छात्रा ने लीक किए दूसरी 60 छात्राओं के MMS : चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी (CU)

चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के छात्रा हॉस्टल से "नहाते हुए छात्राओं की वीडियो वायरल" होने का मामला सामने आया है।
पंजाब की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
पंजाब की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी Wikimedia

मामला पंजाब की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी का हैं। चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी के छात्रा हॉस्टल से "नहाते हुए छात्राओं की वीडियो वायरल" होने का मामला सामने आया है। खबरों की माने तो वीडियो वायरल करने वाली हॉस्टल की ही एक छात्रा हैं।इस खबर से बाद से आठ लड़कियों ने आत्महत्या की कोशिश की।इस पर पुलिस ने अपने बयान में दोनो ही बातों को नकारा हैं।

पुलिस के अनुसार किसी ने आत्महत्या की कोशिश नहीं की है। जिस लड़की को हॉस्पिटल भेजा गया है वह एंजाइटी का शिकार है।

मामले की जांच के बारे में पुलिस का कहना है कि उन्हें सिर्फ एक वीडियो मिली है जो स्वयं आरोपित लड़की की ही है। उसने स्वयं की वीडियो बनाकर भेजी थी इसके अलावा उन्हें कोई वीडियो अभी तक नहीं मिली है।

पंजाब की चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
Sanskrit University के 6 छात्रों ने बनाई इलेक्ट्रिक बग्गी

ऐसा आरोप लगाया गया है कि शिकायत के बाद भी मैनेजमेंट ने कोई एक्शन नहीं लिया । जिस कारण छात्रों का गुस्सा बढ़ा और जब यह बात छात्र संगठनों को पता लगी तो उन्होंने प्रदर्शन शुरू कर दिए। आरोप यह भी है कि मैनेजमेंट ने छात्रों पर यह बात बाहर न जाने का दबाव भी बनाया।

छात्राओं ने की आत्महत्या की कोशिश?

आरोप लगाया गया है कि MMS लीक होने की बात से आहत छात्राओं ने आत्महत्या की कोशिश की। जिनमें से एक छात्रा की हालत गंभीर बताई जा रही है।पंजाब राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष मनीषा गुलाटी ने मीडिया से बातचीत में आत्महत्या वाली बात को अफवाह बताया है। उनके अनुसार इस मामले को झूठ फैलाया गया कि कुछ छात्राओं ने आत्महत्या कर ली है। किसी छात्रा ने आत्महत्या नहीं की है। उन्होंने मामले में दखल देते हुए यह भी कहा कि इन वीडियो को जल्द से जल्द इंटरनेट से हटाया जायेगा।उन्होंने छात्राओं से धैर्य बनाए रखने को कहा है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक आरोपित छात्रा MMS बनाकर शिमला के एक युवक को भेजती थी। यह एमएमएस काफी लंबे समय से बनाए जा रहे थे जब छात्राओं ने अपने MMS सोशल मीडिया के माध्यम से देखे तो वे दंग रह गई। एक वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि अन्य छात्राओं के दबाव बनाने पर आरोपी छात्रा ने बताया है कि वह एमएमएस बनाकर शिमला में एक युवक को भेजती थी।

SSP विवेकशील सोनी ने मीडिया से बातचीत में बताया कि आरोपी छात्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है ।और उन्हें सिर्फ एक छात्रा का एमएमएस मिला है जो स्वयं आरोपी छात्रा का है । इसके अलावा किसी भी तरह का वीडियो उन्हें अभी नहीं मिला है । आरोपित छात्रा का फोन जब्त कर जांच के लिए भेज दिया गया है।

(PT)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com