Saturday, July 11, 2020
Home ट्रेंड कोई भी आता है और घंटा बजा कर चला जाता है, लेकिन...

कोई भी आता है और घंटा बजा कर चला जाता है, लेकिन अब नहीं: ISKCON

"फिल्म, सीरियल, कॉमेडियन आदि द्वारा हिन्दू धर्म को बुरा दिखाए जाने की कोशिश लगातार की जा रही है"

पिछले दो दिनों से चल रहे सुरलीन कौर विवाद में इस्कॉन ने आज अपना मत साफ कर दिया है। इस्कॉन के उपाध्यक्ष और प्रवक्ता राधारमन दास ने आज एक वीडियो स्टेटमेंट जारी कर, ये जानकारी दी है की, कॉमेडियन सुरलीन कौर और शेमारू के खिलाफ इस्कॉन अपनी शिकायत वापस नहीं लेगा, और कोर्ट मे कानूनी तौर तरीकों से इस लड़ाई को लड़ेगा और जीतेगा। 

आपको बता दें की कुछ दिनों पहले कॉमेडियन सुरलीन कौर ने एक शो के दौरान इस्कॉन पर भद्दी टिपन्नी करते हुए कहा था की, “बेशक हम सब इस्कॉन वाले हैं, पर अंदर से हम सब हरमी पॉर्न वाले हैं।” इसके अलावा उसी शो में सुरलीन कौर ने ऋषि-मुनियों पर भी भद्दी टिप्पणी करते हुए कहा था की, “छोटे छोटे संस्कृत शब्दों का इस्तेमाल कर के हमारे ऋषि-मुनियों ने अपने बड़े बड़े कांड छुपाए हैं…कामासूत्रा”। 

जिसके बाद उनका ये वीडियो ट्वीटर, फ़ेसबूक, व्हाट्सऐप, इन्स्टाग्राम, पर लगातार शेयर किया जाने लगा। हिन्दू धर्म, इसकी संस्कृति, और इस्कॉन को बदनाम करने के लिए कॉमेडियन सुरलीन कौर को चौतरफा आलोचना का सामना करना पड़ा। 

28 मई को राधारमन दास के ट्वीटर हैंडल से सुरलीन कौर और शेमारू के खिलाफ इस्कॉन द्वारा एक स्टेटमेंट जारी किया गया। जिसके बाद शेमारू ने इस वीडियो को हटा लेने के साथ साथ सुरलीन कौर से कांट्रैक्ट तोड़ दिया है।  इसके अलावा उन्होने इस कृत्य के लिए माफी भी मांगी थी, लेकिन अब इस्कॉन ने उनकी माफी की सिफ़ारिश खारिज कर दी है। 

इस्कॉन के उपाध्यक्ष और प्रवक्ता राधारमन दास ने आज एक वीडियो मैसेज के ज़रिये अपना पक्ष रखा है, जिसमे उन्होने कहा है की, “हिन्दू धर्म के लोग स्वभाव से सहिष्णु होते हैं, और हम मानते  हैं की हर किसी को अपने सोच को बयां करने का हक़ है। लेकिन कुछ समय से सोशल मीडिया पर सनातन धर्म को बदनाम करने की एक नैरेटिव चलाई जा रही है । फिल्म, सीरियल, कॉमेडियन आदि द्वारा हिन्दू धर्म को बुरा दिखाए जाने की कोशिश लगातार की जा रही है। कोई भी आता है और घंटा बजा कर चला जाता है, लेकिन अब नहीं”।

राधारमन दास ने जानकारी दी है की, शेमारू या सुरलीन कौर के तरफ से आए किसी भी तरह के माफी को स्वीकार नहीं किया गया है और जो भी गुनहगार है उसे कानूनी तौर पर बचने नहीं दिया जाएगा।

POST AUTHOR

जुड़े रहें

5,792FansLike
0FollowersFollow
151FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

रियाज़ नाइकू को ‘शिक्षक’ बताने वाले मीडिया संस्थानो के ‘आतंकी सोच’ का पूरा सच

कौन है रियाज़ नायकू? कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी कमांडर बुरहान वाणी 2016 में ...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

व्यंग पर दर्ज होने लगा केस तो जेल में होंगे भारत के सारे कलाकार

एक पल के लिए मान लीजिये की मज़ाक या व्यंग के लिए भी आपको जेल जाना पड़ जाए, फिर? फिर क्या,...

“कौन दिशा में लेके चला रे बटोहिया..” के सदाबहार गायक जसपाल सिंह की कहानी

“कौन दिशा में लेके चला रे बटोहिया” इस गाने को किसने नहीं सुना होगा। अगर आप 80’ के दशक से हैं...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

हाल की टिप्पणी