Sunday, May 16, 2021
Home देश लघु फिल्म 'लिव योर फेयरीटेल' रिलीज, पेशेवर के बजाय स्लम के बच्चों...

लघु फिल्म ‘लिव योर फेयरीटेल’ रिलीज, पेशेवर के बजाय स्लम के बच्चों ने किया है अभिनय

एक नई लघु फिल्म, जिसका शीर्षक 'लिव योर फेयरीटेल' है, सोशल मीडिया पर जारी की गई है। यह झुग्गी-झोपड़ियों के पांच बच्चों के अनुभव को दिखाती है।

एक नई लघु फिल्म, जिसका शीर्षक ‘लिव योर फेयरीटेल’ है, सोशल मीडिया पर जारी की गई है। इसकी खास बात यह है कि इसमें कोई भी पेशेवर कलाकार नहीं है और यह जीवन में पहली बार एक रेस्तरां में भोजन करने वाले झुग्गी-झोपड़ियों के पांच बच्चों के अनुभव को दिखाती है। अरसला कुरैशी और जस सागू द्वारा निर्मित लघु फिल्म का शनिवार को यूट्यूब पर प्रीमियर हुआ। धारावी स्लम में रहने वाली 12 वर्षीय मालेशा खारवा, जिन्हें स्लम की राजकुमारी के रूप में जाना जा रहा है, उन्होंने कहा, “मैं अभी जहां हूं, वहां बहुत खुश हूं। ऐसा समय है, जब लोग मुझे अब कहीं देखते हैं तो वह सोशल मीडिया के कारण मुझे पहचानते हैं। वे वास्तव में मुझे बताते हैं कि वे प्रशंसक हैं, जो मुझे बहुत गर्व और खुश महसूस कराता है।”

उन्होंने कहा, “जब मैं अरसला दीदी और जस दीदी से मिली तो मुझे बहुत आश्चर्य हुआ, क्योंकि उन्होंने मेरे, मेरे परिवार और दोस्तों के लिए बहुत कुछ किया। मेरा जीवन बदल गया है और यह मेरे लिए एक सपना सच होने जैसा है। मैं इसके लिए अपनी दोनों दीदी को धन्यवाद देना चाहूंगी।”

मालेशा के साथ अपनी पहली मुलाकात को याद करते हुए, जस ने कहा, “जीवन में ऐसे क्षण होते हैं, जो आपको मौलिक रूप से बदलते हैं। वे आपके सामने आते हैं और एक नए आयाम को उजागर करते हैं। यही कारण है कि मालेशा और उसके पूरे परिवार से मिलना हमारे लिए कितना अभिभूत करने वाला पल रहा। हमें नहीं पता था कि हम इतना प्यार पाने के लिए भी सक्षम थे, क्योंकि हम उनके प्यार की अभिव्यक्ति से अभिभूत हैं।”

Slum Boys
स्लम के बच्चों ने किया है अभिनय| (Pexel)

उन्होंने कहा, “मालेशा एक जोशीली बच्ची है और बातचीत करना पसंद करती है। यह समझने के लिए सबसे महत्वपूर्ण है कि एक पूरी नई दुनिया मालेशा के लिए खुल गई है और हम बहुत आभारी हैं कि हम उस आंतरिक दुनिया का एक हिस्सा हैं।”

वहीं अरसला ने बताया कि फिल्म की शूटिंग भी सामान्य नहीं रही, क्योंकि फिल्म के कुछ शॉट्स आईफोन पर लिए गए हैं। हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि उन्हें यकीन है कि जब दर्शक फिल्म देखेंगे तो वह तकनीकी विसंगतियों पर ध्यान नहीं देंगे, क्योंकि इसमें बच्चों की अनकही भावनाओं को बेहतरीन कहानी के रूप में पेश किया गया है। फिल्म मालेशा के यूट्यूब चैनल पर रिलीज हुई है| (आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,635FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी