Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
संस्कृति

प्रयागराज कुम्भ का फार्मूला उत्तराखंड कुम्भ में भी इस्तेमाल किया जाएगा

अधिकारियों ने कोविड प्रोटोकॉल पर, विशेष भीड़ प्रबंधन पर भी चर्चा की, ताकि इस बड़े कार्यक्रम के दौरान दो भक्तों के बीच 1.6 मीटर की दूरी बनी रहे।

प्रयागराज अर्ध कुम्भ के सफलता के बाद अब उत्तराखंड प्रशासन भी उसी फॉर्मूले को आजमाएगी। (सांकेतिक चित्र, Wikimedia Commons)

 उत्तराखंड पुलिस ने साल 2021 में होने वाले अगले कुंभ मेले के लिए भीड़ प्रबंधन और यातायात नियंत्रण को लेकर उत्तर प्रदेश के अपने समकक्षों की मदद मांगी है। प्रयागराज रेंज के पुलिस महानिरीक्षक के.पी. सिंह, जिन्होंने महाकुंभ-2019 के दौरान डीआईजी/एसएसपी के रूप में कार्य किया था, उनको यातायात और भीड़ प्रबंधन पर रणनीति और योजना बनाने और उनके अनुभव से लाभ पाने के लिए उत्तराखंड में आमंत्रित किया गया।

आईजी ने कहा, “मैंने 2019 महाकुंभ में यातायात और भीड़ प्रबंधन के लिए अपनाए गए उपायों, रणनीति को और अपने अनुभव को आईजी (मेला) संजय गुंज्याल के साथ साझा किया। मैंने उन्हें हरिद्वार में वन-वे ट्रैफिक सिस्टम लगाने की सलाह दी, जैसे हमने महाकुंभ के दौरान किया था।”


उत्तराखंड पुलिस को सलाह दी गई कि वे मेला स्थल पर वाहनों की आवाजाही की अनुमति न दें, चिह्नें का सीमांकन करें और वहां से तीर्थयात्रियों को मेला परिसर तक पहुंचाएं।

यह भी पढ़ें: महामारी के प्रभाव से धीरे-धीरे पटरी पर लौटेगी अर्थव्यवस्था

भक्तों और तीर्थयात्रियों को घाटों, आश्रमों, मठों और अखाड़ों तक चलकर जाना होगा।

उन्होंने कहा, “हमने उन्हें तीर्थयात्रियों को ट्रैफिक जाम और दुर्घटना से बचाने के लिए शटल बस सेवा शुरू करने की सलाह दी। प्रयागराज पुलिस ने 400 से अधिक शटल बसों को श्रद्धालुओं और तीर्थयात्रियों को पाकिर्ंग स्लॉट से लेकर मेला स्थल तक पहुंचाने के लिए सड़कों पर उतारा था।”

सिंह ने उत्तराखंड पुलिस को हरिद्वार में भीड़ और यातायात का प्रबंधन करने और अराजकता से बचने के लिए उन्हें विभिन्न घाटों की ओर मोड़ने की सलाह दी।

साल 2019 के महाकुंभ के दौरान प्रयागराज पुलिस ने संगम पर भीड़भाड़ को रोकने के लिए फाफामऊ, अरैल और झांसी घाटों की ओर भीड़ को मोड़ दिया था।

प्रायराज कुम्भ में प्रशासन के इंतजामों की हुई थी प्रशंसा। (सांकेतिक चित्र, Pixabay)

सिंह ने आगे कहा, “हमने मेला स्थल पर कई प्रवेश और निकासी द्वार बनाने का भी सुझाव दिया।”

प्रयागराज की तुलना में हरिद्वार मेला स्थल में होल्डिंग एरिया (घाटों पर स्नान करने वाले श्रद्धालुओं के लिए स्थान) कम है, इसलिए आईजी ने इस क्षेत्र को सेक्टरों में विभाजित करने और बेहतर भीड़ प्रबंधन के लिए समान मात्रा में श्रद्धालुओं को डायवर्ट करने का सुझाव दिया, इसके अलावा यातायात और भक्तों के प्रवाह को नियंत्रित करने के लिए होल्डिंग एरिया को मेला स्थल के बाहर बनाने का सुझाव भी दिया।

