ममता ने तृणमूल में भ्रष्ट नेताओं को प्रोजेक्ट किया : ओपिनियन पोल

तृणमूल कांग्रेस आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव जीतने के लिए तैयार है। वहीं भ्रष्टाचार और उसके नेताओं की छवि मतदाताओं के बीच बड़ा मुद्दा बनी हुई है।
 | 
मुख्यमंत्री ममता बनर्जी। ( Wikimedia Commons )
तृणमूल कांग्रेस आगामी पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव जीतने के लिए तैयार है। वहीं भ्रष्टाचार और उसके नेताओं की छवि मतदाताओं के बीच बड़ा मुद्दा बनी हुई है। बंगाल के लिए टाइम्स नाउ ( Times Now ) सी-वोटर ओपिनियन पोल वेव 4 के आंकड़ों के अनुसार, सर्वेक्षण में 47.9 प्रतिशत उत्तरदाताओं ने कहा कि ममता ने अपनी पार्टी में भ्रष्ट नेताओं को प्रोजेक्ट किया है।

इस सवाल पर कि क्या अब्बास सिद्दीकी के इंडियन सेक्युलर फ्रंट के साथ वाम-कांग्रेस गठबंधन ममता बनर्जी के वोट बैंक में सेंध लगाएगा, इस पर 34.5 फीसदी लोगों ने 'नहीं' में जवाब दिया, जबकि 32.6 फीसदी ने 'हां' कहा।
 
tmc
तृणमूल कांग्रेस का लोगो ।  ( Wikimedia Commons )
यह भी पढ़ें: बंगाल के भाग्य का फैसला 'बम, गोलियों' से नहीं हो सकता : गंभीर 

इस सवाल पर कि क्या ममता बनर्जी का दावा सही है कि उनकी चोट एक गहरी साजिश का नतीजा है या फिर वह सिर्फ सहानुभूति हासिल करने के लिए नाटक कर रही हैं, इस पर 40.8 फीसदी ने कहा कि यह एक गहरी साजिश है। जबकि 36.9 फीसदी ने कहा कि यह महज एक सहानुभूति हासिल करने करने को लेकर किया जा रहा ड्रामा भर है।

केरल में पोल के आंकड़ों से पता चला कि भाजपा की हिंदुत्व की राजनीति काम नहीं आने वाली है। यहां के 52.7 फीसदी उत्तरदाताओं का मानना है कि यह राजनीति यहां काम नहीं करेगी।

इसके अलावा, केरल में लव जिहाद भी कोई मुद्दा नहीं है और इस संबंध में पूछे जाने पर 53.2 फीसदी लोगों का कहना है कि इसका कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा।
( AK आईएएनएस )