चंद्रमा पर मोबाइल नेटवर्क बनाने के लिए तैयार है नोकिया

चंद्रमा पर मोबाइल नेटवर्क बनाने के लिए तैयार है नोकिया
नोकिया की इस पहल के साथ ही चाँद पर इस तरह का पहला नेटवर्क होगा। (Pixabay)

फिनलैंड के नोकिया को नासा द्वारा चंद्रमा पर पहला सेलुलर नेटवर्क बनाने के लिए चुना गया है।

लूनर नेटवर्क 2024 तक मनुष्यों को चंद्रमा पर वापस लाने और अपने आर्टेमिस कार्यक्रम (Artemis program) के तहत वहां लम्बे वक़्त के लिए, अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी के प्रयासों का हिस्सा होगा।

नोकिया ने कहा कि अंतरिक्ष में पहला वायरलेस ब्रॉडबैंड संचार प्रणाली 2022 के अंत में चंद्र सतह पर बनाया जाएगा।

फिनलैंड की कंपनी, टेक्सास स्थित एक निजी स्पेस क्राफ्ट डिजाइन फर्म इंट्यूएटिव के साथ साझेदारी करेगी जो चंद्रमा तक नेटवर्क उपकरण पहुंचाने में सहायक सिद्ध होगी।

यह भी पढ़ें – क्या आप जानते हैं कि धरती पर रह रहा, सबसे पुराना जीव कौन है ?
 
उपकरण के पहुंच जाने पर, नेटवर्क खुद को कॉन्फ़िगर कर, चंद्रमा पर पहला एलटीई (Long-Term Evolution) संचार प्रणाली स्थापित कर सकेगा।

नोकिया का कहना है कि "नेटवर्क कई अलग-अलग डेटा-ट्रांसमिशन अनुप्रयोगों के लिए महत्वपूर्ण संचार क्षमताओं को प्रदान करेगा, जिसमें महत्वपूर्ण कमांड और नियंत्रण फ़ंक्शन, रियल टाइम नेविगेशन और उच्च परिभाषा वीडियो की स्ट्रीमिंग शामिल हैं। " (VOA)

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com