बिहार के गणतंत्र दिवस समारोह में दिखेगी शराबबंदी पर झांकी

बिहार में गणतंत्र दिवस(Republic Day) बड़े स्तर पर मनाने की तैयारी चल रही है। इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर राजधानी पटना के गांधी मैदान में 12 झांकियां लोगों का आकर्षण का केंद्र होगी।
बिहार में गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी  (सांकेतिक /Wikimedia Commons)

बिहार में गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी  (सांकेतिक /Wikimedia Commons)

गणतंत्र दिवस

न्यूज़ग्राम हिंदी: बिहार में गणतंत्र दिवस(Republic Day) बड़े स्तर पर मनाने की तैयारी चल रही है। इस साल गणतंत्र दिवस के मौके पर राजधानी पटना के गांधी मैदान में 12 झांकियां लोगों का आकर्षण का केंद्र होगी। इसमें से अधिकांश झांकियां बिहार सरकार की चल रही परियोजनाओं को प्रदर्शित करती नजर आएंगी। इन झांकियों में बिहार में लागू शराबबंदी को प्रदर्शित करने वाली झांकी में शराब पीने से होने वाले कुप्रभाव को भी दर्शाती नजर आएगी।

इन झाकियों में महिला एवं बाल विकास निगम द्वारा कामकाजी महिलाओं के लिए 'पालनाघर' परियोजना को झांकी द्वारा दिखाया जाएगा। इसमें कामकाजी महिलाएं अपने बच्चों को काम पर ले जा सकती है और यहां बच्चों को रखा जा सकता है।

इन झाकियों में उपेन्द्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान द्वारा बिहार में उद्योग के माध्यम से उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए राज्य सरकार द्वारा उठाए गए कदम को झांकी द्वारा दिखाया जाएगा। इसमें 'बिहार टैक्सटाइल एंड लेदर नीति', 'बिहार स्टार्टअप' और 'मुख्यमंत्री महिला उद्यमी योजना' को दिखाया जाएगा।

<div class="paragraphs"><p>बिहार में गणतंत्र दिवस समारोह की तैयारी&nbsp;&nbsp;(सांकेतिक /Wikimedia Commons)</p></div>
गणतंत्र दिवस पर फ्री में करें दिल्ली मेट्रो में यात्रा



पंचायती राज विभाग की झांकी में बिहार के गांव के अंदर हो रहे बदलाव को दिखाया जाएगा। इसमें गांव में लग रहे सोलर, हर घर नल योजना जैसे सशक्त पंचायत, समृद्ध गांव को दिखाया जाएगा।

इन झांकियों में जल संसाधन विभाग की भी झांकी दिखेगी, जिसमें गंगा जल आपूर्ति योजना को दिखाया जाएगा। इसके तहत गंगा के शुद्ध जल को घरों तक पहुंचाया जा रहा है।

कृषि निदेशालय की झांकी में कृषि यंत्र बैंक को दिखाया जाएगा। इसके तहत बिहार के किसानों को कृषि यंत्र बैंक की मदद से बिहार के किसानों को जो चीजें बाहर महंगे दामों में मिलती है, वह इस बैंक द्वारा सस्ते दामों पर किसानों को उपलब्ध कराए जाएंगे।

बिहार के कला, संस्कृति एवं युवा विभाग की झांकी में 'खेल रहा है बिहार, खिल रहा है बिहार' दिखाया जाएगा।

वहीं बिहार को पर्यटन का केंद्र दिखाने के लिए इस बार पर्यटन विभाग की ओर से निकलने वाली झांकी में बिहार के मंदार पर्वत, वहां के पर्यटन स्थल और ओढ़नी डैम को दिखाया जाएगा।

इसके अलावा भी कई विभागों की झाकियां प्रस्तुत की जाएंगी।

--आईएएनएस/VS

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com