Saturday, August 15, 2020
Home ट्रेंड 'गोलीमार' शाहरुख पठान को 'हीरो' बताने वाले शरजील उसमानी को, एटीएस ने...

‘गोलीमार’ शाहरुख पठान को ‘हीरो’ बताने वाले शरजील उसमानी को, एटीएस ने आजमगढ़ से किया गिरफ्तार

दिल्ली दंगों का शूटर शाहरुख पठान को हीरो और मुजाहिद बताने वाले न्यूज़लौंड्री और दी वायर के पूर्व लेखक शरजील उसमानी की गिरफ्तारी की ख़बरें सोशल मीडिया, ट्वीटर पर चर्चा का विषय बनी हुई है। शरजील के समर्थन में ट्वीटर पर लोगों ने #ReleaseSharjeelUsmani का ट्रेंड भी चलाया है।

शरजील उसमानी, इससे पहले भी सीएए प्रदर्शन के दौरान चर्चा में आया था, जब उसने अपने भाषण के जरिये लोगों को भड़काने की कोशिश की थी। शरजील उसमानी, अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी का छात्र रह चुका है। रिपोर्ट के अनुसार, कल शाम, शरजील के आजमगढ़ स्थित घर से उसे, एटीएस के 5 लोगों की एक टीम ने गिरफ्तार कर लिया था। परिवार के लोगों द्वारा किए गए दावे के अनुसार, गिरफ्तारी करने आई एटीएस की टीम ने शरजील के कमरे से उसकी लैपटॉप और किताबें भी ज़ब्त की है। 

शरजील उसमानी को लेकर हमने पहले भी रिपोर्ट किया था की, ट्वीटर के जरिये वह किस तरह सांप्रदायिक व भड़काऊ बातें कर, धार्मिक सदभावना बिगाड़ने की कोशिश करता रहता है। फरवरी में हुए दिल्ली के हिन्दू विरोधी दंगों में, हिंदुओं और पुलिस वालों पर गोलियां चलाने वाले शाहरुख पठान को भी शरजील ने हीरो बता कर उसका समर्थन किया था। इसके अलावा सीएए प्रदर्शन के दौरान, असम को भारत से काट कर अलग करने का प्रण लेने वाले शरजील इमाम का भी शरजील उसमानी ने मुखर रूप से समर्थन किया है।  

इसे पढ़ें: दी वायर व न्यूज़लौंडरी के पूर्व कर्मचारी, शरजील उसमानी ने शाहरुख पठान को बताया ‘मुजाहिद और हीरो’

शरजील उसमानी के 25 जून वाले भड़काऊ ट्वीट के संदर्भ में हमने 28 जून को उसके खिलाफ साइबर आतंकवाद फैलाने का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी। उस शिकायत में हमने बताया था की, पुलिस और हिंदुओं पर गोलियां बरसाने वाले शाहरुख पठान को हीरो और मुजाहिद बता कर शरजील उसमानी हिंदुओं पर गोलियां बरसाने को सही ठहरा रहा है, और इसके साथ की लोगों को ऐसे कृत्य के लिए उकसा भी रहा है। 

हालांकि, शरजील उसमानी की गिरफ्तारी उस ट्वीट को लेकर नहीं बल्कि सीएए प्रदर्शन के दौरान भीड़ को भड़काने को लेकर हुई है। कल शरजील की गिरफ्तारी की खबर आते ही मुस्लिम और वामपंथी समुदाय में हड़कंप मच गया है, और वो एक सुर में इसका विरोध कर रहे हैं। विरोध जताने वालों में पत्रकार राणा अयूब, सिद्धार्थ वर्धराजन जैसे कई बड़े नाम शामिल हैं। 

POST AUTHOR

Kumar Sarthak
•लेखक •घोर राजनीतिज्ञ• विश्लेषक• बकैत

जुड़े रहें

5,783FansLike
0FollowersFollow
152FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

रियाज़ नाइकू को ‘शिक्षक’ बताने वाले मीडिया संस्थानो के ‘आतंकी सोच’ का पूरा सच

कौन है रियाज़ नायकू? कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी कमांडर बुरहान वाणी 2016 में ...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

“कौन दिशा में लेके चला रे बटोहिया..” के सदाबहार गायक जसपाल सिंह की कहानी

“कौन दिशा में लेके चला रे बटोहिया” इस गाने को किसने नहीं सुना होगा। अगर आप 80’ के दशक से हैं...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

रामायण की अफीम से तुलना करने वाले प्रशांत भूषण लगातार हिन्दू धर्म को करते आयें हैं बदनाम

रामायण पर घटिया टिप्पणी करने वाले वकील प्रशांत भूषण पर इस शुक्रवार सुप्रीम कोर्ट द्वारा करारा तमाचा जड़ा गया। सुप्रीम कोर्ट...

हाल की टिप्पणी