खिलाड़ियों के साथ इससे खराब व्यवहार नहीं हो सकता : विराट कोहली

0
14

 भारतीय टीम के नियमित कप्तान विराट कोहली ने रविवार को सिडनी क्रिकेट ग्राउंड (एससीजी) में भारत और आस्ट्रेलिया के बीच खेले जा रहे तीसरे टेस्ट मैच में आस्ट्रेलियाई दर्शकों द्वारा की गई नस्लीय टिप्पणी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा है कि खिलाड़ियों के साथ इससे खराब व्यवहार और कुछ नहीं हो सकता। कोहली ने ट्वीट कर इसके खिलाफ हमला बोला। पहला टेस्ट मैच खेलने के बाद कोहली अपने पहले बच्चे के जन्म के लिए स्वदेश लौट आए हैं। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

कोहली ने लिखा, “नस्लीय टिप्पणी बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं की जा सकती। सीमा रेखा के पास फालतू की बातें बोलना बेहद खराब है। यह खराब व्यवहार की पराकाष्ठा है। मैदान पर यह होता देखना दुखद है।” उन्होंने कहा, “इस मामले को तत्काल प्रभाव से गंभीरता से देखना चाहिए और आरोपियों के खिलाफ सख्त कदम उठाने चाहिए।”

सीमा रेखा के पास खड़े मोहम्मद सिराज पर दर्शकों ने नस्लीय टिप्पणी की। इसके बाद सिराज ने अपनी टीम के कप्तान और मैदान अंपायर से इसकी शिकायत की। इस दौरान खेल कुछ देर रुका रहा और सुरक्षा अधिकारियों ने छह दर्शकों को इस संबंध में स्टेडियम से बाहर भेज दिया। कोहली ने लिखा, “अपनी टीम के साथियों को सिडनी में लगातार नस्लीय टिप्पणी का सामना करते हुए देखना निराशाजनक है। आज की दुनिया में नस्लवाद की कोई जगह नहीं है और यह बर्दाश्त नहीं किया जा सकता। मुझे लगता है कि जिन लोगों ने खराब व्यवहार किया उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।”

यह भी पढ़ें : तो यह रहा 2020 का सबसे लोकप्रिय मोबाइल गेम

हरभजन सिंह और वीवीएस. लक्ष्मण ने भी इस मामले पर अपनी निराशा व्यक्त की है। हरभजन ने कहा कि उन्होंने ऑस्ट्रेलिया में खेलते हुए उनके धर्म और रंग को लेकर काफी चीजें सुनी हैं। हरभजन ने ट्वीट किया, “मैंने ऑस्ट्रेलिया में खेलते हुए अपने बारे में, अपने धर्म, अपने रंग और कई चीजों को लेकर काफी चीजें सुनी हैं। यह पहली बार नहीं है कि दर्शकों ने इस तरह की वाहियात हरकत की हो। आप कैसे उन्हें रोकेंगे?”

भारत के पूर्व बल्लेबाज वीवीएस. लक्ष्मण ने भी इसकी आलोचना करते हुए ट्वीट किया, “एससीजी में जो हुआ वो काफी दुर्भाग्यपूर्ण है। यह फालतू चीज बर्दाश्त नहीं। मैदान पर खिलाड़ी को गाली देने का मतलब आज तक समझ नहीं आया। अगर आप यहां मैच देखने नहीं आए हैं और सम्मानजनक व्यवहार नहीं कर सकते तो कृपया माहौल खराब करने नहीं आइए।” (आईएएनएस)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here