उन्होंने कहा, “हरिद्वार मेला पुलिस को सार्वजनिक परिवहन और निजी वाहनों की तैनाती के लिए पड़ोसी जिला पुलिस के साथ समन्वय करने के लिए भी कहा गया है, इसके अलावा रणनीतिक स्थानों पर क्रेन और अन्य यातायात उपकरणों की व्यवस्था भी की गई है।”

यह भी पढ़ें: देश-विदेश में प्रदर्शित होगी काशी की पपेट रामलीला

सिंह ने आईजी हरिद्वार कुंभ मेला संजय गुंज्याल के साथ सुरक्षा ब्लूप्रिंट प्लान और ‘शाही स्नान’ के लिए सुरक्षा उपाय भी साझा किए।

अधिकारियों ने कोविड प्रोटोकॉल पर, विशेष भीड़ प्रबंधन पर भी चर्चा की, ताकि इस बड़े कार्यक्रम के दौरान दो भक्तों के बीच 1.6 मीटर की दूरी बनी रहे। उन्होंने यह भी चर्चा की कि कोविड प्रोटोकॉल का उल्लंघन नहीं होने देने के लिए भीड़ की मात्रा को एक निश्चित समय पर मेला स्थल में प्रवेश की अनुमति दी जाए।(आईएएनएस)

Popular

कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन डेल्टा वेरिएंट से 30 गुना ज्यादा खतरनाक माना जा रहा है। (Wikimedia Commons)

भारत, जापान, मलेशिया, सिंगापुर और दक्षिण कोरिया में अब ओमिक्रॉन(omicron)के मामले सामने आए हैं और हर गुजरते घंटे के साथ नए मामले दर्ज किए जा रहे हैं जिसको देखते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन (W.H.O.) ने शुक्रवार को चेतावनी दी कि एशिया-प्रशांत(Asia Pacific) क्षेत्र के देशों को स्वास्थ्य सेवाओं को मजबूत करने और अपने लोगों को टीकाकरण(vaccination) पर ध्यान पर करने की जरूरत है, क्योंकि ओमिक्रोन वेरिएंट विश्व स्तर पर फैलता जा रहा है और नए क्षेत्रों में प्रवेश कर रहा है।

WHO, covid-19 विश्व स्वास्थ्य संगठन का संकेत (Pixabay)

Keep Reading Show less

पंजाबी सिंगर मूसेवाला कांग्रेस में हुए शामिल। [IANS]

अपने एक गाने में हिंसा और बंदूक संस्कृति को बढ़ावा देने के आरोप में गिरफ्तार मशहूर पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose Wala) शुक्रवार को पंजाब कांग्रेस (Congress) में शामिल हो गए। वह मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी (Charanjit Singh Channi) और प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष नवजोत सिंह सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) की मौजूदगी में पार्टी में शामिल हुए।

इस समारोह के दौरान सिद्धू ने मूसेवाला को यूथ आइकॉन बताया।

सिद्धू (Navjot Singh Sidhu) ने मीडिया से कहा, "सिद्धू मूसेवाला हमारे परिवार में शामिल हो रहे हैं। मैं उनका कांग्रेस में स्वागत करता हूं।"

मूसेवाला को 'बड़ा कलाकार' बताते हुए चन्नी ने कहा कि अपनी कड़ी मेहनत से उन्होंने लाखों लोगों का दिल जीता है।

Keep Reading Show less

टेस्ला (Wikimedia Commons)

टेस्ला(Tesla) ने हाल ही में साइबरक्वाड(Cyberquad) नाम के बच्चों के लिए एक चार पहिया ऑल-टेरेन वाहन(All Terrain Vehicle) लॉन्च किया है। कंपनी ने दावा किया कि यह 8 साल और उससे अधिक उम्र के बच्चों के लिए उपयुक्त है।

ऑल-इलेक्ट्रिक साइबरक्वाड की कीमत $ 1,900 है। यह फिलहाल यूएस में टेस्ला वेबसाइट पर ऑर्डर करने के लिए उपलब्ध है और दो से चार सप्ताह में शिपिंग शुरू हो जाएगी।

Keep reading... Show less