Monday, June 14, 2021
Home ट्रेंड वर्कवियर का भविष्य!

वर्कवियर का भविष्य!

जिस तरह लॉकडाउन ने लोगों को वर्क फ्रॉम होम की आदत से मिलाया है, उसी तरह अब लोग साल भर चलने वाले आरामदायक वर्कवियर की ओर बढ़ रहे हैं।

By: पूजा गुप्ता

महिलाओं के वर्कवियर में भारी बदलाव आया है। आज काम के लिए फॉर्मल और डेली वियर अधिक जीवंत और वाइब्रेंट हो गए हैं।

हालांकि, महामारी से इस सेगमेंट में एक बड़ा बदलाव आया है जो ‘वर्क यूनिफॉर्म’ के मानक से पेशेवर कंफर्ट वियर के लिए स्थानांतरित हो गया।

क्वा के संस्थापक रूपांशी कहती हैं, “मौजूदा स्थिति को देखते हुए, उपभोक्ताओं के निकट भविष्य के लिए घर से काम करने की संभावना है। काम-अवकाश जैसी प्रमुख श्रेणियां जो ट्रांस-सीजनल हैं, सबसे आगे आएंगी। लॉकडाउन के दौरान, हमने देखा हमारी बिक्री में जबरदस्त वृद्धि हुई है क्योंकि उपभोक्ता अब स्लो फैशन ब्रांड्स द्वारा साल भर चलने वाले आरामदायक वर्कवियर की ओर बढ़ रहे हैं।”

क्लासिक शर्ट, पैंटसूट और ट्राउजर के अलावा फ्लोई ड्रेसेस, स्टेटमेंट स्लीव्स वाली शर्ट और कम्फर्ट को-ऑर्डस को शामिल करके क्वा महिलाओं की वर्कवियर की जरूरतों को पूरा कर रहा है।

महिलाऐं आरामदायक वर्कवियर की ओर बढ़ रही हैं।(Pexels)
तो आने वाले महीनों में क्या पूर्वानुमान है?

कई महीनों के लॉकडाउन के बाद, उपभोक्ताओं ने आराम-पहनने और काम और अवकाश में अधिक निवेश किया है, और उन्हें इस तरह से स्टाइल करने की उम्मीद है जो पेशेवर और निजी वातावरण के बीच अनुकूल हो सके। आने वाले महीनों में आराम से संचालित दृष्टिकोण की वापसी होगी और यह ट्रेंड पर आराम का वर्ष होने जा रहा है।

रूपांशी के मुताबिक, “महामारी की अराजकता के बीच, सूती, विस्कोस और लिनन जैसे नरम कपड़ों से ज्यादा उपयुक्त और आरामदायक कुछ भी नहीं लगता है। जीवनशैली में बदलाव के साथ, वर्कवियर में कार्यक्षमता और बहुमुखी प्रतिभा की मांग प्राथमिकता लेगी। कमर- अप ड्रेसिंग जारी रहेगी जो स्टेटमेंट स्लीव्स, नेकलाइन्स और एक्सक्लूसिव ज्वैलरी जैसे डिटेलिंग पर सुर्खियों में रहेगी।”

यह भी पढ़ें: कॉस्मेटिक सर्जरी में हुआ इजाफा और सबसे ज्यादा इसमें पुरूषों की संख्या!

पफ स्लीव्स, पावर शोल्डर, रुचि और नॉट डिटेल्स, समकालीन कॉलर, वाइड-लेग्ड और कॉटन-लाइनेड पैंट, जीवंत रंगों में पैंटसूट, ओवरसाइज्ड शर्ट और मिनिमलिस्टिक ज्वेलरी वर्कवियर को फिर से शुरू करेंगे और घर से काम करते हुए महिलाओं को सशक्त बनाएंगे।(आईएएनएस-SHM)

POST AUTHOR

न्यूज़ग्राम डेस्क
संवाददाता, न्यूज़ग्राम हिन्दी

जुड़े रहें

7,623FansLike
0FollowersFollow
177FollowersFollow

सबसे लोकप्रिय

धर्म निरपेक्षता के नाम पर हिन्दुओ को सालों से बेवकूफ़ बनाया गया है: मारिया वर्थ

यह आर्टिक्ल मारिया वर्थ के ब्लॉग पर छपे अंग्रेज़ी लेख के मुख्य अंशों का हिन्दी अनुवाद है।

विज्ञापनों पर पानी की तरह पैसे बहा रही केजरीवाल सरकार, कपिल मिश्रा ने लगाया आरोप

पिछले 3 महीनों से भारत, कोरोना के खिलाफ जंग लड़ रहा है। इन बीते तीन महीनों में, हम लगातार राज्य सरकारों की...

भारत का इमरान को करारा जवाब, दिखाया आईना

भारत ने पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान द्वारा संयुक्त राष्ट्र महासभा में दिए गए भाषण पर आईना दिखाते हुए करारा जवाब दिया...

जब इन्दिरा गांधी ने प्रोटोकॉल तोड़ मुग़ल आक्रमणकारी बाबर को दी थी श्रद्धांजलि

ये बात तब की है जब इन्दिरा गांधी भारत की प्रधानमंत्री हुआ करती थी। वर्ष 1969 में इन्दिरा गांधी काबुल, अफ़ग़ानिस्तान के...

दिल्ली की कोशिश पूरे 40 ओवर शानदार खेल खेलने की : कैरी

 दिल्ली कैपिटल्स के विकेटकीपर एलेक्स कैरी ने कहा है कि टीम के लिए यह समय है टूर्नामेंट में दोबारा शुरुआत करने का।...

गाय के चमड़े को रक्षाबंधन से जोड़ने कि कोशिश में था PETA इंडिया, विरोध होने पर साँप से की लेखक शेफाली वैद्य कि तुलना

आज ट्वीटर पर मचे एक बवाल में PETA इंडिया का हिन्दू घृणा खुल कर सबके सामने आ गया है। ये बात...

दिल्ली दंगा करवाने में ‘आप’ पार्षद ताहिर हुसैन ने खर्च किए 1.3 करोड़ रूपए: चार्जशीट

इस साल फरवरी में हुए हिन्दू विरोधी दिल्ली दंगों को लेकर आज दिल्ली पुलिस ने कड़कड़डूमा कोर्ट में चार्ज शीट दाखिल किया।...

क्या अमनातुल्लाह खान द्वारा लिया गया ‘दान’, दंगों में खर्च हुए पैसों की रिकवरी थी? बड़ा सवाल!

फरवरी महीने में हुए दिल दहला देने वाले हिन्दू विरोधी दंगों को लेकर दिल्ली पुलिस आक्रमक रूप से लगातार कार्यवाही कर रही...

हाल की टिप्पणी