कर्नाटक के कालाबुर्गी जिले में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 19 जनवरी को करेंगे यात्रा

यात्रा के दौरान मोदी मलखेड में एक मेगा कार्यक्रम में 'टांडा' (गांवों में एससी/एसटी के लिए अस्थायी घर) के निवासियों को संपत्ति के दस्तावेज वितरित करेंगे।
नरेंद्र मोदी की 19 जनवरी को कर्नाटक के कालाबुर्गी जिले की आगामी यात्रा की तैयारियां चल रही हैं।  (Wikimedia Commons)

नरेंद्र मोदी की 19 जनवरी को कर्नाटक के कालाबुर्गी जिले की आगामी यात्रा की तैयारियां चल रही हैं।  (Wikimedia Commons)

प्रधानमंत्री

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) की 19 जनवरी को कर्नाटक के कालाबुर्गी जिले की आगामी यात्रा की तैयारियां चल रही हैं, जो इस महीने राज्य की उनकी दूसरी यात्रा है। यात्रा के दौरान मोदी मलखेड में एक मेगा कार्यक्रम में 'टांडा' (गांवों में एससी/एसटी के लिए अस्थायी घर) के निवासियों को संपत्ति के दस्तावेज वितरित करेंगे। कर्नाटक के इतिहास में यह पहली बार है कि ये दस्तावेज 51,900 टांडा निवासियों को वितरित किए जा रहे हैं।

<div class="paragraphs"><p>नरेंद्र मोदी की 19 जनवरी को कर्नाटक के कालाबुर्गी जिले की आगामी यात्रा की तैयारियां चल रही हैं।&nbsp; (Wikimedia Commons)</p></div>
PM मोदी ने राज्यों से कहा '3 टी ' को दुनिया भर में दे बढ़ावा

राजस्व विभाग के अधिकारियों के अनुसार लाभार्थियों को रायचूर, बीदर, यादगीर और विजयपुरा के हैदराबाद-कर्नाटक क्षेत्र के जिलों से चुना गया है।

राज्य के राजस्व मंत्री आर. अशोक कालाबुरगी में अधिकारियों के साथ कई बैठकें कर रहे हैं, ताकि इसे एक प्रभावशाली आयोजन बनाया जा सके। आयोजन के लिए एक विशाल हेलीपैड का निर्माण किया जा रहा है, जबकि भोजन पकाने के लिए 600 रसोइयों को तैनात किया जाएगा। मंत्री के अनुसार, लाभार्थियों को 2,582 बसों में लाया जाएगा।

<div class="paragraphs"><p> प्रधानमंत्री&nbsp;के लिए&nbsp;600 रसोइयों को तैनात किया जाएगा।&nbsp; (Wikimedia Commons)</p></div>

प्रधानमंत्री के लिए 600 रसोइयों को तैनात किया जाएगा।  (Wikimedia Commons)

नरेंद्र मोदी

राज्य के राजस्व मंत्री आर. अशोक (R. Ashok) कालाबुरगी में अधिकारियों के साथ कई बैठकें कर रहे हैं ताकि इसे एक प्रभावशाली आयोजन बनाया जा सके। आयोजन के लिए एक विशाल हेलीपैड का निर्माण किया जा रहा है, जबकि भोजन पकाने के लिए 600 रसोइयों की प्रतिनियुक्ति की जाएगी और आयोजन के दिन 200 काउंटर खोले जाएंगे।

कलबुर्गी एआईसीसी अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे का गृह क्षेत्र है और पिछले संसदीय चुनावों में अपनी हार के बाद वह आगामी राज्य विधानसभा चुनावों में अपनी ताकत साबित करना चाहते हैं।

कर्नाटक की सत्तारूढ़ बीजेपी न केवल कलबुर्गी में बल्कि राज्य के पूरे उत्तरी क्षेत्र में उनकी योजनाओं को विफल करना चाहती है।

IANS/AD

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com