Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
देश

प्रधानमंत्री मोदी हैं दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता : सर्वे

अप्रूवल रेटिंग में प्रधानमंत्री मोदी ने अमरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन समेत दुनिया भर के 13 राष्ट्र प्रमुखों को पीछे छोड़ दिया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता ( wikimedia Commons )

अमेरिकी डेटा इंटेलिजेंस फर्म ‘द मॉर्निंग कंसल्ट’ की एक सर्वे में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अप्रूवल रेटिंग 71% दर्ज की गई है यह जानकारी 'द मॉर्निंग कंसल्ट' ने अपने ट्विटर हैंडल के जरिए साझा की है। 'द मॉर्निंग कंसल्ट' के सर्वे के मुताबिक अप्रूवल रेटिंग में प्रधानमंत्री मोदी ने अमरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन, ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन समेत दुनिया भर के 13 राष्ट्र प्रमुखों को पीछे छोड़ दिया है।

मॉर्निंग कंसल्ट’ दुनिया भर के टॉप लीडर्स की अप्रूवल रेटिंग ट्रैक करता है। मॉर्निंग कंसल्ट पॉलिटिकल इंटेलिजेंस वर्तमान में ऑस्ट्रेलिया, ब्राजील, कनाडा, फ्रांस, जर्मनी, भारत, इटली, जापान, मैक्सिको, दक्षिण कोरिया, स्पेन, यूनाइटेड किंगडम और संयुक्त राज्य अमेरिका में नेताओं की रेटिंग पर नज़र रख रही है। रेटिंग पेज को सभी 13 देशों के नवीनतम डेटा के साथ साप्ताहिक रूप से अपडेट किया जाता है।



इसके तहत दुनिया भर में बदलती राजनीतिक गतिशीलता में रियल टाइम की गतिविधियों पर नजर रखी जाती है। मॉर्निंग कंसल्ट हर देश के वयस्कों के बीच सर्वे कर ये रैकिंग तैयार करती है। मॉर्निंग कंसल्ट ने बताया है कि रेटिंग प्रत्येक देश के वयस्क नागरिकों के सात दिन के औसत सर्वे पर आधारित होती है। सर्वे में शामिल लोगों की संख्या हर देश के मुताबिक अलग-अलग होती है। इससे पहले भी पीएम मोदी ने नवंबर 2021 में विश्व के सबसे लोकप्रिय नेताओं की सूची में शीर्ष स्थान पाया था।

यह भी पढ़ें - गंगा से जोड़ी जाएंगी झारखंड की दो नदियां, राज्य के कई जिलों को होगा फ़ायदा

बता दें कि इस बार के सर्वे में अमेरिकी राष्ट्रपति छठे नंबर पर और ब्रिटिश प्रधानमंत्री 13वें पॉजिशन पर हैं।इस सर्वे में पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग 71% है। 13 से 19 जनवरी के बीच कराए गए इस सर्वे में भारतीय प्रधानमंत्री दुनिया के कई राष्ट्राध्यक्षों से काफी आगे हैं। पीएम मोदी ने मैक्सिकन राष्ट्रपति आंद्रे मैनुएल लोपेज ओब्राडोर, इटली के प्रधानमंत्री मारियो द्राघी, जर्मन चांसलर ओलाफ शोल्ज, अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन समेत कई बड़े नेताओं को लोकप्रियता के ग्राफ में पीछे छोड़ दिया है।

Various source ; Edited by Abhay Sharma

Popular

Sambit Patra, National Spokeperson, BJP(Source: BJP Youtube Channel)

भाजपा (BJP) ने समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया है कि सपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) की कानपुर रैली के दौरान दंगा भड़काने की साजिश रची थी।

दिल्ली भाजपा मुख्यालय (BJP Headquarter) में मीडिया से बात करते हुए भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा (Sambit Patra) ने कहा कि मंगलवार को जब प्रधानमंत्री मोदी ने कानपुर में रैली को संबोधित किया, उससे ठीक पहले सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल होने लगा। उस वीडियो में एक कार पर कमल के स्टिकर्स लगे हुए थे और प्रधानमंत्री का भी एक पोस्टर गाड़ी के पीछे लगा हुआ था। बीच चौराहे पर गाड़ी को रोककर लाल टोपी पहने हुए सपा के कार्यकर्ताओं ने उस गाड़ी को तोड़ दिया और उसमें आगजनी की कोशिश भी की गई। इस गाड़ी में जो लोग तोड़फोड़ कर रहे थे, उस समय सपा छात्र सभा के सचिव जिनका नाम अखबारों ने सचिन केसरवानी लिखा है वो भी वहां मौजूद थे।

