Sunday, May 16, 2021
Home दुनिया उत्तर कोरिया ने कर रखा सबकी नाक में दम, पढ़िए यह रिपोर्ट!

उत्तर कोरिया ने कर रखा सबकी नाक में दम, पढ़िए यह रिपोर्ट!

संयुक्त राष्ट्र की एक गोपनीय रिपोर्ट में कहा गया है कि उत्तर कोरिया ने अंतरराष्ट्रीय कानून का उल्लंघन करते हुए अपने परमाणु कार्यक्रम और बैलिस्टिक मिसाइल क्षमताओं को निधि देने के लिए करोड़ों डॉलर की चोरी करने के लिए साइबर हमले का इस्तेमाल किया है। रिपोर्ट! जिसे मंगलवार को मीडिया में लीक किया गया था, का कहना है कि उत्तर कोरिया 2020 में कई अंतरराष्ट्रीय प्रतिबंधों के अधीन होने के बावजूद अपने परमाणु और मिसाइल कार्यक्रमों को आगे बढ़ाने में कामयाब रहा।

एक गुमनाम संयुक्त राष्ट्र अधिकारी ने रिपोर्ट में बताया कि उत्तर कोरिया ने अपने सुरक्षा बजट में 300 मिलियन डॉलर की वृद्धि की है, और यह सब ऑनलाइन दोखाधड़ी से जुटाया गया पैसा है। रिपोर्ट में यह भी बताया गया की जिस बैलिस्टिक मिसाइल को उ. कोरिया के परेड में प्रदर्शित किया गया था वह इतना परमाणु हथियार रखने की क्षमता रखता है जो पुरे अमेरिका को अपनी चपेट में ले लेगा। 

प्योंगयांग ने जनवरी में दावा किया था ‘सबसे शक्तिशाली हथियार’ जो पनडुब्बी से लॉन्च किया जाने बैलिस्टिक मिसाइल है। इसका प्रशिक्षण होना बाकि है, जिस वजह से इसकी शक्ति का अंदाज़ा लगा पाना मुश्किल है। उ. कोरिया पर अध्ययन करने वाली विश्लेषक सोजिन लिम ने कहा कि “यह सैन्य परेड अमेरिका में आई नई सरकार को चेताने जैसा भी प्रतीत हो रहा है।” 

लिम ने VOA को बताया कि “परमाणु कार्यक्रम उत्तर कोरिया के लिए एकमात्र जीवित रणनीति है, विशेष रूप से किम के परिवार के लिए और शासन के अस्तित्व के लिए। हाल ही में, COVID-19 स्थिति के कारण, उनकी आर्थिक स्थिति और भी बदतर हो गई है। और विशेष रूप से (संयुक्त) राज्यों में नए प्रशासन के साथ, नए राष्ट्रपति जो बाइडन हैं, और उत्तर कोरिया के पास अमेरिका के साथ चर्चा करने या बातचीत करने का कोई अन्य तरीका नहीं है।”

उत्तर कोरिया North Korea
उत्तर कोरिया की बढ़ती ताकत बढ़ा रही है विश्व की चिंता।(VOA)

इस रिपोर्ट को अमेरिकी सुरक्षा परिषद की उत्तर कोरिया प्रतिबंध समिति के स्वतंत्र मॉनिटरिंग विभाग द्वारा लिखा गया था और वह मंगलवार को मीडिया में लीक हो गया। उत्तर कोरिया संयुक्त राष्ट्र, संयुक्त राज्य अमेरिका और यूरोपीय संघ के बीच बहुपक्षीय और एकतरफा प्रतिबंधों की एक श्रृंखला के अधीन है। उपायों ने काम नहीं किया, लिम ने यह भी तर्क दिया।

यह भी पढ़ें: चीनी आक्रामकता के खिलाफ भारत के साथ खड़ा रहेगा अमेरिका : प्रवक्ता

लिम आगे बताती है कि “प्रतिबंध नागरिकों के लिए अधिक कठिनाई देते हैं, लेकिन इसका अपना उद्देश्य है, जो देश की नीति में परिवर्तन लती है, लेकिन वह उस तरह से काम नहीं कर रहा है, और उत्तर कोरिया वित्त जुटाने के नए तरीके खोजने में सफल रहा है, और इस धनराशि के साथ साइबर हमले ने मुझे और भी आश्वस्त कर दिया है कि प्रतिबंध काम नहीं करते हैं। और हमें अब उत्तर कोरिया से संपर्क करने के लिए एक नया फ्रेम (कार्य) खोजने की जरूरत है।” 

पिछले एक दशक में, उत्तर कोरिया ने मिसाइल और परमाणु परीक्षणों के बढ़ते आकार की एक श्रृंखला आयोजित की है। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन से 2018 और 2019 में तीन बार मुलाकात की, लेकिन प्योंगयांग को अपने परमाणु हथियार छोड़ने के लिए राजी करने में वार्ता विफल रही। बाइडन प्रशासन भी बातचीत के लिए नए तौर तरीके ढूंढ रही है, अमेरिकी राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जेक सुलिवन ने 4 फरवरी को संवाददाताओं से कहा।(VOA)

(हिंदी अनुवाद: Shantanoo Mishra)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,635FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी