2020 के ओटीटी सिनेमा जगत के बड़े नाम जिन्होंने जीता सबका दिल

बॉलीवुड हमेशा से बड़े नामों और सरनेम से चलता आ रहा है, लेकिन इस साल चीजें कुछ अलग रही हैं। जैसा कि 2020 समाप्त होने वाला है, आप नोटिस करेंगे कि यह वर्ष उनलोगों के लिए शानदार रहा, जो एक बड़े पृष्ठभूमि से नहीं आते हैं।

ott ओटीटी
ओटीटी सिनेमा के अलग अलग ब्रांड्स । (सांकेतिक चित्र, Social media)

बॉलीवुड हमेशा से बड़े नामों और सरनेम से चलता आ रहा है, लेकिन इस साल चीजें कुछ अलग रही हैं। जैसा कि 2020 समाप्त होने वाला है, आप नोटिस करेंगे कि यह वर्ष उनलोगों के लिए शानदार रहा, जो एक बड़े पृष्ठभूमि से नहीं आते हैं। चकाचौंध से दूर, यह एक ऐसा साल रहा है, जब कई छुपे रूस्तमों ने शोबीज में अपना नाम कमाया। इसका का एक बड़ा कारण ओटीटी का आगमन है, एक ऐसा डोमेन जो सभी के लिए समान अवसर मुहैया कराता है।

आईएएनएस ने उन नामों को सूचीबद्ध किया है

प्रतीक गांधी : हंसल मेहता की जीवनी पर आधारित ड्रामा , ‘स्कैम 1992: द हर्षद मेहता स्टोरी’ में उन्होंने शानदार काम किया और शो ने उनके करियर ग्राफ को ऊंचा कर दिया है। जब हर्षद मेहता की बायो-सीरीज रिलीज हुई तब गुजराती स्क्रीन और स्टेज पर प्रतीक अपनी पहचान बना रहे थे। उन्होंने आईएएनएस को बताया कि 2020 निश्चित रूप से उनके लिए एक गेमचेंजर रहा है।

उन्होंने कहा, “इस (श्रृंखला) ने मुझे बहुत सारी चीजें दीं और मैं इस तथ्य को पचाने की कोशिश कर रहा हूं कि शो के बाद जो हो रहा है वह वास्तविक है। इस पूरे साल 2020 ने मुझे व्यक्तिगत स्तर पर बहुत सारी चीजें सिखाई हैं।”

जितेन्द्र कुमार: 2020 उनके लिए गेमचेंजर साबित हुआ। उन्होंने फरवरी में रिलीज ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ में आयुष्मान खुराना की ऑन-स्क्रीन समलैंगिक प्रेमी के रूप में प्रसिद्धि पाई। लेकिन जिस शो ने उन्हें घर-घर में लोकप्रिय बना दिया वह , ‘पंचायत है।

उन्हें डिजिटली रिलीज हुई फिल्म ‘चमन बहार’ में भी देखा गया था।जितेंद्र ने आईएएनएस को बताया कि वह फिल्मी दुनिया में बदलाव का हिस्सा रहे हैं। उन्होंने कहा, “इस साल ने मुझे बहुत कुछ दिया है। मैं इस तरह की विविध स्क्रिप्ट के साथ प्रयोग करने में सक्षम रहा हूं। मैंने दर्शकों को कंटेंट देने का आनंद लिया।

मानवी गगरू: उन्हें ‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ में बेहतरीन रोल में देखा गया था, लेकिन ‘फॉर मोर शॉट्स प्लीज!’ ने उन्हें बड़े पैमाने पर प्रसिद्धी दिलाने में मदद दी और उनके अभिनय कौशल में निखार आया। उन्होंने आईएएनए से कहा, “‘शुभ मंगल ज्यादा सावधान’ से मेरे किरदार के साथ वर्ष की शुरुआत पहले ही एक अच्छे नोट पर शुरू हो चुकी थी। इससे बहुत प्यार मिला है। लॉकडाउन की शुरुआत में ‘सीजन टू फॉर मोर शॉट्स प्लीज’ आया, जब लोग न्यू नार्मल की समझ विकसित करने की कोशिश कर रहे थे।

