Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
दुनिया

शोधकर्ताओं ने की अल्जाइमर रोग के कारण की पहचान

शोधकर्ताओं ने 'ब्लड-टू-ब्रेन पाथवे' की पहचान की है जो अल्जाइमर रोग का कारण बन सकता है।

अल्जाइमर रोग एक मानसिक विकार है। (unsplash)

ऑस्ट्रेलिया के शोधकर्ताओं ने एक अभूतपूर्व अध्ययन में 'ब्लड-टू-ब्रेन पाथवे' की पहचान की है जो अल्जाइमर रोग का कारण बन सकता है। कर्टिन विश्वविद्यालय जो कि ऑस्ट्रेलिया के पर्थ शहर में है, वहाँ माउस मॉडल पर परीक्षण किया गया था, इससे पता चला कि अल्जाइमर रोग का एक संभावित कारण विषाक्त प्रोटीन को ले जाने वाले वसा वाले कणों के रक्त से मस्तिष्क में रिसाव था।

कर्टिन हेल्थ इनोवेशन रिसर्च इंस्टीट्यूट के निदेशक प्रमुख जांचकर्ता प्रोफेसर जॉन मामो ने कहा "जबकि हम पहले जानते थे कि अल्जाइमर रोग से पीड़ित लोगों की पहचान विशेषता बीटा-एमिलॉयड नामक मस्तिष्क के भीतर जहरीले प्रोटीन जमा का प्रगतिशील संचय था, शोधकर्ताओं को यह नहीं पता था कि एमिलॉयड कहां से उत्पन्न हुआ, या यह मस्तिष्क में क्यों जमा हुआ," शोध से पता चलता है कि अल्जाइमर रोग से पीड़ित लोगों के दिमाग में जहरीले प्रोटीन बनते हैं, जो रक्त में वसा ले जाने वाले कणों से मस्तिष्क में रिसाव की संभावना रखते हैं। इसे लिपोप्रोटीन कहा जाता है।


'ब्लड-टू-ब्रेन पाथवे' महत्वपूर्ण है क्योंकि अगर हम लिपोप्रोटीन-एमाइलॉइड के रक्त के स्तर को प्रबंधित कर सकते हैं और मस्तिष्क में उनके रिसाव को रोक सकते हैं, तो हमे अल्जाइमर रोग को रोकने के लिए नए उपचार प्राप्त हो सकते है।ऐसा पिछले शोध में दिखाया गया था कि बीटा-एमिलॉइड मस्तिष्क के बाहर लिपोप्रोटीन के साथ बनाया जाता है। मामो की टीम ने माउस मॉडल द्वारा 'रक्त-से-मस्तिष्क मार्ग' का परीक्षण किया ताकि मानव अमाइलॉइड-केवल यकृत का उत्पादन किया जा सके।

यह भी पढ़ेंः युवाओं को कैसे प्रभावित कर रहा है नशा?

रिसर्च से यह मालूम होता है कि रक्त में इन जहरीले प्रोटीन का जमा होना किसी व्यक्ति के आहार और कुछ दवाओं के माध्यम से संबोधित किया जा सकता है जो विशेष रूप से लिपोप्रोटीन एमिलॉयड को लक्षित कर सकते हैं। (IANS:TS)

Popular

स्टीवन स्मिथ भारत के खिलाफ सबसे तेजी से सबसे अधिक 8 शतक लगाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। स्मिथ ने सिडनी में जारी तीसरे टेस्ट मैच की पहली पारी में अपने करियर का 27वां शतक पूरा किया। यह भारत के खिलाफ उनका आठवां शतक है और इसके लिए स्मिथ ने सबसे कम 25 पारियां खेली हैं।

यह भी पढ़ें : हॉकी इंडिया इस साल कई टूर्नामेंट्स की मेजबानी के लिए तैयार

Keep Reading Show less

 न्यूजीलैंड क्रिकेट टीम आईसीसी टेस्ट रैंकिंग में पहली बार नंबर-1 टीम बनी है। न्यूजीलैंड ने पाकिस्तान को दो टेस्ट मैचों की सीरीज में 2-0 से मात दे कर यह मुकाम हासिल किया है। न्यूजीलैंड ने बुधवार को हेग्ले ओवल मैदान पर खेले गए पाकिस्तान को दूसरे टेस्ट मैच में पारी और 176 रनों से हराया।

केन विलियम्सन की कप्तानी वाली कीवी टीम के अब 118 अंक हो गए हैं और वह रैंकिंग में पहले नंबर पर पहुंच गई है। आस्ट्रेलियाई टीम दूसरे स्थान पर है। उसके 116 अंक हैं। भारत 114 अंकों के साथ तीसरे और इंग्लैंड 106 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है। दक्षिण अफ्रीका 96 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर है।

यह भी पढ़ें : विलियम्सन युवाओं के लिए सही आदर्श : लक्ष्मण

Keep Reading Show less

पूर्व अंपायर डार्ल हार्पर (Daryl Harper) ने कहा है कि निर्णय समीक्षा प्रणाली (डीआरएस) से अंपायर्स कॉल को हटा देना चाहिए क्योंकि यह अपनी शुरुआत से ही खिलाड़ियों और प्रशंसकों की लिहाज से विफल रहा है। हार्पर ने सिडनी मॉर्निग हेराल्ड से बात करते हुए कहा, “मैंने काफी अंपायर्स कॉल देखे हैं। इसे बैन कर देते हैं। इस विवाद से पीछा छुड़ाते हैं। गेंद का किसी भी तरह से स्टम्प्स से संपर्क गिल्लियों को उड़ा देगा, 48 प्रतिशत, 49 प्रतिशत नहीं।”

यह भी पढ़ें – Cricket : तमाम दर्द के बावजूद जाते-जाते जीत की राह दे गया 2020

Keep reading... Show less