Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
देश

मध्य प्रदेश : गांव के लोगों द्वारा इन महिलाओं को बुलाया जाता है ‘वसूली भाभी’

मध्य प्रदेश की मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए निष्ठा विद्युत मित्र योजना (Nishtha Vidyut Mitra scheme) शुरु की है। इस योजना से जहां बिजली कंपनी को बिजली चोरी की रोकथाम, बिल की वसूली से लेकर नए कनेक्शन में मदद मिली है वहीं महिलाओं की आमदनी

मध्य प्रदेश की मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने के लिए निष्ठा विद्युत मित्र योजना (Nishtha Vidyut Mitra scheme) शुरु की है। इस योजना से जहां बिजली कंपनी को बिजली चोरी की रोकथाम, बिल की वसूली से लेकर नए कनेक्शन में मदद मिली है वहीं महिलाओं की आमदनी भी बढ़़ी है। इस काम में लगी महिलाओं को गांव में ‘वसूली भाभी’ के तौर पर पहचाना जाने लगा है।

निष्ठा विद्युत मित्र योजना

बताया गया है कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने अपने कार्यक्षेत्र के भोपाल, नर्मदापुरम, ग्वालियर एवं चंबल संभाग के 16 जिलों में महिला आत्मनिर्भरता के लिए विशेष योजना ‘निष्ठा विद्युत मित्र योजना’ (Nishtha Vidyut Mitra scheme) संचालित की है। राज्य ग्रामीण अजीविका मिशन के अंतर्गत स्व-सहायता समूह में पंजीकृत महिलाओं को निष्ठा विद्युत मित्र के रूप में अनुबंधित किया गया है। योजना से 200 से भी अधिक महिलाओं को आर्थिक लाभ हो रहा है और वे अपने घर की जरूरतें और बच्चों की परवरिश को पूरा कर रही हैं।


ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर। (Facebook Profile)

ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradhuman Singh Tomar) ने कहा है कि निष्ठा विद्युत मित्र योजना (Nishtha Vidyut Mitra scheme) बेहतर परिणाम के साथ-साथ महिलाओं को आत्मनिर्भर बना रही है। योजना में निष्ठा विद्युत मित्रों को बिजली बिल की वसूली और नये कनेक्शन, राजस्व वसूली, बिजली चोरी की रोकथाम आदि के काम दिए गए हैं।

बताया गया है कि मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के कार्यक्षेत्र में 224 निष्ठा विद्युत मित्रों ने 31 लाख से भी अधिक राजस्व वसूली की है। नये बिजली कनेक्शन दिए हैं। निष्ठा विद्युत मित्रों को गांवों में लोग ‘वसूली भाभी’ के नाम से जानते हैं।

यह भी पढ़ें – मध्य प्रदेश के जिले में गीत-संगीत के जरिए हो रही है पढ़ाई

महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं

कहा जा रहा है कि निष्ठा विद्युत मित्र योजना (Nishtha Vidyut Mitra scheme) के जरिए महिलाएं आर्थिक तौर पर आत्मनिर्भर भी बन रही हैं। इस योजना में अर्धवार्षिक गणना के अनुसार पिछले वर्ष की तुलना में स्व सहायता समूह द्वारा अधिक वसूली गई राशि पर 15 प्रतिशत प्रोत्साहन राशि दी जाती है। नवीन सिंगल फेज कनेक्शन जारी करवाने पर 50 रुपये प्रति कनेक्शन प्रोत्साहन राशि दी जाती है। इसके साथ ही तीन फेज सिंचाई पंप कनेक्शन जारी करवाने पर दो सौ रुपये प्रति कनेक्शन प्रोत्साहन राशि मिलती है। इसके अलावा बिजली चोरी की सूचना देने पर प्रकरण सही पाए जाने पर बिल की गई राशि प्राप्त होने पर 10 प्रतिशत प्रोत्साहन राशि देने का प्रावधान है। (आईएएनएस)

Popular

राम मंदिर निर्माण होने के बाद मथुरा की तैयारी!(File Photo)

विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने कहा है कि 6 दिसंबर के दिन को कोई बड़ा कार्यक्रम नहीं होगा, लेकिन राम मंदिर(Ram Mandir) के निर्माण पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। विहिप(VHP) के कार्यकारी अध्यक्ष आलोक कुमार(Alok Kumar) ने एक बयान में कहा, "6 दिसंबर पूरे देश के लिए एक बड़ा दिन है। इसलिए विहिप शाखा बजरंग दल 6 दिसंबर को 'शौर्य दिवस' के रूप में मना रही है। पहले की तरह ही इसे चिह्न्ति करने के लिए दिन में कार्यक्रम होंगे। यह कार्यक्रम भी उसी तरह आयोजित किए जाएंगे।"

VHP,Mathura,2024 2024 में मथुरा विवाद पर विचार करेंगे -विश्व हिंदू परिषद (File Photo)

Keep Reading Show less

मायावती (Wikimedia Commons)

5 राज्यों के चुनाव जैसे-जैसे पास आ रहे हैं वैसे-वैसे राजनीतिक दल चुनाव जीतने के लिए अपनी-अपनी रणनीति बना रहे हैं। सोमवार को नंबर बसपा(Bahujan Samaaj Party) अध्यक्ष मायावती का था जिन्होंने दलितों का मुद्दा उठाकर अपना पारम्परिक वोटबैंक साधने की कोशिश की।

देश के संविधान के निर्माता बाबासाहेब अंबेडकर(Bhimrao Ambedkar) की 65वीं पुण्यतिथि पर पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने दो अन्य राज्यों में विधानसभा चुनावों के लिए अपनी पार्टी की योजनाओं को भी साझा किया।

Keep Reading Show less

अलर्ट पर अयोध्या। (Unsplash)

अयोध्या(ayodhya) में कोई विशेष खुफिया अलर्ट नहीं होने के बावजूद सुरक्षा बल हाई अलर्ट(Alert) पर हैं क्यों कि दिनांक 6 दिसंबर है। बता दें, 6 दिसंबर 1992 को कार सेवकों द्वारा बाबरी मस्जिद(Babri Masjid) को गिरा दिया गया , जिसने देश के राजनीतिक परिदृश्य को बदल दिया। तब से लेकर वर्तमान समय तक 6 दिसंबर पर संपूर्ण यूपी अलर्ट पर रहता है।

आला पुलिस अधिकारी का कहना है कि पुलिस(Police) कोई जोखिम नहीं उठा रही है और किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए सभी सावधानियां बरती जा रही हैं। आईएएनएस से बात करते हुए, एडीजी लखनऊ(ADG Lucknow) जोन, एस.एन. सबत(S.N.Sabat) ने कहा, "हमने अयोध्या में पर्याप्त सुरक्षा बलों को तैनात किया है और सभी सावधानी बरतने के अलावा कोई विशेष खुफिया अलर्ट नहीं है।"

Keep reading... Show less