सिद्धांत चतुर्वेर्दी: पिछले साल ‘गली बॉय’ में एमसी शेर का किरदार निभाकर उन्हें प्रसिद्धी हासिल की। इस साल वह दीपिका पादुकोण और अनन्या पांडे के साथ एक एक अनटाइटल्ड फिल्म में काम कर रहे हैं। साथ ही कैटरीना कैफ के साथ हॉरर कॉमेडी ‘फोन भूत’, रानी मुखर्जी और सैफ अली खान के साथ ‘बंटी और बबली 2’ में भूमिका निभा रहे हैं।

विद्युत जामवाल : किसी ने यह नहीं सोचा था कि वह बाइसेप दिखाने और खतरनाक स्टंट करने के अलावा बेहतरीन एक्ट कर सकते हैं। डिजिटली रिलीज हुई फिल्म ‘खुदा हाफिज’ में उन्होंने शानदार काम किया। एक्शन से प्रेरित इस फिल्म में अभिनय के लिए पर्याप्त गुंजाइश थी, और विद्युत ने अपने अभिनय से प्रभावित किया। फिल्म का एक और सीक्वल रिलीज के लिए तैयार है।

‘खुदा हाफिज’ के निर्देशक फारुख कबीर ने आईएएनएस को बताया, “खुदा हाफिज में इस साल विद्युत के सफल प्रदर्शन ने उन्हें एक एक्शन स्टार के अलावा अभिनेता के रूप में स्थापित किया, जोकि सराहनीय है। उन्होंने काफी प्रयास किए हैं। उन्होंने दर्शकों को वास्तव में आश्चर्यचकित किया है।”

इश्वाक सिंह: उन्होंने ‘वीरे दी वेडिंग’ और ‘तुम बिन 2’ जैसी फिल्मों में अभिनय किया है, लेकिन यह 2020 में वह हिंदी दर्शकों के बीच एक परिचित नाम बन गए। वेब श्रृंखला ‘पाताल लोक’ में उन्होंने सिपाही इमरान अंसारी की भूमिका निभाई, जिससे वह लोकप्रिय हो गए।

यह भी पढ़ें : आयुष्मान खुराना के साथ स्क्रीन साझा करने पर क्या कहा अपारशक्ति खुराना ने

कुणाल केमू: कुणाल केमू बाल कलाकार और उसके बाद वैश्विक स्तर पर सराहे जाने के बावजूद एक छुपे रूस्तम बने रहे। इस साल कुणाल ने ‘मलंग’ में एक साइको कॉप की भूमिका निभाई। उनके किरदार को काफी सराहा गया। उन्हें कॉमेडी फिल्म ‘लुटकेस’ में भी लोगों से काफी प्यार हासिल हुआ। मेगास्टारअमिताभ बच्चन ने इस फिल्म में उनके अभिनय की तारीफ की थी। कुणाल ने आईएएनएस को बताया कि जब काम की बात आती है, तो 2020 उसके लिए रोमांचक और विनम्र रहा है। उन्होंने कहा, “मुझे कछ दिलचस्प भूमिकाओं को निभाने का मौका मिला और प्रत्येक परियोजना के लिए मुझे बहुत प्यार मिला। चाहे वह मलंग, लुटकेस हो या अभय हो। कहना बहुत जल्दबाजी होगी यदि वर्ष एक गेमचेंजर रहा है, लेकिन इसने गेम को बहुत दिलचस्प जरूर बना दिया है।

दिव्येंदु शर्मा: उन्होंने निस्संदेह ‘मिजार्पुर 2’ में मुन्ना भैया और ‘बिच्छू का खिलाड़ी’ में अखिल के रूप में अपने अभिनय से खूब चर्चा बटोरी। दिव्येंदु ने आईएएनएस को बताया कि वह शुक्रगुजार हैं कि उन्हें अपने किरदारों के लिए शानदार प्रतिक्रिया मिली।

उन्होंने कहा, “मुझे पता है कि यह वर्ष महामारी के कारण चुनौतीपूर्ण रहा है, बावजूद इसके मैं आभारी महसूस करता हूं कि मैं इस तरह की अविश्वसनीय कहानियों का एक हिस्सा था। यह एक अद्भुत एहसास है कि इस साल मैंने जिन तीन पात्रों को निभाया, उनमें से तीनों पात्रों को दर्शकों ने अच्छी तरह से स्वीकार किया। (आईएएनएस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here