Never miss a story

Get subscribed to our newsletter


×
मनोरंजन

राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार जीतने पर खुश हूं : बी प्राक

बी प्राक ने 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में अपने गीत 'तेरी मिट्टी' के लिए बेस्ट प्लेबैक सिंगर का खिताब जीता है।

गीत 'तेरी मिट्टी' के लिए बेस्ट प्लेबैक सिंगर का खिताब जीता है।(wikimedia commons)

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में कई प्रतिभाशाली लोगों को पुरस्कारों से नवाजा गया एसे में बी प्राक ने 67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों में अपने गीत 'तेरी मिट्टी' के लिए बेस्ट प्लेबैक सिंगर का खिताब जीता है। उन्होंने और भी विजेताओं के साथ इस पल को साझा किया है ये उनके लिए खास पल रहा। गायक ने अपनी बड़ी जीत के बारे में कहा, "यह साल बहुत अच्छा रहा है। लेकिन सबसे ज्यादा यह पुरस्कार जीतने का पल खास हैं। मैं बहुत खुश हूं। मुझे लगता है कि मैं बहुत खुशनसीब हूं कि हमने एक टीम के साथ ऐसा गीत बनाया जो हमारे राष्ट्र के लिए गौरव के साथ गूंजता है।"

साथ हि वह कहते हैं कि इस पल को वह कभी नहीं भूलेंगे। "आज का दिन मेरे करियर के लिए अनमोल दिन है उन्होंने कहा। हर कलाकार चाहता है कि उसकी सराहना की जाए और राष्ट्रीय पुरस्कार से बड़ा सम्मान कोई नहीं हो सकता।"

 \u092b\u093f\u0932\u094d\u092e \u0915\u0947\u0938\u0930\u0940 2019 की फिल्म केसरी का मुख्य आकर्षण था(wikimedia commons)




आप को बता दे कि तेरी मिट्टी बी प्राक के गीत को भारत के नागरिक बहुत उल्लास के साथ गाते हैं क्योंकि यह उन्हें देश की खातिर बलिदान हुए सैनिकों की याद दिलाता है। मनोज मुंतशिर द्वारा लिखा गया गाना और अरको द्वारा रचित 2019 की फिल्म केसरी का मुख्य आकर्षण था।

यह भी पढ़ें :परेश रावल : अश्लील कॉमेडी का समर्थन नहीं किया मैंने कभी भी

67वें राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कारों की घोषणा मार्च 2021 में की गई थी। हाल ही में उनका समापन किया गया क्योंकि उन्होंने हमारे सिनेमा में प्रतिभा को सम्मानित किया और उनका जश्न मनाया। आप को बता दे किबी प्राक के अलावा, मनोज बाजपेयी, रजनीकांत, धनुष, कंगना रनौत और विजय सेतुपति जैसे बड़े फिल्म कलाकारों को भारतीय सिनेमा में उनके काम के लिए सम्मानित किया गया है।(आईएएनएस-PS)

न्यूज़ग्राम के साथ Facebook, Twitter और Instagram पर भी जुड़ें!

Popular

दक्षिण कोरिया में एक पालतू जानवर में कोविड-19 संक्रमण का पहला मामला सामने आया है। यहां एक बिल्ली का बच्चा कोरोना पॉजिटिव पाया गया। बिल्ली के संक्रमित बच्चे की जांच गुरुवार को की गई, जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आई। सरकारी अधिकारियों के अनुसार, यह बिल्ली का बच्चा दक्षिण गियोंगसैंग प्रांत के दक्षिण पूर्वी शहर जिंजू में एक धार्मिक स्थल पर पाया गया था।

समाचार एजेंसी योनहप ने रविवार को प्रधानमंत्री चुंग सिय-क्यूएन के हवाले से कहा, “हाल ही में व्यापक प्रकोप से जुड़ी ट्रैकिंग प्रक्रिया के दौरान स्वास्थ्य अधिकारियों ने एक पालतू पशु के कोरोना पॉजिटिव होने का पहला मामला पाया।”इस महीने की शुरुआत में वहां गए 29 लोगों के संक्रमित होने की पुष्टि की गई थी। इन लोगों सहित 100 से अधिक लोग पॉजिटिव पाए गए।

Keep Reading Show less

By : अरुल लुइस 

अमेरिका के राष्ट्रपति पद के लिए चुने गए जो बाइडन ने शुक्रवार को स्वास्थ्य नीति विशेषज्ञ विदुर शर्मा को अपनी कोविड-19 रिस्पांस टीम के परीक्षण सलाहकार के रूप में नामित किया। शर्मा राष्ट्रपति के लिए चुने गए बाइडन और उपराष्ट्रपति के लिए चुनी गईं भारतीय मूल की कमला हैरिस के प्रशासन में एक प्रमुख पद के लिए नवीनतम भारतीय-अमेरिकी उम्मीदवार हैं। वह सर्जन जनरल-नॉमिनी विवेक मूर्ति और कोविड-19 टास्क फोर्स के सदस्य अतुल गवांडे और सेलीन गाउंडर जैसे कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई से जुड़े अन्य लोगों की सूची में शामिल होंगे। शर्मा पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा के प्रशासन में भी अहम जिम्मेदारी संभाल चुके हैं, जब बाइडन उपराष्ट्रपति थे।

यह भी पढ़ें : नितीश कुमार के चश्मे से देखिए राजगीर के वेणुवन और घोड़ाकटोरा पार्क की सुंदरता

Keep Reading Show less

यह देखते हुए कि भारत ने जुलाई तक 30 करोड़ लोगों का टीकाकरण करने का लक्ष्य रखा है, क्या देश इस लक्ष्य को पूरा करने के लिए पर्याप्त खुराक खरीद सकता है? 30 करोड़ लोगों का टीकाकरण करने के लिए, देश को 60 करोड़ खुराक की आवश्यकता होगी। जो दो टीके सरकार से अनुमोदन प्राप्त करने की दौड़ में सबसे आगे हैं, उन्हें सुरक्षा के लिए प्रति व्यक्ति दो खुराक की आवश्यकता होगी। ये दो टीके जिन्हें सरकार वर्तमान में मंजूरी देने पर विचार कर रही है, वे ‘कोविशिल्ड’ और ‘कोवैक्सीन’ हैं।

पुणे स्थित सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया ने क्लिनिकल परीक्षण करने और ‘कोविशिल्ड’ के निर्माण के लिए ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका के साथ भागीदारी की है, भारत बायोटेक ने ‘कोवैक्सीन’ के लिए भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (आईसीएमआर) के साथ सहयोग किया है। कोविशिल्ड के लिए स्वीकृति जल्द ही मिलने की उम्मीद है, क्योंकि केंद्रीय औषधि मानक नियंत्रण संगठन की विषय विशेषज्ञ समिति ने शुक्रवार को इसके आपातकालीन उपयोग की सिफारिश की थी।

Keep reading... Show less