भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव का आयोजन गोवा में 20 नवंबर से 28 नवंबर तक होगा

53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव में 15 फिल्में प्रतिष्ठित स्वर्ण मयूर पुरस्कार हासिल करने की दौड़ में हैं
भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, 2016
भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, 2016Wikimedia

इस बार भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव (आईएफएफआई) में पिछले किसी भी अन्य आयोजन की तुलना में अधिक संख्या में राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय फिल्मी हस्तियां शामिल होंगी। फ़िलहाल केंद्र और राज्य सरकार द्वारा आयोजन की योजना अच्छी तरह बनाई जा रही है और जल्द ही प्रतिनिधियों को विस्तृत कार्यक्रम उपलब्ध कराया जाएगा। इस 53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव का आयोजन गोवा में 20 नवंबर से 28 नवंबर, 2022 तक होगा।

गौरतलब है कि 53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव (International Film Festival of India) में 15 फिल्में प्रतिष्ठित स्वर्ण मयूर पुरस्कार हासिल करने की दौड़ में हैं। इन फिल्मों में कश्मीरी पंडितों के पलायन पर बनी फ़िल्म 'द कश्मीर फाइल्स' ('The Kashmir Files') भी शामिल है। महोत्सव का आयोजन गोवा में 20 नवंबर से 28 नवंबर, 2022 तक होगा। इन फिल्मों में 12 अंतर्राष्ट्रीय और तीन भारतीय फिल्में शामिल हैं जो कला के माध्यम से कोई न कोई संदेश देती हैं।

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, 2016
भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, 2016Wikimedia



केंद्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय 53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव (आईएफएफआई) की तैयारियों की समीक्षा कर रहा है। इसको लेकर केंद्रीय राज्य मंत्री डॉ. एल. मुरुगन ने विभिन्न कार्यक्रमों के लिए निर्धारित स्थानों का दौरा किया। उन्होंने आग्रह किया कि जल्द से जल्द काम पूरा किया जाए। इस दौरान केंद्र और वह सरकार के वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।

केंद्रीय मंत्री डॉ. एल. मुरुगन ने आईएफएफआई (IFFI) में होने वाले विभिन्न कार्यक्रमों जैसे फ़िल्म बाजार और राज्य मंडपों के लिए तैयार किए जा रहे स्थानों का दौरा किया। आयोजन स्थल अभी भी तैयारी के विभिन्न चरणों में हैं। डॉ. एल. मुरुगन ने आग्रह किया कि काम जल्द से जल्द पूरा किया जाए।

आयोजन स्थलों के दौरे के बाद, उन्होंने 53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के आयोजन और प्रबंधन में शामिल विभिन्न संगठनों के साथ एक बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में अपने संबोधन में, उन्होंने सभी हितधारकों से अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करने और एक साथ मिलकर काम करने का आग्रह किया, ताकि महोत्सव का आयोजन सर्वोत्तम तरीके से पूरा करना संभव हो सके। उन्होंने गोवा (Goa) के उल्लास और उत्सव की सहज भावना को बढ़ावा देते हुए आईएफएफआई को एक नए स्तर पर ले जाने का आग्रह किया।

भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव, 2016
अकबर के नौ रत्न, कोई गायक था तो कोई असीम ज्ञानी

सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय के सचिव अपूर्व चंद्रा ने जोर देकर कहा कि यह सुनिश्चित करने के लिए विशेष ध्यान रखा जाना चाहिए कि 53वें भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फ़िल्म महोत्सव में प्रतिनिधियों और फिल्म हस्तियों दोनों को सुखद अनुभव हो। उन्होंने निर्देश दिया कि वेबसाइट (website) और मोबाइल ऐप दोनों को जल्द ही तैयार किया जाए, ताकि प्रतिनिधि महोत्सव का बेहतरीन अनुभव प्राप्त कर सकें।

गोवा के पुलिस महानिरीक्षक ओमवीर सिंह बिश्नोई ने फिल्मी हस्तियों और प्रतिनिधियों दोनों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए विभिन्न सुरक्षा व्यवस्थाओं की समीक्षा की। उन्होंने खुशी और उत्सव के सामान्य माहौल को बनाए रखते हुए सुरक्षा की आवश्यकताओं को संतुलित करने की आवश्यकता को चिन्हित किया।

आईएएनएस/RS

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com