प्रवक्ता ने साजिश की जांच के बारे में जानकारी देते हुए आगे बताया कि बाद में जब पुलिस और सीसीटीवी फुटेज के माध्यम से जांच हुई तो पता चला कि ये गाड़ी भी भाजपा (BJP) के कार्यकर्ता की नहीं बल्कि सपा छात्र सभा के ही दूसरे नेता अंकुर पटेल की गाड़ी थी और इस गाड़ी को भाजपा की गाड़ी के रूप में सजाया गया था।

Keep Reading Show less

Transparency: Pardarshita web series

"कितना चंदा जेब में आया कितना बांटा कितना खाया" यह गीत एक वक्त मीडिया से लेकर सोशल मीडिया तक चर्चा में बना हुआ था। आज हम लोग इसी गीत के विषय में विस्तृत रूप से चर्चा करेंगे की आखिर क्या कारण है कि यह गीत इतना प्रसिद्ध हुआ जिसने दिल्ली सरकार और आम आदमी पार्टी के लोगों को बेचैन कर दिया था।

यह गीत डॉ. मुनीश रायजादा द्वारा निर्देशित वेब सीरीज “ट्रांसपेरेंसी: पारदर्शिता” (Transparency: Pardarshita) का है। इस गीत को समझने के लिए आप लोगों को यह वेब सीरीज जरूर देखनी चाहिए। यह वेब सीरीज ट्रांसपेरेंसी: पारदर्शिता की वेबसाइट पर उपलब्ध है। यह वेब सीरीज आम आदमी पार्टी (Aam Aadmi Party) और इंडिया अगेंस्ट करप्शन (India Against Corruption) के चौंकाने वाले तथ्यों के विषय में बात करती है। एक ऐसी राजनीतिक पार्टी जिसने इस मकसद से सत्ता में कदम रखा की भ्रष्टाचार को जड़ से खत्म कर देंगे उस पार्टी ने कैसे मासूम जनता की उम्मीदों का गला घोंटा है, यह सीरीज ऐसे कई झकझोर देने वाले सच को बयां करती है|

Keep Reading Show less
संजय राउत, शिवसेना सांसद और मुख्य प्रवक्ता [twitter]

शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्य सभा सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) ने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा है कि सरकार गिराने की तमाम कोशिशों के बावजूद महाराष्ट्र सरकार अपना वर्तमान कार्यकाल पूरा करेगी। महाराष्ट्र सरकार के कार्यकाल, गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) के आरोप सहित अन्य कई मुद्दों पर आईएएनएस के वरिष्ठ सहायक संपादक ने शिवसेना के वरिष्ठ नेता और राज्य सभा सांसद संजय राउत (Sanjay Raut) से खास बातचीत की।

सवाल - अमित शाह ने आरोप लगाया है कि आप लोगों ने ( शिवसेना ) सत्ता के लिए विश्वासघात कर दिया ?

जवाब - देश के गृह मंत्री (Amit Shah) को इस तरह की भाषा का इस्तेमाल करना शोभा नहीं देता है। पुणे शिवाजी महाराज की भूमि है। यहीं से लोकमान्य तिलक ने स्वतंत्रता आंदोलन की शुरूआत की थी । हम लोग पुणे को पुण्य भूमि बोलते हैं। लोग वहां जाकर सच बोलने की कोशिश करते हैं, लेकिन जो लोग ऐसा नहीं कर पाते हैं वो झूठ का सहारा लेते हैं। लेकिन हमने न किसी से विश्वासघात किया है और न ही किसी को धोखा दिया है यह सबको मालूम है। राजनीति में अब हमारे ( भाजपा और शिवसेना ) दो रास्ते हो गए हैं। आप अपनी राजनीति कीजिए और हम हमारी राजनीति कर रहे हैं। महाराष्ट्र की सरकार गिराने की कोशिश आप लोग बार-बार कर रहे हैं और विफल हो रहे हैं। हमारी सरकार अपना कार्यकाल पूरा करेगी, और यह 25 साल की व्यवस्था है।

सवाल - आप पर आरोप लगाया गया है कि भाजपा (BJP) तो छोड़िए, आप लोगों ने सत्ता के लिए हिंदुत्व को भी छोड़ दिया ?

जवाब - ( हंसते हुए ) उनके इसी सवाल में उनका जवाब है। अगर हम हिंदुत्ववादी थे तो आपने (भाजपा ) हमें 2014 में क्यों छोड़ा था ? 2014 में सबसे पहले आपने हमें छोड़ा था सत्ता के लिए।

Keep reading... Show less