Wednesday, November 25, 2020
Home व्यवसाय भारतीय स्टार्टअप्स के लिए टेकबूज का बड़ा कदम

भारतीय स्टार्टअप्स के लिए टेकबूज का बड़ा कदम

टेकबूज स्टार्टअप फंडिंग के लिए सहायता देने की पेशकश कर रहा है, जिसमें किसी भी उद्यम की शुरूआत से लेकर मौजूदा चरण, उसे इंन्वेस्टमेंट प्लान में मदद करने, मार्केट में उतरने की रणनीति बनाने आदि के लिए सपोर्ट करना शामिल है।

सर्विस बेस्ड इंटरप्राइज कंसल्टेंसी टेकबूज ने गुरुवार को कहा कि उसने अपने वैश्विक निवेशकों के जरिए फंड इकट्ठा करके स्टार्टअप इकोसिस्टम में भारी निवेश करने की सुविधा शुरू कर दी है। कंपनी ने बिना आंकड़े बताते हुए कहा कि बायजू, प्लेको और येनसेक्टडॉटकॉम सहित स्टार्टअप्स को वह पहले ही फंडिंग दे चुकी है। साथ ही यह भी कहा कि वह स्टार्टअप और रियल एस्टेट क्षेत्र में भारी निवेश करेगी।

कंपनी स्पेस केपिटल, बॉन्ड केपिटल समेत 421 वैश्विक निवेशकों के जरिए फंडिंग कर रही है। इसके अलावा कंपनी ने कहा है कि यह 3 प्रमुख परियोजनाओं के लिए आंशिक तौर पर धन जुटाने में मदद करेगी, जिसमें लगभग 3,000 करोड़ रुपये के निवेश से वायएमसीए बोकारो अस्पताल का निर्माण, 1,000 करोड़ रुपये के निवेश से कोलकाता के वेस्टर्न डेवलपमेंट कॉरपोरेशन की एक आवासीय परियोजना और 3,000 रुपये करोड़ के निवेश के साथ वेस्टर्न डेवलपमेंट हेल्थकेयर की परियोजना शामिल है।

टेकबूज कंसल्टेंसी के फाउंडर और सीईओ शुभाशीष कर ने अपने एक बयान में कहा, “हम लगातार नए बिजनेस मॉडल खोज रहे हैं और उन्हें मदद करने के लिए हर संभव तरीका तलाश रहे हैं। नई फंडिंग के साथ हम ऐसे समय में स्टार्टअप्स में निवेश करने और उन्हें बढ़ावा देने में सक्षम होंगे।”

यह भी पढ़ें – ग्लोबल पीपीई हब बनने के रास्ते पर भारत

आज अधिकांश उद्यमों और पब्लिक-लिस्टेड कंपनियों के पास पूंजी जुटाने के कई तरीके हैं लेकिन स्टार्टअप या बूटस्ट्रैप्ड निवेशकों या वेंचर केपिटलिस्ट पर निर्भर हैं।

टेकबूज ने कहा है कि नई फंडिंग के साथ वह स्टार्टअप्स को नया जीवन देने में मदद करेगा, क्योंकि निवेश की कमी से उनके विकास में रुकावट आ सकती है और कई बिजनेस मॉडल तो फंडिंग की कमी के कारण दम ही तोड़ देते हैं। (आईएएनएस)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

6,018FansLike
0FollowersFollow
173FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

रियाज़ नाइकू को ‘शिक्षक’ बताने वाले मीडिया संस्थानो के ‘आतंकी सोच’ का पूरा सच

कौन है रियाज़ नायकू? कश्मीर के आतंकवादी संगठन हिजबुल मुजाहिद्दीन का आतंकी कमांडर बुरहान वाणी 2016 में ...

हाल की टिप्पणी