Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
होम

लव जिहाद ,धर्मांतरण में ईसाई सबसे आगे : सहयोगी एनडीए नेता

एनडीए के सहयोगी और भारत धर्म जन सेना के संरक्षक वेल्लापल्ली नतेसन नें एक कैथोलिक पादरी द्वारा लगाए गए आरोपों पर प्रतिक्रिया दी

प्रमुख हिंदू नेता और श्री नारायण धर्म परिपालन योगम के महासचिव वेल्लापल्ली नतेसन (wikimedia commons)

हमारे देश में लव जिहाद के जब मामले आते है , तब इस मुद्दे पर चर्चा जोर पकड़ती है और देश कई नेता और जनता अपनी-अपनी राय को वयक्त करते है । एसे में एक प्रमुख हिंदू नेता और श्री नारायण धर्म परिपालन योगम के महासचिव वेल्लापल्ली नतेसन ने सोमवार को एक बयान दिया जिसमें उन्होनें कहा कि यह मुस्लिम समुदाय नहीं बल्कि ईसाई हैं जो देश में धर्मांतरण और लव जिहाद में सबसे आगे हैं।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार एनडीए के सहयोगी और भारत धर्म जन सेना के संरक्षक वेल्लापल्ली नतेसन नें एक कैथोलिक पादरी द्वारा लगाए गए आरोपों पर प्रतिक्रिया दी , जिसमे कहा गया था हिंदू पुरुषों द्वारा ईसाई धर्म महिलाओं को लालच दिया जा रहा है। नतेसन नें पाला बिशप जोसेफ कल्लारंगट की एक टिप्पणी जो कि विवादास्पद "लव जिहाद" और "मादक जिहाद" की भी जमकर आलोचना की और यह कहा कि इस मुद्दे पर "मुस्लिम समुदाय को निशाना बनाना सही नहीं है"।


उन्होनें आगे कहा कि जब एक ईसाई महिला मुस्लिम धर्म के पक्ष में जाती है, तो अन्य समुदायों की सौ महिलाओं की शादी ईसाइयों से होती है। कोई क्यों नहीं बोल रहा है? इसके बारे में । ईसाई लोग महिलाओं से शादी कर रहे हैं। धर्म परिवर्तन में लगे देश का सबसे बड़ा समूह है, ईसाई। मुसलमान उस पैमाने पर, धर्मांतरण नहीं करते हैं। आगे बयान देते हुए उन्होनें नें कहा कि जब लव जिहाद होता है , तो इसमें केवल एक ईसाई महिला को मुस्लिम समुदाय में ले जाया जाता है। जबकि धर्मांतरण में एक पूरा परिवार ईसाई धर्म में जा रहा है।लव जिहाद और धर्मांतरण के बारे में बात करे तो , निस्संदेह ईसाई सबसे आगे हैं ।


कैथोलिक दैनिक दीपिका से जुड़े वरिष्ठ कैथोलिक पादरी रॉय कन्ननचिरा ने शनिवार को शिक्षकों को एक वीडियो संदेश में आरोप लगाया था कि कैथोलिक महिलाओं को प्रेम विवाह में फंसाने के लिए हिंदू युवाओं को रणनीतिक रूप से प्रशिक्षित किया जाता है। इसके बाद कन्ननचिरा ने माफी मांगते हुए दावा किया कि उनका इरादा किसी समुदाय धर्म को चोट पहुंचाने का नहीं था।

इन दावों ने केरल में एक बड़ी बहस छेड़ दी थी कि जब पिछले सप्ताह, कैथोलिक बिशप जोसेफ कल्लारंगट ने आरोप लगाते हुए कहा था कि गैर-मुसलमानों को लक्षित करने के लिए "लव जिहाद" के साथ-साथ "मादक जिहाद" भी है।

यह भी पढ़ें : दलित वोटों की डकैती करना कांग्रेस की पुरानी आदत : भाजपा

इन सब घटनाक्रम के बीच में , विपक्षी नेता वी डी सतीसन ने सांस्कृतिक नेताओं और कलाकारों को पत्र लिखकर केरल में सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने के लिए हस्तक्षेप करने की मांग भी की है।

Edited By: Pramil Sharma

Popular

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को अहमदाबाद और सूरत में नई मेट्रो परियोजनाओं की शुरूआत की। इस अवसर पर प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि अहमदाबाद और सूरत को आज बहुत बड़ा उपहार मिल रहा है। मेट्रो इन दोनों शहरों में कनेक्टिविटी को और मजबूती देने का काम करेगी। केवड़िया के लिए भी नए मार्ग और नई ट्रेनों की शुरूआत हुई है। अहमदाबाद से आधुनिक जनशताब्दी एक्सप्रेस अब केवड़िया तक जाएगी। पीएम मोदी ने कहा, इस शुभारंभ के लिए मैं गुजरात के लोगों को बहुत-बहुत शुभकामनाएं देता हूं। आज 17 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा का इंफ्रास्ट्रक्च र काम शुरू हो रहा है। यह दिखाता है कि कोरोना काल में भी नए इंफ्रास्ट्रक्च र के निर्माण को लेकर देश के प्रयास लगातार बढ़ रहे हैं। बीते कुछ दिनों में ही देशभर में हजारों करोड़ रुपए के इन्फ्राट्रक्च र प्रोजेक्ट का या तो लोकार्पण किया गया है या फिर नए प्रोजेक्ट पर काम शुरू हुआ है।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, अहमदाबाद और सूरत दोनों गुजरात की और भारत की आत्मनिर्भरता को सशक्त करने वाले शहर हैं। मुझे याद है जब अहमदाबाद में मेट्रो की शुरूआत हुई थी कितना अद्भुत पल था। लोग छतों पर खड़े थे, लोगों के चेहरों पर जो खुशी थी वह शायद ही कोई भूल पाएगा। अहमदाबाद के सपनों ने, यहां की पहचान ने कैसे खुद को मेट्रो से जोड़ लिया है। अब आज से अहमदाबाद मेट्रो के दूसरे चरण पर काम शुरू हो रहा है। मेट्रो के इन प्रोजेक्ट की सबसे बड़ी खासियत यह है कि है यह आने वाले वर्षों की जरूरतों का आकलन करते हुए बनाए जा रहे हैं। यानी जो आज इन्वेस्टमेंट हो रहा है उससे इन शहरों को आने वाले कई सालों तक बेहतर सुविधाएं मिलेंगी।

Keep Reading Show less

कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए उत्तर प्रदेश में कोरोना टीकाकरण कार्य शनिवार से शुरू हो गया। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने बलरामपुर अस्पताल में टीकाकरण कार्य का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कोरोना वैक्सीन को लेकर कुछ निहित स्वार्थी लोग अफवाह फैलाने का काम कर रहे हैं। उनसे सतर्क रहने की जरूरत है। कोरोना टीका लगवाने वाले चिकित्सकों व स्टाफ नर्स से भी बातचीत की। बलरामपुर अस्पताल में सबसे पहला टीका स्टॉफ नर्स गीता देवी व डॉक्टर प्रवीण कुमार को लगाया गया। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज देश वासियों के लिए उत्साह और उमंग का दिन है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में शुरू हुआ कोरोना टीकाकरण देश के अंदर कोरोना के खिलाफ शुरू हुई लड़ाई में अंतिम प्रहार साबित होगी।

मुख्यमंत्री ने कहा कि दुनिया में भारत पहला देश है, जिसने कोरोना की एक साथ दो वैक्सीन लांच की हैं। देश की इस उपलब्धि पर मैं प्रधानमंत्री समेत वैज्ञानिकों व चिकित्सकों का अभिनंदन करता हूं। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना वैक्सीन को लेकर कुछ निहित स्वार्थी लोग अफवाह फैलाने का काम कर रहे हैं। उनसे सतर्क रहने की जरूरत है। मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना के खिलाफ प्रदेश के समाजिक संगठनों, हेल्थ वर्कर, मीडिया व कोरोना वारियर्स ने बहुत ही सकारात्मक भूमिका निभाई है।

Keep Reading Show less

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने शुक्रवार को सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म ट्विटर पर एक यूजर के अनूठे चैलेंज को स्वीकार करते हुए शहर के नाम के साथ तस्वीर का सही सोर्स भी बताया। प्रधानमंत्री मोदी का यह ट्वीट वायरल हो गया। 6.48 करोड़ से भी ज्यादा फॉलोवर्स के साथ ट्विटर पर दुनिया के सबसे प्रभावी और लोकप्रिय नेताओं में से एक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi), अमूमन कई बार सामान्य यूजर्स या हैंडल के ट्वीट पर प्रतिक्रिया देकर उन्हें चौंका देते हैं।

दरअसल, लॉस्ट टेंपल्स (Lost Temples) नामक एक ट्विटर अकाउंट ने शुक्रवार को एक तस्वीर शेयर की। जिसमें घाट के किनारे मंदिर दिख रहे हैं। गंगा आरती भी हो रही है। यूजर ने इस तस्वीर के कैप्शन में प्रसिद्ध अमेरिकी लेखक मार्क ट्वेन के संबंधित शहर के बारे में लिखे गए शब्दों का जिक्र करते हुए कहा, “इतिहास से भी पुरातन है, परंपराओं से पुराना है, किंवदंतियों से भी प्राचीन है और जब इन सबको एकत्र कर दें, तो उस संग्रह से भी दोगुना प्राचीन है।” क्या आप उस महान शहर को पहचान सकते हैं?

Keep reading... Show less