दुनिया की सबसे लंबी रिवर क्रूज के उद्घाटन के मौके पर शंकर महादेवन प्रस्तुति देंगे

काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में आयोजित इस कार्यक्रम में देश के प्रख्यात गायक शंकर महादेवन (Shankar Mahadevan) अपनी प्रस्तुति देंगे।
दुनिया की सबसे लंबी रिवर क्रूज (IANS)

दुनिया की सबसे लंबी रिवर क्रूज (IANS)

शंकर महादेवन

'एमवी गंगा विलास (MV ganga Vilas)' के साथ दुनिया की सबसे लंबी नदी क्रूज यात्रा के शुभारंभ की पूर्व संध्या पर केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय द्वारा 12 जनवरी को वाराणसी (Varanasi) में सांस्कृतिक कार्यक्रम 'सुर सरिता - सिम्फनी ऑफ गंगा' का आयोजन किया जा रहा है। काशी विश्वनाथ कॉरिडोर में आयोजित इस कार्यक्रम में देश के प्रख्यात गायक शंकर महादेवन (Shankar Mahadevan) अपनी प्रस्तुति देंगे।

दिल्ली में बुधवार को केंद्रीय संस्कृति मंत्रालय ने बताया कि संगीत कार्यक्रम के दौरान गंगा विलास क्रूज में यात्रा करने वाले पर्यटकों सहित अन्य गणमान्य लोग सुर तरंगिनियों का आनंद लेने के साथ-साथ, मां गंगा के महत्व तथा उनके प्रति अपनी जिम्मेदारियों से भी परिचित होगें। यह सुर संध्या यह अहसास कराएगा की मां गंगा कैसे हर भारतीय तथा संपूर्ण मानवता के लिए है एक देवी के रूप में पूजनीय है।

<div class="paragraphs"><p>दुनिया की सबसे लंबी रिवर क्रूज (IANS)</p></div>
Winter Tips: सर्दियों के मौसम में इन फूड्स से दूरी आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकती हैं

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) 13 जनवरी को वाराणसी में दुनिया की सबसे लंबी रिवर क्रूज का शुभारंभ करेंगे। यह भारत के लिए रिवर क्रूज पर्यटन के एक नए युग की शुरूआत का प्रतीक होगा। यह लग्जरी क्रूज भारत और बांग्लादेश के 5 राज्यों में 27 विभिन्न नदी प्रणालियों में 3,200 किलोमीटर से अधिक की दूरी तय करेगा।

गंगा विलास क्रूज 51 दिनों की यात्रा में उत्तर प्रदेश, बिहार, बांग्लादेश और असम को पार करेगा। इन जगहों पर नदी से जुड़ी पौराणिक कथाओं और किंवदंतियों का अपना इतिहास रहा है। इसको देखते हुए इस संगीत कार्यक्रम में अलग-अलग राज्यों से अलग-अलग फ्लेवर देने के लिए गानों को चुना गया है।

<div class="paragraphs"><p>गंगा</p></div>

गंगा

Wikimedia Commons

असम, बिहार और बंगाल के लोक संगीतकार गंगा, यमुना और ब्रह्मपुत्र नदियों को श्रद्धा भाव प्रदर्शित करने के लिए लोकप्रिय गायक शंकर महादेवन के साथ शामिल होंगे। तकरीबन एक घंटे के शो का समापन शंकर महादेवन की 'कर्तव्य गंगा' की स्तुति के साथ होगा।

मंत्रालय का कहना है कि 'कर्तव्य गंगा' नदी देवी से वादा करता है कि हर भारतवासी हमेशा उसकी देखभाल करेगा। उसके जल की रक्षा के लिए हम सबलोग सब कुछ करेंगे जैसे वह हमेशा हमारी रक्षा करती रही है। कार्यक्रम के दौरान ऑडियो-विजुअल प्रस्तुति के माध्यम से नदी, और उसकी चिरस्थायी प्रासंगिकता को प्रदर्शित किया जाएगा।

आईएएनएस/PT

Related Stories

No stories found.
hindi.newsgram.com