Saturday, May 15, 2021
Home दुनिया पांचवां संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण ऑनलाइन महासभा केन्या की राजधानी नैरोबी में हुआ...

पांचवां संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण ऑनलाइन महासभा केन्या की राजधानी नैरोबी में हुआ संपन्न !

पांचवां संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण ऑनलाइन महासभा 23 फरवरी को केन्या की राजधानी नैरोबी में संपन्न हुआ। 150 से अधिक देशों से आए 1500 से ज्यादा प्रतिनिधियों और 60 से अधिक देशों के पर्यावरण मंत्रियों ने सम्मेलन में भाग लिया।

पांचवां संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण ऑनलाइन महासभा 23 फरवरी को केन्या की राजधानी नैरोबी में संपन्न हुआ। 150 से अधिक देशों से आए 1500 से ज्यादा प्रतिनिधियों और 60 से अधिक देशों के पर्यावरण मंत्रियों ने सम्मेलन में भाग लिया। उन सभी ने आगाह किया कि अगर प्रकृति संरक्षण के तरीकों में बदलाव नहीं किया गया, तो विश्व को नई महामारी के जोखिम का सामना करना पड़ेगा। मौजूदा सम्मेलन की थीम है प्रकृति संरक्षण को बढ़ावा देना, सतत विकास को साकार करना। सभी प्रतिभागियों ने एक लचीले और समावेशी महामारी-उपरांत दुनिया के निर्माण पर चर्चा की।

सम्मेलन ने 2022 में संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण महासभा की अनुवर्ती बैठक के लिए तत्पर नामक एक वक्तव्य जारी किया, जिसमें सदस्य देशों ने पर्यावरणीय चुनौतियों के मुकाबले के लिए अधिक समावेशी बहुपक्षवाद को बढ़ावा देने का आह्वान किया। बयान में कहा गया कि मानव स्वास्थ्य और कल्याण प्रकृति पर पहले से कहीं अधिक निर्भरता है। यदि हम प्रकृति के साथ आपसी संवाद में मौजूदा अस्थिर मॉडल को बनाए रखते हैं, तो हम भविष्य में बार-बार होने वाली महामारी के जोखिमों का सामना करेंगे।

आगामी मई महीने में दक्षिण पश्चिमी चीन के युन्नान प्रांत की राजधानी खुनमिंग में ‘जैविक विविधता पर कन्वेंशन’ के हस्ताक्षरित पक्षों का 15वां सम्मेलन (सीओपी15) आयोजित किया जाएगा, जिसकी थीम ‘पारिस्थितिक सभ्यता : पृथ्वी पर जीवन के साझे भाग्य समुदाय की स्थापना’ है। मौजूदा पर्यावरण महासभा में भाग लेने वाले प्रतिनिधि खुनमिंग सम्मेलन पर अपेक्षा से भरे हुए हैं।

संयुक्त राष्ट्र संघ | (File photo)

महासभा के अध्यक्ष, नॉर्वे के पर्यावरण मंत्री स्वान लोतवेन के विचार में खुनमिंग सम्मेलन बहुत महत्वपूर्ण है, जिससे जाहिर है कि पर्यावरण कूटनीति फिर भी प्रभावी है। सम्मेलन में भाग लेने वाले देशों को आशा है कि एक साथ मिलकर अहम मुद्दों पर आम सहमति प्राप्त कर सकेंगे।

उन्होंने कहा कि वे चीन में इस सम्मेलन के आयोजन की प्रतीक्षा में हैं।
 

यह भी पढ़े :- अमेरिकियों पर क्यों भरोसा नहीं करते यूरोपीय लोग पढ़िए इस सर्वे में

बता दें कि मौजूदा पर्यावरण महासभा के दौरान पाकिस्तान ने घोषणा की कि वह विश्व पर्यावरण दिवस 2021 की मेजबानी के लिए संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण कार्यक्रम के साथ सहयोग करेगा। इस वर्ष विश्व पर्यावरण दिवस की थीम के रूप में पारिस्थितिकी तंत्र बहाली करेगा और प्रकृति के साथ हमारे संबंधों को फिर से शुरू करने के लिए प्रतिबद्ध है।

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग ) ( आईएएनएस-SM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,635FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी