केंद्रीय सरकार ने कहा, सभी वैक्सीन निर्माताओं के साथ चल रही बातचीत

सभी वैक्सीन निर्माताओं के साथ चल रही बातचीत (Wikimedia commons)
सभी वैक्सीन निर्माताओं के साथ चल रही बातचीत (Wikimedia commons)

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने मंगलवार को जानकारी दी कि केंद्र सभी वैक्सीन निर्माताओं से बातचीत कर रहा है, जिसमें विदेशी निर्माता भी शामिल है। मंत्रालय ने एक संवाददाता सम्मेलन में यह खुलासा किया, जब पूछा गया कि क्या भारत अपने कोविड वैक्सीन कैंडिडेट के लिए अमेरिका-आधारित फार्मा कंपनी फाइजर इंक के साथ गठजोड़ करने पर विचार कर रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राकेश भूषण ने कहा, "कोविड-19 वैक्सीन प्रशासन को लेकर राष्ट्रीय स्तर पर विशेषज्ञों का समूह घरेलू और विदेशी निर्माताओं सहित सभी वैक्सीन निर्माताओं के साथ बातचीत कर रहा है।"

स्वास्थ्य मंत्रालय के सचिव ने कहा कि इस बातचीत में हम वैक्सीन के विकास कार्यों को देखते हैं। साथ ही नियामक संस्थाओं की ओर से मिले अप्रूवल भी वैक्सीन की स्थिति को बताते हैं।

कोविड वैक्सीन के भंडारण पर उन्होंने कहा कि विशेषज्ञों का समूह इस बात पर भी विचार करता है कि वैक्सीन को शून्य से 90 डिग्री नीचे के (माइनस 90 डिग्री) तापमान पर स्टोर के लिए लॉजिस्टिक जरूरतें क्या होंगी।

भूषण ने कहा, "हम न केवल वृद्धि और मजबूती की स्थिति में हैं, बल्कि हम हमारी कोल्ड चेन क्षमताओं को भी जोड़ रहे हैं। हालांकि, इस समय हमारे पास साझा करने के लिए कोई संख्या नहीं है। ऐसे बड़े पैमाने पर टीकाकरण के लिए कोल्ड चेन प्वाइंट्स में पर्याप्त वृद्धि की आवश्यकता होगी।"

एक दिन पहले ही फाइजर इंक और जर्मन बायोटेक कंपनी बायोएनटेक ने घोषणा की थी कि उनकी कोविड वैक्सीन कैंडिडेट, बीएनटी162बी2 परीक्षण में 90 फीसदी कारगर साबित हुई है।

वैक्सीन निर्माता ने यह भी कहा था कि वे 2020 में विश्व स्तर पर पांच करोड़ वैक्सीन खुराक और 2021 में 1.3 अरब खुराक तक उत्पादन करने की उम्मीद कर रहे हैं। इसके अलावा कोविड-19 के लिए दुनियाभर में कई वैक्सीन कैंडिडेट पहले से ही अंतिम चरण के परीक्षण में हैं।(आईएएनएस )

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com