जिन खिलाड़ियों ने पदक जीते उन्हें किया गया सम्मानित-योगी आदित्यनाथ

जिन खिलाड़ियों ने पदक जीते उन्हें किया गया सम्मानित-योगी आदित्यनाथ
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (File Photo)

मुख्यमंत्री योगी(yogi Adityanath) शनिवार को प्रदेश शासन(Up government) के खेल विभाग की तरफ से रीजनल स्टेडियम में आयोजित ब्रह्मलीन महंत अवेद्यनाथ जी महाराज स्मृति तृतीय अखिल भारतीय प्राइज मनी कबड्डी प्रतियोगिता के समापन एवं पुरस्कार वितरण समारोह को बतौर मुख्य अतिथि संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जीवन में स्वस्थ्य प्रतिस्पर्धा को आगे बढ़ाने के लिये खेल का अपना महत्व है। एक खिलाड़ी जब अंतरराष्ट्रीय स्तर पर सकारात्मक ऊर्जा के साथ खेलता है तो वह अपने लिए नहीं बल्कि स्वस्थ समाज, प्रदेश और देश के लिए खेलता है। हर खिलाड़ी का उत्साह बढ़ाना हम सभी का दायित्व है।

उन्होंने(Yogi Adityanath) कहा कि खेल हम सबको बेहतर स्वास्थ्य और सकारात्मक भाव के साथ कार्य करने की प्रेरणा देता है। इसी को ध्यान में रखकर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी(Narendra Modi) ने खेलो इंडिया का अभियान शुरू किया है। सबने देखा है कि 5 से 6 साल में ही खेलो इंडिया(Khelo India) के शानदार परिणाम सामने आए हैं। पहली बार कोरोना महामारी के बावजूद ओलम्पिक और पैरालम्पिक में भारतीय खिलाडियों के सबसे बड़े दल ने प्रतिभाग किया और अबतक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

सीएम(Yogi Adityanath) ने कहा कि ओलम्पिक(olympics) में हर खिलाड़ी नहीं जा सकता। ओलम्पिक जाने के लिए सबसे पहले क्वालीफाई करना पड़ता है फिर वहां पर एक नई प्रतिस्पर्धा होती है और उसमें जो व्यक्ति स्थान प्राप्त करता है दुनिया में महानायक बनकर उभरता है। टोक्यो ओलम्पिक में जिन खिलाड़ियों ने पदक जीते उन्हें प्रदेश सरकार(Up government) ने भव्य समारोह में सम्मानित किया। खिलाडियों को 42 करोड़ रुपए की नगद राशि सम्मान स्वरूप दी गई।


ओलंपिक में स्थान प्राप्त करने वाला दुनिया में महानायक बनकर उभरता है। योगी आदित्यनाथ। (File Photo)

उन्होंने(Yogi Adityanath) बताया कि ओलम्पिक(olympics) गेम्स में एकल वर्ग के लिए स्वर्ण पदक(Gold medal) प्राप्त करने वाले खिलाड़ी को 6 करोड़, रजत पदक(Silvar Medal) के लिए 4 करोड़, कांस्य पदक(Bronze medal) 2 करोड़, टीम गेम्स के स्वर्ण पदक में 3 करोड़, रजत 2 करोड़, कांस्य एक करोड़ रुपए देने की व्यवस्था यूपी सरकार ने की है। इसी प्रकार कामनवेल्थ व एशियन गेम्स के एकल वर्ग में स्वर्ण पदक पर 50 लाख, रजत पर 30 लाख, कांस्य पर 15 लाख, टीम गेम्स में स्वर्ण पदक पर 30 लाख, रजत 15 लाख, कांस्य पदक 10 लाख रूपए प्रदान किए जाते हैं।

इसके अलावा एफ्रो एशियन/विश्व कप(Word cup) एकल वर्ग में स्वर्ण पदक में 15 लाख, रजत में 10 लाख, कांस्य पदक में 8 लाख, टीम गेम्स में स्वर्ण पदक 10 लाख रजत 8 लाख तथा कांस्य पदक में 6 लाख रुपये प्रदेश सरकार अपने खिलाड़ियों को प्रोत्साहन स्वरूप देने के लिए संकल्पित है। इस अवसर पर सदर सांसद रविकिशन शुक्ल, महापौर सीताराम जायसवाल, विधायक डॉ राधामोहन दास अग्रवाल, बिपिन सिंह, खेल निदेशक आरपी सिंह समेत कई अधिकारी मौजूद रहे।

कबड्डी प्रतियोगिता(kabaddi competition) के फाइनल मुकाबले में हरियाणा(Hariyana) की टीम ने उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh) को हराकर खिताब अपने नाम किया। सीएम योगी ने दोनों टीमों के खिलाड़ियों को बधाई देते हुए उन्हें पुरस्कृत किया। पहले स्थान पर रही हरियाणा की टीम को दो लाख रुपये तथा उपविजेता यूपी की टीम को एक लाख रुपये नकद धनराशि भी प्रदान की गई।

input : आईएएनएस ; Edited by Lakshya Gupta

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com