Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
सुरक्षा

अमेरिका के साथ संयुक्त अभ्यास का हिस्सा बने लद्दाख में तैनात टैंक और हेलिकॉप्टर

थार के रेगिस्तान में शनिवार को सेना के दो अपाचे हेलिकॉप्टरों की गूंज सुनाई दी। राजस्थान की महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में भारत और अमेरिकी सेनाओं के संयुक्त अभ्यास के दौरान सैनिकों ने दो के बैच में चार एमआई-17 परिवहन हेलिकॉप्टर से उड़ान भरी।

By : सुमित कुमार सिंह

थार के रेगिस्तान में शनिवार को सेना के दो अपाचे हेलिकॉप्टरों की गूंज सुनाई दी। राजस्थान की महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में भारत और अमेरिकी सेनाओं के संयुक्त अभ्यास के दौरान सैनिकों ने दो के बैच में चार एमआई-17 परिवहन हेलिकॉप्टर से उड़ान भरी।


इसके कुछ मिनट बाद ही मल्टी-मिशन हेलीकॉप्टर चिनूक एक बख्तरबंद परिवहन वाहन के साथ दिखाई देता है, जो इसे निर्दिष्ट स्थान पर छोड़कर वापस चला जाता है। इस दौरान कुछ समय पहले तक हवा में मंडरा रहा अपाचे भी रुक जाता है और सैनिक जमीन पर उतरते हैं और अब वे कार्रवाई के लिए तैयार हैं। यह सारी प्रक्रिया संयुक्त अभ्यास का हिस्सा रही।

इस अभ्यास या ड्रिल के दौरान, महाजन फील्ड फायरिंग रेंज में अफगानिस्तान और इराक जैसी नकली आतंकवादी परिस्थितियां (मॉक टेरर सिचुएशन) बनाई गई और भारतीय व अमेरिकी सेनाओं की संयुक्त टीम द्वारा जवाबी कार्रवाई की गई।

चीन के साथ सीमा विवाद के बाद लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर तैनात टैंक और विमान भी इस ड्रिल का हिस्सा हैं।

राजस्थान की सूरतगढ़ स्थित ब्रिगेड का जम्मू एवं कश्मीर राइफल्स के सप्त शक्ति कमान की 11वीं बटालियन द्वारा प्रतिनिधित्व किया गया।

संयुक्त युद्धाभ्यास के दौरान सैनिकों ने आतंकवाद निरोधक अभ्यास भी किया और विपरीत परिस्थियों में किस प्रकार से कार्रवाई करनी है, इसके लिए विभिन्न गतिविधियों में हिस्सा लिया।

इस ड्रिल के दौरान संयुक्त टीम एक निर्मित क्षेत्र (बिल्ड-अप एरिया) की ओर बढ़ती है, जो कि एक ऐसा गांव हैं, जहां आतंकवादी छिपे हुए थे। इस परिस्थिति से निपटने के लिए अभ्यास के तौर पर इन्फैंट्री कॉम्बैट व्हीकल बीएमपी और टी-90 भीष्म टैंक, स्ट्राइकर बख्तरबंद वाहन और सैनिकों के साथ लंबी दूरी और कम दूरी की तोपों के साथ सैनिकों ने एक समन्वित तरीके से अपनी मारक क्षमता का उपयोग किया।

 

टी-90 भीष्म टैंक । ( Wikimedia Commons )

इसके बाद आतंकवादियों का पता लगाने के लिए खोज की गई।

मॉक काउंटर आतंकी ऑपरेशन के दौरान, आर्मी एविएशन द्वारा फायर सपोर्ट दिया गया था। चार स्वदेशी रूप से उन्नत लाइट हेलीकॉप्टर (एएलएच) रुद्र ने मिसाइलों से लक्ष्य को मारा। आतंकवादियों के ठिकानों को नष्ट करने के साथ ड्रिल का समापन हुआ। 

यह भी पढ़ें :- कई लोगों को लंबे समय तक डिपरेशन से जूझना पड़ता है : विराट कोहली

यह भारत और अमेरिकी सेना के बीच एक द्विपक्षीय युद्ध अभ्यास है और फिलहाल इसका 16वां संस्करण जारी है। यह आठ फरवरी को शुरू हुआ था, जिसका समापन 21 फरवरी को होगा।

