Saturday, June 12, 2021
Home देश पुलिस स्मृति दिवस 2020 : देश के पुलिसकर्मियों की अमर कहानी

पुलिस स्मृति दिवस 2020 : देश के पुलिसकर्मियों की अमर कहानी

पुलिसकर्मियों के बलिदान को स्मरण करने के लिए 21 अक्टूबर को वार्षिक रूप से पुलिस स्मृति दिवस मनाया जाता है।

भारत और चीन के बीच चल रहे आपसी तनाव से हम सभी अवगत हैं। इसकी शुरुआत 1959 में ही हो गयी थी, जब भारत की सीमा रक्षा पर हमारे 10 पुलिसकर्मियों ने शहादत को गले लगा लिया था। 

मामला उस दिन का है जब पूर्वी लद्दाख में केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) के कुल 15 जवान हॉट स्प्रिंग के पास तैनात थे।

मौका पाते ही चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने सीआरपीएफ की उस टुकड़ी पर हमला बोल दिया। इस हमले में हमारे दस जवान शहीद हो गए। बाकी बचे पांच, जिन्हें चीन ने हिरासत में धर लिया था।

बन्दी बनाये जवानों के साथ चीनी सेना ने क्रूरता पूर्ण व्यवहार किया। अंत में दिल्ली से बगावत की आवाज़ उठने पर , चीन ने दस जवानों के मृत देह के साथ उन पांच जिंदा जवानों को लौटा दिया।

यह भी पढ़ें – सीआरपीएफ तैयार करेगी 500 हाई-टेक विशेषज्ञों की टीम

हालांकि उस एक तरफ़ा युद्ध में भी हमारे देश के जवानों ने पूरी तरह से हार नहीं मानी थी।

आज पुलिसकर्मियों के उसी बलिदान के बाद, हर साल 21 अक्टूबर को वार्षिक रूप से पुलिस स्मृति दिवस (Police Commemoration Day) मनाया जाता है। उसके बाद भी ना जाने कितने पुलिसकर्मी अपनी सेवा देते हुए देश के लिए, अपने समाज के लोगों के लिए शहीद हो गए।

हम चाहे पुलिस दल से डर जाएं, या उन्हें अपशब्द कहें मगर समाज में उनकी ज़रूरत और उनकी भूमिका को कभी दरकिनार नहीं कर सकते।

यह ट्वीट देखें –

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी