गोरखनाथ मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मेला परिसर को चार सुपर जोन में बांटा गया है। साथ ही मंदिर परिसर में थाना भी स्थापित किया गया है।
गोरखनाथ मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी (IANS)

गोरखनाथ मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी (IANS)

मेला परिसर को चार सुपर जोन में बांटा गया

उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के गोरखपुर (Gorakhpur) में गोरखनाथ मंदिर (Gorakhnath Temple) में प्रसिद्ध 'खिचड़ी मेला (Khichdi Mela)' कड़ी सुरक्षा के बीच रविवार से शुरू है। मेले में भाग लेने के लिए श्रद्धालुओं को तीन लेयर की सुरक्षा से गुजरना होगा।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (एडीजीपी) अखिल कुमार ने कहा कि श्रद्धालुओं को सुरक्षा के तीन स्तरों से गुजरना होगा। पहली चेकिंग शहर के प्रवेश द्वारों पर, दूसरी गोरखनाथ मंदिर परिसर के प्रवेश द्वारों पर और तीसरी मुख्य मंदिर के प्रवेश द्वारों पर की जाएगी।

<div class="paragraphs"><p>गोरखनाथ मंदिर को बम से उड़ाने की धमकी (IANS)</p></div>
Vastu Tip: घर के मंदिर में भूल कर न रखें ये वस्तु, हो सकते है कंगाल

गोरखनाथ मंदिर को बम से उड़ाने की कई धमकियां मिल रही हैं, जिनमें से कुछ फर्जी हैं, जिससे सुरक्षा और कड़ी कर दी गई है।

चंपा देवी पार्क (Champa devi park) में 11 से 17 जनवरी के बीच सप्ताह भर चलने वाले गोरखपुर महोत्सव को लेकर जिला प्रशासन ने तैयारियां पूरी कर ली है। महोत्सव के नोडल अधिकारी और जीडीए के उपाध्यक्ष महेंद्र सिंह तंवर ने संवाददाताओं से कहा कि महोत्सव में करीब 200 कलाकार हिस्सा लेंगे जिनमें 180 स्थानीय कलाकार भी शामिल हैं।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि मेला परिसर को चार सुपर जोन में बांटा गया है। साथ ही मंदिर परिसर में थाना भी स्थापित किया गया है।

वार्षिक खिचड़ी मेला भारत (India) के साथ-साथ नेपाल (Nepal) के लाखों भक्तों को आकर्षित करता है। गोरखनाथ मंदिर के प्रमुख उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) व्यक्तिगत रूप से व्यवस्थाओं की निगरानी कर रहे हैं।

आईएएनएस/PT

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com