यूपी के अयोध्या में राम मंदिर के होर्डिंग को लेकर मचा बवाल

0
12
यूपी के अयोध्या में राम मंदिर के होर्डिंग को लेकर मचा बवाल

अयोध्या(Ayodhya) में राम मंदिर(Ram Mandir) की होर्डिंग से पहले सियासत में भूचाल आ गया है। भाजपा सरकार(BJP Government) द्वारा लगाए गए बैनर में लिखा है कि अंतर स्पष्ट था तब रामलला(Ram Lalla) तंबू में थे, अब भव्य मंदिर का निर्माण हो रहा है। इसमें एक तरफ रामलला को तिरपाल में विराजमान किया गया है और दूसरी तरफ राम मंदिर का मॉडल दिखाया गया है। कई जगहों पर लगा यह होर्डिंग अब चर्चा का विषय बन गया है। इससे पूरा राजनीतिक माहौल गर्म हो गया है। जहां भारतीय जनता पार्टी ने इसे अपनी उपलब्धि बताने की कोशिश की है तो विपक्षी दल सपा और कांग्रेस इसे लेकर सवाल उठा रहे हैं। बीजेपी इसमें कुछ भी गलत मानने को तैयार नहीं है। बीजेपी सरकार की ओर से कई जगहों पर यह होर्डिंग लगा दिया गया है। लेकिन यह होर्डिंग रामजन्मभूमि के गेट नंबर-3 पर लगा दिया गया है। यहां से कुछ दूरी पर बाबरी मस्जिद के पक्षधर इक़बाल अंसारी का भी घर है।

इसी तरह के होर्डिंग शहर के कई अन्य स्थानों पर भी लगाए गए हैं। होर्डिंग्स में सबसे ऊपर अंतर साफ है और सबसे नीचे बीजेपी का चुनाव चिह्न कमल का फूल बन गया है। होर्डिंग के ऊपरी हिस्से में जहां तब और अब की उपलब्धियां बताने का प्रयास किया गया है। तब और अब निर्माणाधीन टेंट में बैठे रामलला राम मंदिर का मॉडल हैं। इसी तरह होर्डिंग के निचले हिस्से में ईमानदार सोच रखने वाला, मजबूत काम करने वाला और एक बार बीजेपी की सरकार लिखा हुआ होता है।

समाजवादी पार्टी के जिलाध्यक्ष गंगा सिंह यादव का कहना है कि रामलला को तंबू तक पहुंचाने वाला कौन था, यह तो सभी जानते हैं। अगर इन लोगों ने 6 दिसंबर को विवादित ढांचा नहीं गिराया होता तो शायद टेंट में नहीं आते। ये लोग सुप्रीम कोर्ट के काम को भी अपना बता रहे हैं। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर राम मंदिर बन रहा है। इसमें बीजेपी की कोई उपलब्धि नहीं है। जहां तक अयोध्या के विकास की बात है तो सारा काम सपा के राज में हुआ है. ओवर ब्रिज का काम हो या 14 कोसी परिक्रमा स्थल के चौड़ीकरण का काम हो, यह सब सपा सरकार में हुआ है। बीजेपी के राज में आए दिन जमीन घोटाले के मामले सामने आ रहे हैं।

कांग्रेस जिलाध्यक्ष अखिलेश यादव का कहना है कि आज जरूरत है रोजगार की, महंगाई से मुक्ति की लेकिन बीजेपी सरकार लोगों को मुद्दों से भटकाने के लिए होर्डिंग लगा रही है, अयोध्या में विकास नहीं हुआ है। यहां गड्ढे में सड़क है, सड़क में गड्ढा है। यह पार्टी केवल मार्केटिंग करके सस्ते प्रचार को लूटने की कोशिश कर रही है।

यह भी पढ़ें- यूपी के मुज़फ्फरनगर में एक किसान को अदालत ने किया 35 साल बाद बरी

बीजेपी महानगर अध्यक्ष अभिषेक मिश्रा का कहना है कि विपक्ष का काम सिर्फ आरोप लगाना है। हमने जो होर्डिंग्स लगाए हैं, उससे साफ है कि फर्क साफ है. रामलला तंबू में थे, आज उनका भव्य मंदिर बन रहा है। वह अंतर स्पष्ट है। जब हम जनता को फर्क दिखा रहे हैं तो विपक्ष हैरान है। हमने पिछली सरकारों से बेहतर काम किया है।

Input-IANS; Edited By- Saksham Nagar

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here