूनी बंदिशों से आजादी दी है :...

केंद्र सरकार ने किसानों को कानूनी बंदिशों से आजादी दी है : नरेंद्र सिंह तोमर

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरुवार को कहा कि लोकतंत्र में कोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाला कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती।

केंद्रीय कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरुवार को कहा कि लोकतंत्र में कोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाला कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती। उन्होंने मोदी सरकार के कृषि सुधार कानूनों के विरुद्ध दिल्ली की सीमाओं पर चले रहे आंदोलन पर सवाल उठाते हुए कहा कि “केंद्र सरकार ने किसानों को कानूनी बंदिशों से आजादी दी है तो इसमें गलत क्या है?” केंद्रीय कृषि मंत्री पूसा कृषि विज्ञान मेले के उद्घाटन समारोह में बोल रहे थे। उन्होंने कहा, “नए कृषि कानून में किसानों को यह आजादी दी गई है कि वे (एपीएमसी) मंडी के बाहर या भीतर कहीं भी, किसी को भी मनचाही कीमत पर अपनी फसल बेच सकते हैं। साथ ही, मंडी के बाहर होने वाले कृषि उत्पादों के व्यापार को शुल्क मुक्त कर दिया है।”

उन्होंने सवालिया लहजे में कहा, “केंद्र सरकार ने बिना टैक्स के कहीं भी उपज बेचने की अनुमति दी और कानूनी बंदिशों से आजादी दी तो इसमें गलत क्या है?”

तोमर ने कहा, “जो राज्य सरकारें टैक्स लगा रही हैं, उनके खिलाफ तो कोई बोल नहीं रहा है, आंदोलनकारी भाई भी उन लोगों के खिलाफ आंदोलन कर रहे हैं, जिन्होंने (भारत सरकार) किसानों की फसल पर टैक्स माफ कर दिया।”

केंद्रीय कृषि मंत्री ने यहां के पूसा स्थित भारतीय कृषि अनुसंधान परिषद (आईसीएआर) के परिसर में तीन दिवसीय वार्षिक पूसा कृषि विज्ञान मेले का शुभारंभ किया। यह मेला ‘कृषि कुंभ’ कहलाता है, जिसमें बड़ी तादाद में देशभर के किसान पहुंचे हैं। इस मौके पर उन्होंने वहां मौजूद किसानों से पूछा, “क्या यह आंदोलन न्यायोचित है?”
 

कोई भी सरकार किसानों को नुकसान पहुंचाने वाला कानून बनाने की हिमाकत नहीं कर सकती : तोमर | (Unsplash)

किसानों की ओर से ‘नहीं’ में उत्तर मिलने पर तोमर ने कहा कि दुर्भाग्य से यह आंदोलन हो रहा है। उन्होंने कहा, “हमारे देश में लोकतंत्र है, अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है और कुछ लोग तो देश में ऐसे हैं कि जब सुबह उनकी नींद खुलती है, तब से लेकर रात में सोने के वक्त तक मोदी जी (प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी) को कोसने का संकल्प लेते हैं। बस, अंतर इतना ही है कि कभी चेहरा किसी का होता है, कभी चेहरा किसी और का।”

आत्मनिर्भर किसान की थीम पर आयोजित मेले के उद्घाटन समारोह में बतौर मुख्य अतिथि पहुंचे तोमर ने किसानों से केंद्र सरकार द्वारा लागू अनेक योजनाओं व कार्यक्रमों का पूरा लाभ उठाने का आग्रह करते हुए कहा कि देश का किसान मजबूत होगा तो गांव मजबूत होगा, खेती समृद्ध होगी तो भारत समृद्ध होगा, तभी आने वाले कल में भारत दुनिया के श्रेष्ठ राष्ट्र के रूप में स्थापित हो पाएगा।

कार्यक्रम में बतौर विशेष अतिथि पहुंचे कृषि एवं किसान कल्याण राज्यमंत्री कैलाश चौधरी ने कहा, “हमारे किसान व वैज्ञानिक प्रगति कर रहे हैं, सरकार भी कृषि क्षेत्र की तरक्की के लिए लगातार काम कर रही है।”

यह भी पढ़े :- कोरोना काल में प्रवासी श्रमिकों के लिए बड़ा संबल साबित हुई “मनरेगा” रोजगार योजना !

कार्यक्रम के दौरान केंद्रीय मंत्री तोमर ने सौर ऊर्जा चालित पूसा फार्म सन फ्रिज का उद्घाटन किया। उन्होंने फसल प्रदर्शनी का अवलोकन करने के साथ-साथ किसानों से चर्चा भी की। तोमर ने संस्थान के प्रकाशनों का विमोचन भी किया। (आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,635FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी