Saturday, April 17, 2021
Home देश जेनेरिक आधार का मोबाइल ऑनलाइन एप्लिकेशन पूरे भारत में सिंगल रिटेल स्टोर्स...

जेनेरिक आधार का मोबाइल ऑनलाइन एप्लिकेशन पूरे भारत में सिंगल रिटेल स्टोर्स की मदद करेगा

भारत को जीवनदायी दवाओं के लिए एक बेहतर स्थान बनाने का एक ड्रीम प्रोजेक्ट है और साथ ही भारतीय परिवार को अत्यधिक महंगी मेडिसिन बिल के अपने मासिक बजट को कम करने के लिए समर्थन भी करता है।

भारत (India) में हेल्थकेयर (Health care) को डिजिटल रूप से जोड़ने के लिए जेनेरिक आधार ने मोबाइल ऑनलाइन एप्लिकेशन (Mobile application) लॉन्च किया हैं। ये भारत को जीवनदायी दवाओं के लिए एक बेहतर स्थान बनाने का एक ड्रीम प्रोजेक्ट है और साथ ही भारतीय परिवार को अत्यधिक महंगी मेडिसिन (Medicine) बिल के अपने मासिक बजट को कम करने के लिए समर्थन भी करता है। आम आदमी इस बात से अनजान है कि ब्रांडेड दवाइयां केवल अनब्रांडेड जेनेरिक दवाओं के अलावा कुछ भी नहीं हैं और इसका प्रभाव और इसकी गुणवत्ता समान रूप से योग्य हैं, लेकिन इसकी हाई मार्केटिंग (Maketing) और प्रोमोशनल स्ट्रैटेजी की वजह से इसकी अनावश्यक उच्च कीमतें जनता को प्रभावित करती हैं और बड़े पैमाने पर वरिष्ठ पेंशन नागरिकों को प्रभावित करती हैं।

जेनेरिक आधार न सिर्फ ऑफलाइन स्टोर्स को सपोर्ट कर रहा है बल्कि गोइंग डिजिटल नाउ को भी सपोर्ट कर रहा है। जेनेरिक (Generic) आधार के मोबाइल एप्लिकेशन की कई विशेषताएं हैं। जेनेरिक आधार का मोबाइल ऑनलाइन एप्लिकेशन पूरे भारत में सिंगल रिटेल स्टोर्स की मदद करेगा, ग्राहक भी इस ऐप के माध्यम से अपने निकटतम स्थान से सबसे तेजी से डिलीवरी प्राप्त कर सकते हैं।

हमें एक देश के रूप में अपने लोगों के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता है। (Unsplash)

साथ ही प्रिस्क्रिप्शन (Prescription) और प्लेस ऑर्डर (Place order) अपलोड कर सकते हैं तथा अपने नजदीकी जेनेरिक आधार स्टोर से दवा डिलीवर करा सकते हैं। साथ ही साथ सूचनाओं के माध्यम से अपने आदेशों के अपडेट प्राप्त कर सकते हैं। यही नहीं फास्ट, आसान ऑपरेटिंग ऐप और प्ले स्टोर से भी फ्री डाउनलोड कर सकते हैं।

भारतीय उद्योग जगत के पितामह कहे जाने वाले रतन टाटा (Ratan tata) ने 18 वर्ष के युवा संस्थापक अर्जुन देशपांडे (Arjun deshpande) को शुभकामनाएं और आशीर्वाद दिया। उन्होंने कहा, सबसे पहले मैं अर्जुन देशपांडे को बधाई देना चाहता हूं। हमें एक देश के रूप में अपने लोगों के स्वास्थ्य के बारे में चिंतित होने की आवश्यकता है। वर्षों से हम अपने लोगों के पिरामिड के शीर्ष पर पहुंच गए हैं। ये अच्छा है कि अब हम आम जनता तक पहुंच रहे हैं, ये अच्छा है कि हम जेनेरिक आधार के माध्यम से जेनेरिक दवाओं की ओर जा रहे हैं और जेनेरिक देश की स्वास्थ्य सेवा क्षमता को बढ़ाएंगे। मुझे उम्मीद है कि ये आंदोलन वर्षों में बढ़ता है, इस आग्रह के साथ लोगों की सेवा करने के लिए, लोगों को सस्ती कीमतों पर अपेक्षित गुणवत्ता की दवाएं उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी आती है।

यह भी पढ़े :- आपके जीवन को सही दिशा दे सकता है एक सफल माइंड पावर ट्रेनर कोच

जेनेरिक (Generic) आधार के संस्थापक अर्जुन देशपांडे ने गर्व से कहा, ” मैं व्यापार के दिग्गज, माई मेंटर, गोल्ड हर्टेड रतन सर के साथ मंच साझा करने के लिए ऊजार्वान और सम्मानित महसूस करता हूं।आज हमने जेनरिक आधार का मोबाइल एप्लिकेशन (Mobile application) लॉन्च किया है जिसमें आम जनता को लाभ पहुंचाने के लिए इसमें कुछ नई सुविधाएं जोड़ी गई हैं।” (आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,646FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

हाल की टिप्पणी