डोगरा के सैन्य कमांडर जनरल जोरावर सिंह के नाम पर ड्रिल का नाम जोरावर रखा गया, जिन्हें ‘लद्दाख का विजेता’ के रूप में जाना जाता है।

ड्रिल का फोकस काउंटर टेरर ऑपरेशंस पर है। इसके अलावा दोनों देशों के सैनिक हथियारों, युद्धक्षेत्र आघात प्रबंधन, आकस्मिक निकासी, सामरिक स्तर की पूछताछ, खुफिया संग्रह, ट्रैकिंग और विभिन्न उन्नत तकनीक के साथ अपना अनुभव साझा कर रहे हैं।

अमेरिकी सेना के कुल 240 सैनिक अभ्यास का हिस्सा हैं। (आईएएनएस)

Popular

'फेसबुक प्रोटेक्ट' का होगा विस्तार। (Pixabay)

मेटा(Meta) ने घोषणा की है कि वह 'फेसबुक प्रोटेक्ट'(Facebook Protect) का विस्तार कर रहा है, जो कि दुर्भावनापूर्ण हैकर्स द्वारा लक्षित लोगों के लिए अपने सुरक्षा कार्यक्रम को भारत(India) सहित अधिक देशों में मानवाधिकार रक्षकों, पत्रकारों और सरकारी अधिकारियों को कवर कर रहा है। बता दें, कंपनी ने पहली बार 2018 में 'फेसबुक प्रोटेक्ट' का टेस्ट किया और 2020 के अमेरिकी चुनावों से पहले इसका विस्तार किया।

Facebook, Meta हैकरो से अपने ग्राहकों की सुरक्षा करना चाहता है मेटा!(Wikimedia Commons)

Keep Reading Show less

भारतीय सुप्रीम कोर्ट (Wikimedia Commons)

शीर्ष अदालत(Supreme Court) दिल्ली के 17 वर्षीय छात्र आदित्य दुबे द्वारा दिल्ली(Delhi) में गंभीर वायु प्रदूषण(air pollution) के बारे में चिंता जताने वाले एक मामले की सुनवाई कर रही थी। शुक्रवार को सुनवाई के दिन सुप्रीम कोर्ट ने स्पष्ट किया कि उसने दिल्ली सरकार(Delhi Government) को कभी भी राजधानी में गंभीर वायु प्रदूषण के संबंध में एक मामले की सुनवाई के दौरान स्कूलों(School) को बंद करने के लिए नहीं कहा, बल्कि उनसे स्कूलों को फिर से खोलने पर केवल रुख में बदलाव के पीछे के कारणों के बारे में पूछा।

मुख्य न्यायाधीश एन.वी. रमन्ना(Chief Justice N.V. Ramanna) और न्यायमूर्ति डी.वाई. चंद्रचूड़ और सूर्यकांत की पीठ ने कहा, "पता नहीं यह जानबूझकर है या नहीं। मीडिया में कुछ वर्गों ने प्रोजेक्ट करने की कोशिश की, हम खलनायक हैं .. हम स्कूलों को बंद करना चाहते हैं।" पीठ ने दिल्ली सरकार का प्रतिनिधित्व कर रहे वरिष्ठ अधिवक्ता अभिषेक मनु सिंघवी(Abhishek Manu Singhvi) से कहा कि सरकार ने अदालत को बताया कि वह स्कूलों को बंद कर रही है और घर से काम शुरू कर रही है। और, आज के समाचार पत्र देखें।"

Keep Reading Show less

गीता महोत्स्व

हरियाणा के कुरुक्षेत्र में गुरुवार (2 दिसंबर 2021) से अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव (IGM) की शुरुआत की गयी। यह कुरुक्षेत्र वही पावन स्थान है, जहां भगवान श्रीकृष्ण ने महाभारत के 18 दिन के युद्ध के पहले दिन अर्जुन को गीता का ज्ञान दिया था। इस बार के गीता महोत्सव का थीम है ‘आजादी का अमृत महोत्सव’।

हरियाणा सरकार का यह उद्देश्य है कि कुम्भ मेला की तरह ही गीता महोत्सव को भी अंतरराष्ट्रीय प्रसिद्धि मिले। प्रदेश के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने बुधवार को कहा कि सरकार वार्षिक अंतरराष्ट्रीय गीता महोत्सव (IGM) को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न दूतावासों में प्रदर्शनियों के आयोजन पर विचार कर रही है।

Keep reading... Show less