Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
दुनिया

हैरिस ने पाकिस्तान से आतंकवाद के खिलाफ कार्रवाई करने को कहा

अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि वह पाकिस्तान से आतंकवाद पर कार्रवाई सुनिश्चित करने के लिए कह रही हैं।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अमेरिका की उप-राष्ट्रपति कमला हैरिस।(PIB)

By: अरुल लुईस

भारत के विदेश सचिव हर्षवर्धन श्रृंगला के अनुसार, अमेरिकी उपराष्ट्रपति कमला हैरिस ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से कहा है कि वह पाकिस्तान से आतंकवाद पर कार्रवाई करने और यह सुनिश्चित करने के लिए कह रही हैं कि आतंकी समूह नई दिल्ली या वाशिंगटन को निशाना न बनाएं।

उन्होंने कहा कि जब गुरुवार को उनकी बैठक के दौरान आतंकवाद के मुद्दे सामने आए, तो "उपराष्ट्रपति ने उस संबंध में पाकिस्तान की भूमिका का उल्लेख किया। उन्होंने कहा कि वे आतंकवादी समूह थे जो वहां काम कर रहे थे। उन्होंने पाकिस्तान से कार्रवाई करने के लिए कहा ताकि ये समूह अमेरिकी सुरक्षा और भारत की सुरक्षा को प्रभावित नहीं कर सकें।"

श्रृंगला ने जोर देकर कहा कि वह सीमा पार आतंकवाद के तथ्य पर प्रधानमंत्री की ब्रीफिंग से सहमत हैं, और इस तथ्य से भी सहमत हैं कि भारत कई दशकों से आतंकवाद का शिकार रहा है, और इस तरह के आतंकवाद के लिए पाकिस्तान के समर्थन पर लगाम लगाने और बारीकी से निगरानी करने की आवश्यकता है।

दोनों नेताओं के बीच बैठक के बाद वाशिंगटन में पत्रकारों को जानकारी देते हुए उन्होंने कहा कि पहली आमने-सामने की मुलाकात, 'गर्मजोशी और सौहार्द को दर्शाती है।'

उन्होंने कहा कि चर्चा में कोविड -19 महामारी, जलवायु परिवर्तन, प्रौद्योगिकी क्षेत्र में सहयोग, साइबर सुरक्षा और अंतरिक्ष को भी शामिल किया गया था।


यह भी पढ़ें: भारत के पशुधन क्षेत्र में सुधार के लिए गेट्स फाउंडेशन के साथ समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर

व्हाइट हाउस ने बैठक के बाद एक बयान में कहा कि मोदी और हैरिस ने आतंकवाद और साइबर अपराध सहित आधुनिक खतरों का सामना करने के लिए द्विपक्षीय सुरक्षा सहयोग के विस्तार का समर्थन किया।

हैरिस राष्ट्रीय अंतरिक्ष परिषद की अध्यक्ष भी हैं। उन्होंने 'विस्तारित यूएस-भारत अंतरिक्ष सहयोग को प्रोत्साहित किया, और उन्होंने और प्रधानमंत्री मोदी ने अंतरिक्ष पर मौजूदा, मजबूत द्विपक्षीय सहयोग के निर्माण के तरीकों पर चचा की।(आईएएनएस-SHM)

Popular

कंगना ने लॉन्च किया फिल्म 'धाकड़' का पोस्टर [Wikimedia Commons]

अपने तीखे अंदाज और रोमांचक किरदारों के लिए अक्सर सुर्ख़ियों में रहने वाली कंगना रनौत ने मंगलवार को एक कार्यक्रम में फिल्म 'धाकड़' के पोस्टर को व्यक्तिगत रूप से लॉन्च किया और पत्रकारों के प्रश्नों का जवाब दिया।

बॉलीवुड में अपने संघर्षों के बारे में बताते हुए कंगना ने कहा कि मुझे लगता है कि मैंने जो कुछ भी किया है वह 'धाकड़' है। अपने घर से भागने से लेकर अब तक मैं सभी 'धाकड़' चीजें करती रहती हूं। अब मैं यह 'धाकड़' फिल्म कर रही हूं और मुझे उम्मीद है कि दर्शक इसे पसंद करेंगे।

Keep Reading Show less

देश के सभी प्रमुख घोटालों में से एक है बोफोर्स घोटाला। (Wikimedia commons)

भारतीय इतिहास की सबसे पुरानी पार्टी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस जो खुद इतिहास बनने के कगार पर है जो कई भ्रष्टाचार और घोटालों के आरोपों के दागों से सनी हुई है। आज हम इन्हीं भ्रष्टाचार के आरोपों में से एक बोफोर्स घोटाल की बात करेगें।

कहाँ से हुई बोफोर्स की शुरुआत -

बोफोर्स कहानी की शुरुआत 1986 से हुई जब भारत सरकार और स्वीडन की हथियार निर्माता कंपनी एबी बोफोर्स के बीच 1,437 करोड़ रुपये का सौदा हुआ। यह सौदा भारतीय थल सेना को 155 एमएम की 400 होवित्जर तोप की सप्लाई के लिए हुआ था। जिस समय यह करार हुआ था उस समय केंद्र में कांग्रेस की सरकार थी जिसका नेतृत्व राजीव गांधी कर रहे थे। इस घोटाले का खुलासा सबसे पहले स्वीडन के रेडियो में 1987 में किया। इस घोटाले को बोफोर्स घोटाला या बोफोर्स काण्ड का नाम दिया गया।

Keep Reading Show less

अबु धाबी में धोनी और गेल दिखे साथ [ Wikimedia Commons ]

अबु धाबी में हो रहे इस साल के T20 विश्व कप में सोमवार को भारतीय टीम ने अपने पहले वार्मअप मैच में इंग्लैंड को सात विकेट से हराया। वहीं भारतीय टीम के मेंटर महेंद्र सिंह धोनी और वेस्टइंडीज के सलामी बल्लेबाज क्रिस गेल को अबु धाबी में साथ देखा गया।

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मैच के बाद ट्विटर पर धोनी और गेल की साथ की तस्वीर को साझा करते हुए लिखा,'' दो महान खिलाड़ी एक साथ एक यादगार फोटो में।''

Keep reading... Show less